सोनिया गांधी का केंद्र सरकार को करारा तमाचा, घर लौट रहे हर मजदूर के रेल टिकट का खर्च उठाएगी कांग्रेस

सोनिया गांधी का केंद्र सरकार को करारा तमाचा, घर लौट रहे हर मजदूर के रेल टिकट का खर्च उठाएगी कांग्रेस

Announcement of Sonia Gandhi, Congress will bear the cost of railway ticket for every worker returning home

नई दिल्ली, 04 मई 2020. देश भर में आज से लॉकडाउन-3 लागू हो गया है। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार को करारा तमाचा मारते हुए घोषणा की है कि कांग्रेस घर लौट रहे हर मजदूर के रेल टिकट का खर्च उठाएगी।

कांग्रेस के अधिकृत ट्विटर हैंडल से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का बयान ट्वीट किया गया है, जिसमें कहा गया है,

‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी व इस बारे जरूरी कदम उठाएगी.’

श्रीमती गांधी ने यह सवाल भी किया कि जब रेल मंत्रालय ‘पीएम केयर्स फंड’ में 151 करोड़ रुपये का योगदान दे सकता है, तो श्रमिकों को बिना किराये के यात्रा की सुविधा क्यों नहीं दे सकता?

उन्होंने एक बयान में कहा,

‘श्रमिक व कामगार देश की रीढ़ की हड्डी हैं। उनकी मेहनत और कुर्बानी राष्ट्र निर्माण की नींव है। सिर्फ चार घंटे के नोटिस पर लॉकडाउन करने के कारण लाखों श्रमिक व कामगार घर वापस लौटने से वंचित हो गए।’

कांग्रेस अध्यक्ष के मुताबिक, 1947 के बंटवारे के बाद देश ने पहली बार यह दिल दहलाने वाला मंजर देखा कि हजारों श्रमिक व कामगार सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल घर वापसी के लिए मजबूर हो गए. न राशन, न पैसा, न दवाई, न साधन, पर केवल अपने परिवार के पास वापस गांव पहुंचने की लगन।


हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner