Home » Latest » मप्र के भाजपा विधायकों ने नहीं मानी पीएम मोदी की सलाह, इकट्ठा होकर राजभवन पहुंचे
Narendra Modi new look

मप्र के भाजपा विधायकों ने नहीं मानी पीएम मोदी की सलाह, इकट्ठा होकर राजभवन पहुंचे

BJP MLAs from MP did not listen to PM Modi’s advice, gathered and reached Raj Bhavan

भोपाल, 16 मार्च 2020.  प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एक तरफ सार्क देशों के प्रमुखों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं, दूसरी तरफ उनकी पार्टी के ही विधायक कोरोना से लड़ने की पहली शर्त “एकत्र होना” का पालन नहीं कर रहे हैं। मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही कोरोना वायरस के चलते 26 मार्च तक स्थगित किए जाने के बाद भाजपा विधायक राजभवन पहुंचे हैं। भाजपा विधायक बस में सवार होकर राजभवन पहुंचे हैं।

PM Modi’s advice on corona virus

बता दें कि राज्य विधानसभा का बजट सत्र राज्यपाल लालजी टंडन के अभिभाषण के साथ शुरू हुआ। राज्यपाल ने अभिभाषण का एक पैरा ही पढ़ा। उसके बाद हंगामा हुआ तो कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित की गई। विधानसभा अध्यक्ष एन.पी. प्रजापति ने उसके बाद कोरोनावायरस को ध्यान में रखकर कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी।

Madhya Pradesh Public Relations Minister P.C. Sharma said that corona virus is epidemic

राज्य के जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी है, और इसी के चलते विधानसभा की कार्यवाही 26 तक के लिए स्थगित की गई है।

भाजपा ने विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए स्थगित किए जाने का विरोध किया है, और इसे लेकर भाजपा विधायक बस में सवार होकर राजभवन पहुंचे हैं। विधायकों का नेतृत्व पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव कर रहे हैं।

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …