दिल्ली में एचआईवी-दवाओं की कमी : एचआईवी पीड़ित लोग अनिश्चितकालीन धरने पर

hiv aids

दिल्ली में एचआईवी-दवाओं की कमी : एचआईवी के साथ जीवित लोगों का धरना

नई दिल्ली, 23 जुलाई 2022 (बॉबी रमाकांत – सीएनएस). दिल्ली-स्थित सरकारी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था के कार्यालय (Delhi-based Office of the Government National AIDS Control Society) के बाहर, अनेक एचआईवी के साथ जीवित लोगों (people living with HIV) ने 21 जुलाई 2022 से अनिश्चितक़ालीन धरना आरम्भ कर दिया है। देश में अनेक स्थानों पर, पिछले 5-6 महीनों से ‘दाउलतग्रविर (dolutegravir) एंटीरेट्रोवाइरल दवा (antiretroviral medication) और बच्चों की एचआईवी दवाओं की कमी (Shortage of children’s HIV drugs) बनी हुई है। इसीलिए एचआईवी के साथ जीवित लोगों की माँग है कि एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की आपूर्ति ऋंखला दुरुस्त हो और भविष्य में जीवनरक्षक दवाओं की कमी न हो पाए।

हरी शंकर सिंह जो दिल्ली नेटवर्क ओफ़ पॉज़िटिव पीपल (डीएनपी प्लस) से जुड़े हुए हैं, ने सीएनएस (सिटिज़न न्यूज़ सर्विस) से साक्षात्कार में कहा कि धरना तब तक जारी रहेगा जब तक सरकारी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था दवाओं की कमी को दूर करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाती, और विभिन्न प्रदेशों में उनके नेटवर्क के सदस्य यह पुष्टि नहीं करते कि पर्याप्त दवाएँ पुन: उपलब्ध हो गयी हैं।

क्या होती हैं एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ

एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ जीवनरक्षक (lifesaving drugs) हैं, और जीवनभर बिना-नागे लेनी होती हैं। यदि एचआईवी के साथ जीवित लोग इन दवाओं का नियमित सेवन करेंगे और उनका वाइरल लोड नगण्य रहेगा, तब ही वह सामान्य जीवनयापन कर सकेंगे, स्वस्थ रहेंगे और संक्रमण फैलना का ख़तरा भी नगण्य रहेगा।

डीएनपी प्लस के मनितोष जो 2013 से एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ ले रहे हैं, ने कहा कि अनेक प्रदेशों में एचआईवी दवाओं की कमी पाँच-छह महीनों से बनी हुई है। दिल्ली में अनेक एंटीरेट्रोवाइरल दवा केंद्रों में सिर्फ़ तीन से सात दिन तक की खुराक वितरित हो रही है। जबकि कुछ ऐसे केंद्र हैं जहां दवा बची ही नहीं है।

हरी शंकर सिंह ने भी दोहराया कि दिल्ली के अनेक अस्पतालों में दवाएँ कम हैं। इसीलिए लोगों को सिर्फ़ तीन-चार दिन की दवाएँ दी जा रही हैं, जिसके कारण लोगों को मजबूरन खुराक लेने के लिए बार-बार अस्पताल का चक्कर लगाना पड़ रहा है। लोगों को एक माह की खुराक मिलनी चाहिए। बार-बार अस्पताल की दौड़ में उनका आवागमन में अनावश्यक व्यय हो रहा है, दिहाड़ी और रोज़गार का नुक़सान हो रहा है, समय बर्बादी हो रही है, और जो लोग इसको झेलने में असमर्थ हैं वह दवाएँ लेना बंद करने के लिए विवश हैं जो अत्यंत दुखद है।

हरी शंकर सिंह ने स्पष्ट रूप से कहा कि पिछले पाँच महीनों में सरकारी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था के अधिकारियों के साथ अनेक बैठकें हुईं, पर दवाओं की कमी को कम करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया जिसके कारण स्थिति और संगीन बनी। इसीलिए एचआईवी के साथ जीवित लोगों के समुदाय ने मजबूरन, अनिश्चितक़ालीन धरना करने की ठानी जिससे कि सरकारी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था दवाओं की आपूर्ति ऋंखला तुरंत मज़बूत करें और लोगों को बिना नागे कम-से-कम महीने भर की खुराक मिल सके जिससे कि वह स्वस्थ रहें।

