Home » Latest » हाथरस : अपने भतीजे को ग्राम प्रधानी भी न जिता पाए भाजपा विधायक
BJP Logo

हाथरस : अपने भतीजे को ग्राम प्रधानी भी न जिता पाए भाजपा विधायक

सिकंदराराऊ विधायक की खुली पोल

सिकंदराराऊ (हाथरस), 4 मई 2021. भाजपा विधायक वीरेंद्र सिंह राना व उनके दोनों पुत्रों द्वारा समर्थित गंभीर पट्टी बिसाना में प्रधान पद का प्रत्याशी विधायक भतीजा मोनू राना की करारी हार। 321 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर रहे विधायक भतीजा, 118 वोटों के अंतर से पूर्व एमएलसी डॉ राकेश सिंह राना समर्थित प्रत्याशी सतेंद्र राना की हुई जीत।

विधायक वीरेंद्र सिंह राना की जनता के बीच में छवि का जीता जागता उदाहरण है।

जिला हाथरस की विधानसभा क्षेत्र सिकंदराराऊ के भाजपा विधायक बिरेन्द्र सिंह राना ने अपने पैतृक ग्राम गंभीर पट्टी बिसाना के ग्राम प्रधान चुनाव को अपने प्रतिष्ठा का विषय बनाकर अपने भतीजे मानवेन्द्र राना उर्फ मोनू को चुनाव मैदान में उतारा। आरोप हैं कि विधायक जी ने ग्राम वासियों पे कई प्रकार का दबाव भी बनाया एवं प्रलोभन भी दिया। परंतु ग्राम गंभीर पट्टी बिसाना के मतदाताओं ने सारे दबाव व प्रलोभन को नकार कर विधायक जी के भतीजे को बुरी तरह से हराया व पूर्व एमएलसी डॉ राकेश सिंह राना समर्थित प्रत्याशी सतेंद्र राना को जिताने का काम किया।

rakesh singh rana
जिला हाथरस के ग्राम गंभीर पट्टी बिसाना के विजयी प्रधान सतेंद्र राना ने पूर्व एमएलसी डॉ राकेश सिंह राना के आवास पर आकर चुनाव में मदद के लिये धन्यवाद दिया एवं माला पहनाकर स्वागत किया।

जिला हाथरस के ग्राम गंभीर पट्टी बिसाना के विजयी प्रधान सतेंद्र राना ने पूर्व एमएलसी डॉ राकेश सिंह राना के आवास पर आकर चुनाव में मदद के लिये धन्यवाद दिया एवं माला पहनाकर स्वागत किया।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

farming

रासायनिक, जैविक या प्राकृतिक खेती : क्या करे किसान

Chemical, organic or natural farming: what a farmer should do? मध्य प्रदेश सरकार की असंतुलित …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.