Home » Guest writer

Guest writer

“जय भीम” : जनसंघर्षों से ध्यान भटकाने का एक प्रयास

political prisoner

“जय भीम” फ़िल्म देख कर कम्युनिस्ट लोट-पोट क्यों हो रहे हैं? “जय भीम” फ़िल्म आजकल चर्चाओं में है। जो भी इस फ़िल्म को देख रहा है। वे सब अपने-अपने अंदाज में फ़िल्म की समीक्षा लिख रहे हैं। संशोधनवादी कम्युनिस्ट पार्टियां, जिनको किसी फिल्म में बस लाल झंडा दिख जाए या किसी दीवार पर पोस्टर या दराती-हथौड़ा का निशान दिख जाए, …

Read More »

पत्रकार सुरक्षित रहेंगे, तभी गणतंत्र सुरक्षित रहेगा

press freedom

Journalists will be safe only then the republic will be safe “पृथ्वी पर मीडिया का सबसे शक्तिशाली अस्तित्व है। उनके पास निर्दोष को अपराधी बनाने और दोषी को निर्दोष बनाने की शक्ति है, क्योंकि वे जनता के दिमाग को नियंत्रित करते हैं “- मैल्कम एक्स पत्रकारों की सुरक्षा क्यों जरूरी है? पत्रकारों की सुरक्षा कैसे? आज, पूरे विश्व में मीडिया …

Read More »

65 साल बाद भी जीवंत और प्रासंगिक बाबा साहब

dr. bhimrao ambedkar

Babasaheb still alive and relevant even after 65 years क्या सिर्फ दलितों के नेता थे डॉ. अंबेडकर? 1956 में आज ही के दिन – 6 दिसंबर को – नहीं रहे थे बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर; मगर कमाल ही है उनका व्यक्तित्व और कृतित्व, जिसके चलते वे आज साढ़े छः दशक बाद भी न सिर्फ जीवंत और प्रासंगिक है बल्कि …

Read More »

उत्तराखंड की राजधानी का प्रश्न : जन भावनाओं से खेलता राजनैतिक तंत्र

gairsain

Question of the capital of Uttarakhand: Political system playing with public sentiments उत्तराखंड आंदोलन की विशेषता उत्तराखंड आन्दोलन में तमाम खामियों के बावजूद एक बात जिसने मुझे बहुत प्रभावित किया वह था राजधानी का सवाल और ये इसलिए क्योंकि अन्य राज्यों में जहां राजधानियों के सवाल को लेकर लोग उस क्षेत्र के बड़े शहरों को लेकर आश्वस्त थे वहीं उत्तराखंड …

Read More »

वर्तमान में डॉ. आंबेडकर की राजनीति की प्रासंगिकता

dr. bhimrao ambedkar

Special article on 6th December Babasaheb Ambedkar’s Parinirvana Day Current relevance of Dr. Ambedkar’s politics पूना पैक्ट की पृष्ठभूमि (Background of Poona Pact) डॉ. अंबेडकर ने कहा था, “राजनीतिक सत्ता सब समस्यायों की चाबी है और दलित संगठित होकर सत्ता पर कब्ज़ा करके अपनी मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं।  राजनीतिक सत्ता का इस्तेमाल समाज के विकास के लिए करना चाहिए।“ …

Read More »

दुनिया का पहला जीवित रोबोट : विश्व मानवता को आसन्न खतरे

Science news

आधुनिकतम जेनोबोट्स और उनसे विश्व मानवता को आसन्न खतरे (Modern Xenobots and the Imminent Threat to World Humanity) जेनोबोट्स या Xenobot robot in Hindi | What are xenobots? दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों में शुमार अमेरिका के तीन विश्वविद्यालयों क्रमशः वर्मोंट विश्वविद्यालय, टफ्ट्स विश्वविद्यालय और हार्वर्ड विश्वविद्यालय के वायस इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल इंस्पायर्ड इंजीनियरिंग के शोध वैज्ञानिकों ने मिल-जुलकर एक …

Read More »

हंसी सबसे अच्छी दवा है : मुनव्वर फारूकी

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

स्टेंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी (Standup Comedian Munawwar Farooqui) बेंगलुरू में एक परोपकारी संस्था के लिए अपना शो करने वाले थे. पूरे टिकट बिक चुके थे. फिर आयोजकों को यह सूचना दी गई कि उन्हें कार्यक्रम रद्द करना होगा. और कार्यक्रम रद्द हुआ. पुलिस ने इसका कारण यह बताया कि फारूकी एक विवादास्पद व्यक्ति हैं और उनके शो से कानून-व्यवस्था की …

Read More »