धरने के पहले दिन भी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था के अधिकारियों ने धरने पर बैठे लोगों से वार्ता की और जो कदम उन्होंने दवाओं की कमी दूर करने के लिए उठाए हैं, उनसे साझा किए पर एचआईवी के साथ जीवित लोग सरकारी बयान से संतुष्ट नहीं हुए। सरकारी अधिकारों और प्रतिनिधियों ने कहा कि दवाओं की आपूर्ति करने के लिए टेंडर निकाले जा चुके हैं, सबसे कम क़ीमत की बोली लगाने की प्रक्रिया चल रही है, और केंद्रीय सरकारी संस्था ने राज्यों के सरकारी एड्स नियंत्रण संस्था या एंटीरेट्रोवाइरल उपचार केंद्र को निर्देश दिए हैं कि वह फ़िलहाल दवाओं की ख़रीद कर ले। पर जो लोग धरने पर हैं वह इन बातों और आश्वासन से संतुष्ट नहीं हुए।

शरीर में मौजूद एचआईवी वाइरस कैसे नियंत्रित होगा?

डीएनपी प्लस के हरी शंकर सिंह ने कहा कि जो एचआईवी वाइरस उनके शरीर में है वह सरकारी आश्वासन से नहीं नियंत्रित होगा बल्कि एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं से नियंत्रित होगा। इसीलिए वह सिर्फ़ आश्वासन से संतुष्ट नहीं हैं बल्कि ठोस कार्रवाई के बाद ही धरना ख़त्म करने के पक्ष में हैं।

वरिष्ठ एचआईवी अधिकार कार्यकर्ता और एचआईवी के साथ जीवित लोगों के राष्ट्रीय संगठन (एनसीपीआई प्लस) से जुड़ी मोना बलानी ने कहा कि वह 22 सालों से एचआईवी के साथ ज़ी रही हैं और पिछले 14 सालों से एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं पर हैं।

उन्होंने बताया कि न सिर्फ़ एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की कमी हो गयी है बल्कि अनेक जगह पर एचआईवी परीक्षण की किट की कमी है, सीडी4 परीक्षण में इस्तेमाल होने वाले रिएजेंट की भी कमी है।

मोना बलानी ने सवाल उठाया कि एक ओर सरकार यह दावा कर रही है कि 95-95-95 लक्ष्यों को पूरा करेगी, यानी कि 95% लोगों को एचआईवी जाँच मिलेगी जिससे कि उनको अपने एचआईवी पॉज़िटिव होने की जानकारी मिले, इनमें से 95% को एंटीरेट्रोविरल दवा मिलेगी और इनमें से 95% का वाइरल लोड नगण्य होगा। पर जब एचआईवी परीक्षण किट की कमी होगी और दवाएँ नहीं मिलेंगी तो यह लक्ष्य कैसे पूरे होंगे?

लव लाइफ़ सुसाइटी के विजय सिंह ने कहा कि एक ओर सरकार यह कहती है कि एचआईवी के साथ जीवित लोग एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ बिना नागे के नियमित रूप से लें और दूसरी ओर बारम्बार दवाओं की कमी हो जाती है और दवाएँ अनुपलब्ध हो जाती हैं – ऐसे में कैसे लोग दवाएँ नियमित रूप से लेंगे?

मोना बलानी ने सही कहा कि सबके लिए नियमित दवाएँ जो वह माँग रही हैं वह उनका संविधानिक अधिकार है, अपने स्वास्थ्य की देखभाल करना, स्वस्थ रहना उनका मानवाधिकार है।

साहिल जो ओम् प्रकाश पॉज़िटिव नेटवर्क के अध्यक्ष हैं और 13 साल की उम्र से एचआईवी के साथ जीवित हैं, ने भी मोना बलानी की बात का समर्थन किया कि वह धरने के ज़रिए दवाएँ अधिकार-स्वरूप माँग रहे हैं।

