‘हमारा गांव—हमारा बजट’ पर दो दिवसीय परिचर्चा

National News

रांची से विशद कुमार, 14 फरवरी 2020. झारखंड में आने वाला आगामी बजट (Upcoming budget in jharkhand) पर रांची के एचआरडीसी में सामाजिक संगठनों द्वारा दो दिवसीय परिचर्चा का आयोजन किया गया। इस परिचर्चा का आयोजन दलित आर्थिक अधिकार आंदोलन-एनसीडीएचआर और भोजन के अधिकार अभियान के द्वारा किया गया। परिचर्चा में झारखंड के विभिन्न जिलों

सार्वजनिक स्वास्थ्य तंत्र को कमजोर करेगा यह बजट 2020- जन स्वास्थ्य अभियान

Nirmala Sitharaman and Anurag Thakur

This budget 2020 will weaken the public health system – public health campaign भोपाल 07 फरवरी 2020. आज के समय में देश गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है और अत्यधिक बेरोजगारी, बढ़ती मंहगाई के समय में देश को यह उम्मीद की थी कि वर्ष 2020-21 के केंद्रीय बजट में सभी मुद्दों पर आवश्यक ध्यान

बजट 2020 : सत्ता के टुकड़ों पर पलने वाले लोग दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों से कितनी नफरत करते हैं

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

वित्त मंत्री और सरकार के आंकड़ों और जुमलों की बाजीगरी छोड़ दें। मीडिया के चीखने वाले हवा हवाई जड़ जमीन से कटे पत्रकारों को भी छोड़ें। नॉन ऑर्गेनिक जनविरोधी बुद्धिजीवी और खासकर अर्थशास्त्री अपनी विशेषज्ञता और भाषाई दक्षता से आम जनता और देश को गुमराह करने में किसी से पीछे नहीं हैं। सत्ता के टुकड़ों

मानव विकास सूचकांक : सबसे देश में सबसे पिछड़ा है आदिवासी और दलित

Budget 2020

टीएसपी और एससीएसपी अब जाने जायेंगे डेवल्पमेंट एरिया प्लान एसी और एसटी मानव विकास सूचकांक में सबसे देश में सबसे पिछड़ा है आदिवासी और दलित केंद्रीय बजट में आदिवासी व दलितों के लिए तीन प्रतिशत ही की गयी बढ़ोतरी रांची, 05 फरवरी 2020. आसन्न आर्थिक मंदी की पृष्ठभूमि में वित्त मंत्रालय ने एक फरवरी को

राहुल के डर से सीतारमण ने बजट में नहीं बताया रोजगार देने का आकंड़ा, राहुल बोले- डरिए मत वित्त मंत्री, जवाब दीजिए

Rahul Gandhi at Bharat Bachao Rally

Raising the issue of unemployment, former Congress President Rahul Gandhi has attacked the Modi government. नई दिल्ली, 03 फरवरी 2020. बेरोजगारी का मुद्दा उठाते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार देना सरकार की जिम्मेदारी है और इस जिम्मेदारी को निभाने में सरकार

अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर पीएम मोदी का वीडियो शेयर कर राहुल गांधी ने कसा तंज

Rahul Gandhi at Bharat Bachao Rally

Rahul Gandhi taunted by sharing video of PM Modi on the issue of economy नई दिल्ली, 02 फरवरी 2020. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी का एक वीडियो शेयर कर अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर तंज कसा है। उन्होंने वीडियो ट्वीट कर कहा, “प्रिय प्रधानमंत्री, कृपया अपने जादुई व्यायाम को कुछ और बार

बजट 2020 : कवि, जिनका निर्मला सीतारमण ने हवाला नहीं दिया

Justice Markandey Katju

Budget 2020 :  The poets Nirmala Sitharaman did not cite जस्टिस मार्कंडेय काटजू, (भारत के सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश) केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने हालिया बजट भाषण में कई कवियों – कश्मीरी कवि दीनानाथ कौल नदीम, तमिल कवि तिरुवल्लुवर, संस्कृत कवि कालिदास आदि को उद्धृत करते हुए अपने पांडित्य का शानदार प्रदर्शन किया

केंद्रीय बजट अर्थव्यवस्था में व्याप्त निराशा को बनाये रखने वाला : माले

CPI ML

CPI(ML) statement on Budget 2020 लखनऊ, 1 फरवरी। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) ने कहा है कि मोदी सरकार में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शनिवार को प्रस्तुत वर्ष 2020-21 के आम बजट से आर्थिक संकट से कोई निजात नहीं मिलने जा रही, क्योंकि यह बजट सरकार की उन्हीं नीतियों का जारी रूप है, जिनके

“बेहतर स्कूली शिक्षा हासिल करने की आम जनता की उम्मीदों से कोसों दूर बजट 2020-21”

Nirmala Sitharaman and Anurag Thakur

‘Union Budget 2020-21’ Fails Again to Address the Challenges of School Education Insufficient Allocation for Education shows “Government’s Shrinking Responsibility towards School Education and Implementation of RTE Act 2009. ”Only Digitization and online courses do not guarantee quality education, rather it widens the inequality”: Ambarish Rai, National Convener, RTE Forum सार्वजनिक शिक्षा की कमजोर बुनियाद

शुतुरमुर्ग प्रवृत्ति का बजट जो मूलभूत समस्याओं से मुंह छिपाता है – भूपेश बघेल

Bhupesh Baghel. (File Photo: IANS)

केन्द्रीय बजट 2020 पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रतिक्रिया Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel’s response to the Union Budget 2020 रायपुर/01 फरवरी 2020। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि केंद्र सरकार का यह बजट शुतुरमुर्ग प्रवृत्ति का है जो मूलभूत समस्याओं से मुंह छिपाकर ख़ुश होना चाहता है। केन्द्र सरकार