Home » Latest » जीवाणु उपचार बच्चों के एक्जिमा में सुधार करता है : अध्ययन
Children's health

जीवाणु उपचार बच्चों के एक्जिमा में सुधार करता है : अध्ययन

Health Capsule| स्वास्थ्य कैप्सूल : Bacteria Treatment Improves Children’s Eczema

नई दिल्ली, 28 दिसंबर 2020. संयुक्त राज्य अमेरिका में हुए एक अध्ययन में एक्जिमा नामक एक त्वचा रोग वाले बच्चों को जीवित जीवाणुओं के साथ एक प्रयोगात्मक उपचार से लाभ हुआ। उपचार में तीन साल की उम्र के बच्चों में त्वचा के लक्षणों में सुधार हुआ।

Eczema can cause dry, itchy skin and rashes.

एक्जिमा के कारण सूखी, खुजली वाली त्वचा और चकत्ते हो सकते हैं। अध्ययनों से पता चला है कि बैक्टीरिया की तरह त्वचा पर रोगाणु, स्थिति में भूमिका निभा सकते हैं। एक्जिमा वाले लोगों में अक्सर स्वस्थ त्वचा वाले लोगों की तुलना में बैक्टीरिया का एक अलग संतुलन होता है।

एनआईएच न्यूज गन हेल्थ के ताजा अंक में प्रकाशित खबर के मुताबिक शोधकर्ताओं ने एक्जिमा के उपचार के रूप में जीवित जीवाणुओं का परीक्षण किया। उन्होंने त्वचा पर प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले रोज़ोमोनस म्यूकोसा (Roseomonas mucosa) नामक बैक्टीरिया का इस्तेमाल किया।

तीन से 16 साल तक की उम्र के बीस बच्चों को अध्ययन में शामिल किया गया था।

जीवित जीवाणुओं वाले एक सॉल्यूशन का उनकी त्वचा पर वहां छिड़काव किया गया जहां उनके एक्जिमा का एक पैच था। इसे तीन महीने के लिए दो बार साप्ताहिक रूप से लागू किया गया था। फिर, हर दूसरे दिन एक और महीने के लिए।

लगभग सभी बच्चों ने उपचार के बाद अपने लक्षणों में 50% से अधिक सुधार दिखाया। अधिकाँश को स्थिति का प्रबंधन करने के लिए सबसे कम दवा की आवश्यक थी। उन्होंने कम खुजली और जीवन की बेहतर गुणवत्ता की भी सूचना दी।

वैज्ञानिकों ने नमी में सील करने की त्वचा की क्षमता में सुधार पाया। उपचार से उन पदार्थों को बाहर रखने में भी मदद मिली जो एलर्जी का कारण बन सकते हैं।

एनएचएच के शोधकर्ता डॉ. इयान माइल्स, जो इस अध्यन का नेतृत्व कर रहे हैं, के मुताबिक, आर. म्यूकोसा चिकित्सा (R. mucosa therapy) के बाद अध्ययन में शामिल अधिकाँश बच्चों की त्वचा और उनके स्वास्थ्य में कुल मिलाकर अच्छी तरह से सुधार का अनुभव हुआ।

उत्साहजनक रूप से, बैक्टीरिया त्वचा पर बने रहे और थेरेपी बंद होने के बाद भी लाभ प्रदान करते रहे।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

yogi adityanath

उत्तर प्रदेश में कोरोना की स्थिति भयावह, स्थिति कंट्रोल करने में सरकार फेल

सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी ने दुर्व्यवस्था पर उठाए सवाल सरकार …

Leave a Reply