एचआईवी के साथ जीवित लोगों के राष्ट्रीय संगठन (एनसीपीआई प्लस) से जुड़ी साधना जादोन, 2003 से एचआईवी के साथ जीवित हैं। उन्होंने कहा कि न सिर्फ़ वयस्क लोग दवाओं की कमी से परेशान हैं बल्कि बच्चों तक की एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की कमी हो गयी है। इन एचआईवी पॉज़िटिव बच्चों के माता-पिता या अभिभावक अस्पताल के चक्कर लगा रहे हैं। अपना काम-धंधा छोड़ कर उनको बारम्बार अस्पताल जाना पड़ता है जिससे कि बच्चों की दवाएँ मिल सकें, भले ही चंद दिनों की खुराक मिले। हर एचआईवी के साथ जीवित व्यक्ति को कम-से-कम महीने भर की एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की खुराक तो मिलनी ही चाहिए और दवाओं की कमी तो कदापि नहीं होनी चाहिए।

साधना जादोन ने प्रश्न उठाया कि एक ओर सरकार कह रही है कि ‘लोस्ट टू फ़ॉलो अप’ कम हो, दूसरी ओर सरकार दवाओं की आपूर्ति ऋंखला दुरुस्त नहीं कर रही है जिसके कारण मजबूरन लोगों को इलाज बाधित करने के लिए विवश होना पड़ रहा है। ‘लोस्ट टू फ़ॉलो अप’ यानी कि जो लोग इलाज बीच में छोड़ देते हैं (एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ लेना छोड़ देते हैं), उनको पुन: नियमित दवाएँ लेने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए और जिस कारण वह दवाएँ नहीं ले पा रहे थे उन समस्याओं का निवारण होना चाहिए।

डीएनपी प्लस के जय प्रकाश ने कहा कि सरकार उनसे सवाल पूछती है कि ‘लोस्ट टू फ़ॉलो अप’ की संख्या क्यों बढ़ रही है और एचआईवी समुदाय, उन लोगों को पुन: नियमित इलाज में वापस लाए जो लोग इलाज छोड़ देते हैं। पर क्या सरकार अपना काम ठीक से कर रही है?दवाओं की आपूर्ति ऋंखला क्यों बाधित हो रही है? यदि सरकार अपना दायित्व निष्ठा और समर्पण के भाव से निभाएगी तो दवाओं की कमी कैसे हो सकती है? पिछले 5-6 महीने में एचआईवी समुदाय ने सरकारी प्रतिनिधियों के साथ अनेक बार मिल कर बैठक करी, ईमेल करी, फ़ोन वार्तालाप कर निवेदन किया कि एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की कमी हो रही है पर समस्या ज्यों की त्यों बनी रही। कुछ लोगों को घर के बर्तन आदि तक बेच कर निजी वर्ग से दवाएँ ख़रीदनी पड़ी हैं।

जय प्रकाश ने कहा कि वह भीख नहीं माँग रहे हैं बल्कि अपना अधिकार माँग रहे हैं कि उनको जीवनरक्षक दवाएँ नियमित मिलें।

लव लाइफ़ सुसाइटी की प्रिया ने सीएनएस (सिटिज़न न्यूज़ सर्विस) से कहा कि राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संस्था की एक ज़िम्मेदारी यह भी है कि एंटीरेट्रोवाइरल दवाओं की आपूर्ति ऋंखला दुरुस्त रहे और दवाओं की कमी नहीं होने पाए। सरकारी संस्था को अपना कार्य तो ज़िम्मेदारी से करना चाहिए।

भारत में अनुमानित है कि 21 लाख से अधिक लोग एचआईवी के साथ जीवित हैं। इनमें से लगभग 14 लाख लोगों को एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ मिल रही हैं जो जीवनरक्षक हैं। परंतु यदि एड्स के उन्मूलन का सपना साकार करना है तो यह आवश्यक है कि सभी एचआईवी पॉज़िटिव लोगों को यह ज्ञात हो कि वह एचआईवी के साथ जीवित हैं, उन्हें नियमित एंटीरेट्रोवाइरल दवाएँ मिल रही हों और उनका वाइरल लोड नगण्य रहे जिससे कि वह स्वस्थ रहें और भरपूर ज़िंदगी जी सकें, और किसी अन्य को संक्रमण भी न फैले। परंतु दवाओं की कमी होती रहेगी तो यह सपने कैसे पूरे होंगे?