मुनव्वर से बरास्ते वीर दास, कुणाल तक : गहरे होते अँधेरे, मुक़ाबिल होते उजाले

stand up comedians munawwar farooqui vir das and kunal kamra

पिछली सात साल में दो मामलों में मार्के का विकास हुआ है। एक; मोदी राज की उमर बढ़ी है, बढ़कर दूसरे कार्यकाल का भी आधा पूरा कर चुकी है। दो; रचनात्मकता को कुचल देने और सर्जनात्मकता को मार डालने की योजनाबद्ध हरकतें बढ़ते बढ़ते एक ख़ास नीचाई तक पहुँच गयी हैं। स्टैंड अप कॉमेडियन्स मुनव्वर फारूकी, वीर दास और कुणाल …

Read More »

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : संसद को आवारा होने से रोक दिया किसान आंदोलन ने

pm narendra modi

Farmers’ movement stopped Parliament from being a vagabond The Farm Laws Repeal Bill, 2021 के लोकसभा में पास होने के साथ ही आज देश के संसद में इतिहास बन गया, जब देश की सरकार को अपने बनाये गए तीन कृषि कानून वापिस लेने के लिए मज़बूर होना पड़ा। जी हां, यह बिल लोकसभा में बिना किसी चर्चा के पास हो …

Read More »

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : गाँव बसने से पहले ही आ पहुँचे उठाईगीरे

badal saroj

क़ानून वापसी के साथ-साथ कानूनों की पुनर्वापसी की जाहिर उजागर मंशा किसानों ने हठ, अहंकार और घमण्ड को चूर किया (Peasants crushed stubbornness, arrogance and pride) 19 नवम्बर की भाषणजीवी प्रधानमंत्री के तीनों कानूनों को वापस लेने की मौखिक घोषणा (Oral announcement to withdraw all three laws) पर कैबिनेट ने 5 दिन बाद 24 नवम्बर को मोहर लगाई और संसद …

Read More »

कोरोना ने बड़े पर्दे को किया किक आउट, ओटीटी की बल्ले-बल्ले

entertainment

Corona kicked out the big screen, OTT benefited सिनेमाघर बनाम ओटीटी प्लेटफॉर्म : क्या बड़े पर्दे की तरफ़ लौट पाएंगे दर्शक? सरदार उधम और जय भीम जैसी फिल्मों में ओटीटी पर रिलीज़ होने के बाद भी जिस तरह से सफलता पाई है, उसे देख अब फिल्मकारों का विश्वास ओटीटी पर ही बन गया है.          कोरोना की वज़ह से बड़े पर्दे …

Read More »

विश्व स्तर पर 99 प्रतिशत कोविड मामलों के लिए डब्ल्यूएचओ ने ठहराया डेल्टा वैरिएंट को जिम्मेदार

covid 19

Delta variant responsible for 99% of Covid cases globally: WHO नई, 29 नवंबर 2021: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि जहां नए ओमिक्रॉन कोविड स्ट्रेन के कारण दुनिया हाई अलर्ट पर है, वहीं डेल्टा वैरिएंट 99 फीसदी मामलों के साथ महामारी का एक प्रमुख कारण बना हुआ है। सार्स-सीओवी-2 के नए वैरिएंट (Omicron (B.1.1.529): SARS-CoV-2 Variant})  की हालिया …

Read More »

Zika virus : जानें कैसे फैलता है जीका वायरस, जानिए- लक्षण और बचाव

zika virus in hindi

चिंताजनक है जीका वायरस का हमला | Worrying is the attack of Zika virus in Hindi देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में भले ही लगातार कमी देखी जा रही है लेकिन पिछले कुछ महीनों से देश के कई राज्यों में डेंगू के बढ़ते मामलों के साथ कुछ दिनों से जीका वायरस ने भी नई चिंता को जन्म दिया है। …

Read More »

फिदेल कास्त्रो की माँ, धर्म और गरीबी

fidel castro

Fidel Castro’s Mother, Religion and Poverty फिदेल कास्त्रो से जुड़ी दिलचस्प बातें (Interesting facts about Fidel Castro in Hindi) धर्मसंबंधी निजी सवालों के उत्तर (Answers to Personal Questions About Religion) देते समय फिदेल कास्त्रो के अंदर कोई विभ्रम नजर नहीं आते फिदेल कास्त्रो को स्पष्टवादिता का संस्कार क्रांति से मिला। क्रांतिकारी होने के नाते वे हर बात को स्पष्ट ढंग …

Read More »

