Home » Latest » 8 बजे नहीं आज शाम 6 बजे प्रधानमंत्री मोदी देंगे राष्ट्र के नाम संदेश, क्या फिर बजवाएंगे ताली-थाली
Narendra Modi flute

8 बजे नहीं आज शाम 6 बजे प्रधानमंत्री मोदी देंगे राष्ट्र के नाम संदेश, क्या फिर बजवाएंगे ताली-थाली

At 6 pm today, Prime Minister Modi will give a message to the nation

नई दिल्ली, 20 अक्टूबर 2020. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को शाम छह बजे से राष्ट्र के नाम संदेश देंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोई अहम ऐलान करने के साथ देश की जनता को सुझाव दे सकते हैं। कोरोना के खिलाफ चल रही जंग को लेकर देश की जनता को अलर्ट करने की भी संभावना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, आज शाम 6 बजे राष्ट्र के नाम संदेश दूंगा। अपने देशवासियों से एक संदेश साझा करूंगा। आप जरूर जुड़ें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से राष्ट्र के नाम संदेश का विषय क्या होगा, इसको लेकर अटकलें लगने लगीं हैं। संभावना है कि प्रधानमंत्री मोदी कोरोना से जुड़े विषयों पर देश की जनता को संदेश दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री अपने संबोधन में आने वाले त्याहारों को लेकर जनता से सावधान रहने की अपील कर सकते हैं। हालांकि अभी तक रात्रि 8 बजे दिए जाने प्रधानमंत्री मोदी के राष्ट्र के नाम संदेश देश के लिए भयंकर संकट पैदा करने वाले रहे हैं। कोरोना प्रकोप के मामले में विश्वगुरू बनने की ओर बढ़ रहे भारत और अर्थव्यवस्था के गड्ढे में जाने के बाद अब देखना है अब श्री मोदी ताली-थाली का कौन सा नया टास्क दते हैं।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Demand for social audit and enactment of schemes run by TSP and SPSC in Jharkhand

झारखंड में टीएसपी व एसपीएससी द्वारा चलायी जा रही योजनाओं का सामाजिक अंकेक्षण व कानून बनाने की मांग

Demand for social audit and enactment of schemes run by TSP and SPSC in Jharkhand …

Leave a Reply