सिटिज़न न्यूज़ सर्विस)

People on indefinite strike due to SHORTAGE of HIV medicines

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 21 जुलाई 2022 की खास खबर

breaking news today top headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस | Top headlines of India today. Today’s big news 21 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

ईडी ने सोनिया गांधी को 25 जुलाई को पूछताछ के लिए फिर बुलाया

नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से तीन घंटे पूछताछ करने के बाद, अब उन्हें 25 जुलाई को दुबारा पूछताछ के लिए बुलाया है।

सोनिया गांधी से ईडी की पूछताछ के विरोध में यूथ कांग्रेस ने दिल्ली में कई ट्रेनों को रोका

सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ के विरोध में युवा कांग्रेस ने आज दिल्ली में शिवाजी ब्रिज रेलवे स्टेशन पर कई ट्रेनों को रोका।

बूस्टर डोज के बाद भी ओमिक्रॉन की गंभीरता का जोखिम दोगुना कर सकता है हाई बीपी : शोध

एक नए शोध में निष्कर्ष निकाला गया है कि उच्च रक्तचाप रहने से कोविड के टीकों की बूस्टर खुराक लेने के बावजूद ओमिक्रॉन-वेरिएंट के संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम दोगुना से अधिक हो जाता है।

एक मार्च, 2021 तक केंद्र सरकार में नौ लाख से अधिक पद खाली पड़े थे

केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में 9 लाख से अधिक पद एक मार्च, 2021 तक खाली पड़े थे। सरकार की तरफ से यह राज्यसभा को जानकारी दी गई।

भारत में कोविड-19 के 21,566 नए मामले दर्ज, 45 मौतें

भारत में गुरुवार को बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 21,566 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह आंकड़ा बुधवार को सामने आए 20,557 से ज्यादा है।

केंद्र ने तेलंगाना में चावल खरीद अभियान को बहाल किया

केंद्र सरकार ने निर्णय किया है कि केंद्रीय हिस्से (एफसीआई और डीसीपी के अंतर्गत राज्य द्वारा) के मद्देनजर तेलंगाना में चावल खरीद अभियान को बहाल कर दिया जाये। उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण, वाणिज्य और उद्योग तथा कपड़ा मंत्री पियूष गोयल ने मीडिया कर्मियों को सम्बोधित करते हुये यह बात कही।

हिमाचल में किसानों, सेब उत्पादकों ने किया प्रदर्शन

किसान संगठनों और सेब उत्पादकों ने संयुक्त किसान मंच (एसकेएम) के बैनर तले हिमाचल प्रदेश में कई जगहों पर प्रदर्शन किया और सेब की पैकेजिंग के लिए इस्तेमाल होने वाले बॉक्स पर जीएसटी दर में कटौती की मांग की।

कर्नाटक, मणिपुर और चंडीगढ़ नीति आयोग के इंडिया इनोवेशन इंडेक्स 2021 में शीर्ष पर

कर्नाटक, मणिपुर और चंडीगढ़ ने नीति आयोग के इंडिया इनोवेशन इंडेक्स के तीसरे संस्करण में अपनी-अपनी श्रेणियों में शीर्ष स्थान हासिल किया है।

सूचकांक आज नीति आयोग के उपाध्यक्ष सुमन बेरी ने सदस्य डॉ. वी. के. सारस्वत, सीईओ परमेश्वरन अय्यर और वरिष्ठ सलाहकार नीरज सिन्हा और प्रतिस्पर्धात्मकता संस्थान के अध्यक्ष डॉ. अमित कपूर की उपस्थिति में जारी किया गया।

म्यांमार में बढ़ रहा डेंगू बुखार, सामने आए 7,835 मामले, 31 लोगों की मौत

म्यांमार में 2022 की पहली छमाही में डेंगू बुखार के 7,835 मामले दर्ज किए गए और 31 लोगों की मौत हुई है।

इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्रागी ने दिया इस्तीफा

गठबंधन सरकार को बहाल करने में विफल रहने के बाद आज इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी ने आधिकारिक रूप से इस्तीफा दे दिया। 17 महीने के कार्यकाल के बाद उनकी सरकार गिर गई।

दक्षिण पश्चिम फ्रांस में जंगल की आग से 36,000 लोग हुए बेघर

दक्षिण-पश्चिमी फ्रांस में जंगल में भीषण आग लगने के कारण पिछले एक सप्ताह में कम से कम 36,000 लोग अपने घर से निकल गए हैं। साथ ही 20,600 हेक्टेयर जमीन आग की चपेट में आ गई है।