दक्षिण अफ़्रीका से रिपोर्ट हुए ‘ओमिक्रोन’ कोरोना वायरस के ज़िम्मेदार हैं अमीर देश

covid 19

Rich countries are responsible for ‘Omicron’ corona virus reported from South Africa जब तक दुनिया की सारी पात्र आबादी को कोविड वैक्सीन की पूरी खुराक (full dose of covid vaccine) समय-बद्ध तरीक़े से नहीं लग जाती तब तक कोरोना टीकाकारण से सम्भावित हर्ड इम्यूनिटी (सामुदायिक प्रतिरोधकता) नहीं उत्पन्न होगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन जो संयुक्त राष्ट्र की सर्वोच्च स्वास्थ्य एजेंसी है, …

Read More »

द साउंड ऑफ फ्रेंडशिप : वार्म वेवलेंथ इन ए कोल्ड, कोल्ड वॉर

literature and culture

भारत व रेडियो बर्लिन इंटरनेशनल के रिश्तों पर आधारित फिल्म ‘द साउंड ऑफ फ्रेंडशिप..’ के मुख्य किरदार अरविन्द श्रीवास्तव से एक साक्षात्कार -शहंशाह आलम आज समकालीन कविता के महत्वपूर्ण कवि अरविन्द श्रीवास्तव से मुलाकात और बातचीत इस अर्थ में भी महत्वपूर्ण है कि अभी 19 अक्टूबर को बर्लिन स्थित प्रसारण भवन ‘फंखाउस’ में भारत-जर्मन मित्रता (Indo-German friendship) और रेडियो बर्लिन …

Read More »

फादर स्टेन स्वामी जैसे शीला दीदी की भी जेल में संस्थागत हत्या की जा सकती है!

com shiela didi

नारी मुक्ति संघ की संस्थापक शीला दीदी को अविलंब और बिना शर्त रिहा करने की मांग Demand for immediate and unconditional release of Sheela Didi, the founder of Nari Mukti Sangh रांची से विशद कुमार. नारी मुक्ति संघ कोल्हान प्रमण्डल (झारखण्ड) की प्रवक्ता फूलो बोदरा ने एक प्रेस बयान जारी कर वृद्ध महिला नेत्री, वरिष्ठ नागरिक और नारी मुक्ति संघ …

Read More »

मोदीनगर नगर पालिका ने व्हिसल ब्लोअर की जान ही खतरे में डाल दी

opinion debate

मोदीनगर नगर पालिका ने अतिक्रमण मामले की शिकायतकर्ता की जान खतरे में डाली Modinagar municipality put the whistle blower’s life in danger मोदीनगर नगर पालिका और तत्कालीन अधिशासी अधिकारी ने अवैध अतिक्रमण मामले की शिकायतकर्ता की ही जान को जोखिम में डालकर, सूचना प्रदाता (व्हिसल ब्लोअर) संरक्षण अधिनियम, 2014, की अवहेलना कर दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर पालिका परिषद, …

Read More »

जानिए पीएम की बदनाम तीन किसान बिल वापसी की घोषणा का आंतरिक सत्य क्या है

the inner truth of pm's infamous three kisan bill withdrawal announcement

Farm laws explained: Know what is the inner truth of PM’s infamous Three Kisan Bill return announcement? कृषि कानून के वो कौन से विवाद थे कि मोदी सरकार की तपस्या फेल हो गई? नरेंद्र मोदी की मानसिकता जनविरोधी और किसान विरोधी है। आज 80 करोड़ लोग बिना खाए रहते हैं भारत में। आखिर क्यों वापस लिए गए कानून? नरेंद्र मोदी …

Read More »

लंबी दूरी वाले रिश्तों की कहानी :बड़े काम कर गई ‘मीनाक्षी सुंदरेश्वर’

film review

फिल्म रिव्यू : मीनाक्षी सुंदरेश्वर | Movie Review: Meenakshi Sundareshwar | Meenakshi Sundareshwar movie Netflix लीक से हटकर लिए गए डिजिटल इंडिया के लंबी दूरी वाले रिश्तों long distance relationship विषय पर बनी इस हल्की-फुल्की कॉमेडी फ़िल्म में महफ़िल लूट ले गई हैं सान्या मल्होत्रा. शुरुआत या अंत में आने वाली इंट्रो लाइनों के माध्यम से बहुत कम फिल्में कुछ …

Read More »

गुटनिरपेक्ष आंदोलन में जवाहरलाल नेहरू का योगदान

jawahar lal nehru

जानिए गुटनिरपेक्ष आंदोलन ने अंतर्राष्ट्रीय संबंधों को कैसे बदला? : भाग 1 Contribution of Jawaharlal Nehru in the Non-Aligned Movement उपनिवेशवाद और साम्राज्यवाद का संगठित विरोध (Organized opposition to colonialism and imperialism) 1920 के दशक के अंत में शुरू हुआ था। भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru, the first Prime Minister of India) ने गुटनिरपेक्ष आंदोलन के ज़रिए …

Read More »