ताइपे ओपन 2022: क्वार्टर फाइनल में पहुंचे कश्यप

राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता पारुपल्ली कश्यप ताइपे ओपन 2022 में क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली, जबकि प्रियांशु राजावत, मिथुन मंजूनाथ और किरण जॉर्ज पुरुष एकल के दूसरे दौर में हारकर बाहर हो गए।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 19 जुलाई 2022 की खास खबर

headlines breaking news

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस | Top headlines of India today. Today’s big news 19 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

विपक्ष के विरोध के चलते राज्यसभा दिनभर के लिए स्थगित

जीएसटी, महंगाई, अग्निपथ और अन्य मुद्दों पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्षी सदस्यों के विरोध प्रदर्शन के बाद मंगलवार को राज्यसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई।

हरियाणा : खनन माफिया ने नूंह में डीएसपी को डंपर से कुचलकर मार डाला

हरियाणा के नूंह जिले में खनन माफिया ने डीएसपी रैंक के एक पुलिस अधिकारी की डंपर से कुचलकर हत्या कर दी।

नूपुर शर्मा को सर्वोच्च न्यायालय से बड़ी राहत, 10 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पैगंबर मोहम्मद साहब के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी मामले में सर्वोच्च न्यायालय से राहत मिली है।

भीमा कोरेगांव मामला : वरवर राव की रेगुलर बेल याचिका पर 10 अगस्त को सर्वोच्च न्यायालय में सुनवाई

सर्वोच्च न्यायालय ने भीमा कोरेगांव मामले में आरोपी सुप्रसिद्ध साहित्यकार पी. वरवर राव की गिरफ्तारी पर रोक बढ़ा दी और अगली सुनवाई 10 अगस्त को निर्धारित की है।

अमित शाह पर ट्वीट मामले में फिल्म निर्माता अविनाश दास को गुजरात पुलिस ने हिरासत में लिया

गृह मंत्री अमित शाह की फोटो गिरफ्तार अधिकारी पूजा सिंघल के साथ शेयर करने मामले में गुजरात पुलिस ने फिल्म निर्माता अविनाश दास को हिरासत में लिया है। गुजरात पुलिस ने मुंबई से अविनाश दास को हिरासत में लिया है। उन्होंने अमित शाह की एक तस्वीर पूजा सिंघल के साथ ट्विटर पर पोस्ट की थी।

शिवसेना में संघर्ष का नया अध्याय लोकसभा पहुंची पार्टी की जंग

एकनाथ शिंदे ने शिवसेना पर दावा ठोकते हुए लोकसभा अध्यक्ष के सामने 12 सांसदों की परेड करा दी। शिंदे का दावा है कि शिवसेना के 19 में से 18 सांसदों का समर्थन उनके पास है। इधर, मुंबई में उद्धव ठाकरे ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है।

जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह (जेएनपीसीटी) का संचालन पीपीपी मोड में होगा

जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह (जेएनपीसीटी) देश का पहला ऐसा बंदरगाह बन गया है, जिसके बुनियादी ढांचे पर बंदरगाह प्राधिकरण का शत प्रतिशत मालिकाना हक है तथा प्राधिकरण के नियमों का ही पालन किया जायेगा; परिचालन पीपीपी आधार पर होगा।

जेएनपीसीटी की क्षमता 1.5 मिलियन टीईयू से बढ़कर 1.8 मिलियन टीईयू हो जायेगी।

गुजरात पुलिस ने चाइल्ड पोर्नोग्राफी रैकेट का भंडाफोड़ कर एक गिरफ्तार किया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जामनगर पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर राज्य की राजधानी गांधीनगर से चलाए जा रहे एक अंतर्राष्ट्रीय चाइल्ड पोर्नोग्राफी रैकेट का भंडाफोड़ करने का दावा किया है।

स्पेन में लू लगने से 510 लोगों की मौत

 स्पेन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश के कुछ हिस्सों में हीट वेब चलने और पारा 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने पर भीषण गर्मी और लू लगने से 510 लोगों की मौत हो गई।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने वैश्विक खाद्य संकट को लेकर किया मदद का आह्वान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने चल रहे वैश्विक खाद्य संकट का समाधान करने के लिए साहसिक और समन्वित प्रतिक्रिया का आह्वान किया है।

अमेरिका में 2022 में 6 लाख से अधिक बच्चे कोविड-19 से हुए संक्रमित : रिपोर्ट

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स (एएपी) और चिल्ड्रन हॉस्पिटल एसोसिएशन की ताजा रिपोर्ट में बताया गया है कि अमेरिका में 2022 में अब तक 60 लाख से ज्यादा बच्चे कोविड-19 से संक्रमित हुए हैं। पिछले चार हफ्तों में लगभग 287,000 मामले सामने आए हैं।

इजराइल में बेकाबू हुआ मंकीपॉक्स, 100 के पार पहुंचे मामले

इजराइल में मंकीपॉक्स के कुल मामले 100 के पार पहुंचे गए हैं। पिछले एक सप्ताह में 35 नए मामले सामने आए हैं, जिससे यह आंकड़ा बढ़कर 101 हो गया है। इसकी जानकारी काउंटी के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने एक बयान में दी।

हांग्जो में 23 सितंबर, 2023 से शुरू होंगे एशियन गेम्स

एशियाई गेम्स 2022 को चीन में मौजूदा कोविड-19 स्थिति के कारण स्थगित कर दिया गया था, लेकिन अब 23 सितंबर से 8 अक्टूबर, 2023 तक हांग्जो में आयोजित किया जाएगा।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 18 जुलाई 2022 की खास खबर

breaking news today top headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस | Top headlines of India today. Today’s big news 18 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

केरल में मंकीपॉक्स का एक और मामला मिला, राज्य में अब तक दो संक्रमित

Monkeypox Cases In India: भारत में मंकीपॉक्स के दूसरे मामले की आज पुष्टि हुई है। दूसरा केस भी केरल में ही मिला है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केरल के कन्नूर में इसकी पुष्टि हुई है। विदेश से केरल पहुंचे युवक को मंकीपॉक्स से संक्रमित होने के संदेह में कन्नूर के परियाराम मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था।

Madhya Pradesh Bus Accident: धार में इंदौर-पुणे बस नर्मदा नदी में गिरी, 13 लोगों की मौत

मध्य प्रदेश के धार जिले के खलघाट में एक महाराष्ट्र परिवहन की बस नर्मदा नदी में जा गिरी, इस हादसे का शिकार बने 13 यात्रियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। राहत और बचाव कार्य जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए जांच के आदेश दिए हैं। मिली जानकारी के अनुसार, इंदौर से पुणे की ओर यात्री बस जा रही थी, इसी दौरान यह बस खरगोन-धार के बीच खलघाट क्षेत्र में नर्मदा नदी में अनियंत्रित होकर गिर गई। इस हादसे में 13 यात्रियों की मौत हुई है। इनके शव भी बरामद कर लिए गए हैं। वहीं कई लापता हैं। इसके लिए राहत और बचाव का कार्य जारी है।

मोहम्मद जुबैर को सर्वोच्च न्यायालयसे राहत, UP पुलिस को 5 FIR पर कार्रवाई नहीं करने का आदेश

सर्वोच्च न्यायालय ने यूपी पुलिस को ऑल्टन्यूज के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर के खिलाफ 20 जुलाई तक 5 प्राथमिकी में, जब अदालत मामलों को रद्द करने की उनकी याचिका पर विचार करेगी, कोई भी कार्रवाई नहीं करने का निर्देश दिया।

तमिलनाडु में 12वीं की छात्रा की आत्महत्या मामला : शव के दोबारा पोस्टमॉर्टम के आदेश

Kallakurichi Student Death: प्राप्त जानकारी के अनुसार  मद्रास हाईकोर्ट ने 13 जुलाई को एक निजी स्कूल के छात्रावास की तीसरी मंजिल से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या करने वाली 12वीं कक्षा की छात्रा के पिता की शिकायत के बाद दोबारा पोस्टमॉर्टम का आदेश दिया।

महाराष्ट्र : अब उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले शिवसेना के 14 विधायकों ने सर्वोच्च न्यायालय में अयोग्यता नोटिस को दी चुनौती

सर्वोच्च न्यायालय सोमवार को उद्धव ठाकरे के 14 शिवसेना विधायकों द्वारा दायर याचिका को दसवीं अनुसूची के तहत “अवैध” अयोग्यता कार्यवाही शुरू करने को चुनौती देने के लिए सहमत हो गया।

उपराष्ट्रपति चुनाव : जगदीप धनखड़ ने किया नामांकन

राजग के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ ने आज अगले महीने होने वाले चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह और नितिन गडकरी समेत अन्य नेता मौजूद रहे।

भारत में कोविड-19 के 16,935 नए मामले, 51 मौतें

सोमवार को बीते 24 घंटे के दौरान भारत में कोरोना वायरस के 16,935 नए मामले दर्ज किए गए। यह आंकड़ा रविवार को सामने आए 20,528 की तुलना में कम है।

अंडर आर्मर ने गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा को ब्रांड एंबेसडर बनाया

वैश्विक एथलेटिक प्रदर्शन ब्रांड अंडर आर्मर के भारतीय वितरक ‘अंडरडॉग एथलेटिक्स’ ने टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मैडल जीतने वाले एथलीट नीरज चोपड़ा को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।

भारतीय महिला हॉकी टीम बार्सिलोना से राष्ट्रमंडल गेम्स के लिए लंदन रवाना

गोलकीपर सविता पुनिया के नेतृत्व में भारतीय महिला हॉकी टीम बार्सिलोना से लंदन के लिए रवाना हो गई है।

वर्ल्ड प्लास्टिक सर्जरी डे : जानिए क्या है प्लास्टिक सर्जरी और कॉस्मेटिक सर्जरी

Senior Plastic Cosmetic Surgeon in Delhi/NCR Dr Mukesh Kumar

वर्ल्ड प्लास्टिक सर्जरी डे कब मनाया जाता है?

गाजियाबाद, 17 जुलाई 2022. वर्ल्ड प्लास्टिक सर्जरी डे (world plastic surgery day in Hindi) हर साल 15 जुलाई को मनाया जाता है. समय के साथ प्लास्टिक सर्जरी और कॉस्मेटिक सर्जरी का चलन बढ़ा है.

प्लास्टिक सर्जरी और कॉस्मेटिक सर्जरी में अंतर

इन्फेक्शन, कैंसर, एक्सिडेंट, जलने या अन्य किसी कारण से शरीर के अंगों को हुए नुकसान पर प्लास्टिक सर्जरी की जाती है, वहीं कॉस्मेटिक सर्जरी का उद्देश्य (purpose of cosmetic surgery) अंगों की सुंदरता को निखारना होता है. महिलाएं अपने स्तन, नाक और पलकों की सर्जरी करवाती हैं। अब भारत में भी यह चलन बढ़ता जा रहा है। साथ ही बढ़ती उम्र की झुर्रियां दूर करने के लिए भी कॉस्मेटिक सर्जरी की जाती है।

बीती 15 जुलाई को प्लास्टिक सर्जरी डे के मौके पर यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी गाजियाबाद में हॉस्पिटल के वरिष्ठ प्लास्टिक कॉस्मेटिक सर्जन डॉक्टर मुकेश कुमार (Senior Plastic Cosmetic Surgeon in Delhi/NCR Dr Mukesh Kumar) द्वारा शनिवार 16 जुलाई को एक निशुल्क परामर्श शिविर लगाया गया। शिविर में 25 मरीजों को निशुल्क परामर्श दिया गया।

डॉ मुकेश कुमार ने बताया कि प्लास्टिक या कॉस्मेटिक सर्जरी के बारे में लोगों ने जानकारी हासिल की। कैंप में आये मरीजों में हेयर फॉल की समस्या भी पाई गई।

डॉ मुकेश ने बताया हेयर फॉल के लिए बहुत ही आधुनिकतम तरीके से हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी भी की जाती है जिसमें पीआरपी विधि बहुत ही प्रचलित है तथा इसका 99% तक सकारात्मक रिजल्ट रहता है।

लोगों को एब्डोमिनोप्लास्टी (abdominoplasty) से पेट को सही आकार में लाने के लिए सर्जरी के लिए भी जागरूक किया गया।

एब्डोमिनोप्लास्टी किसके लिए लाभप्रद है?

एब्डोमिनोप्लास्टी (abdominoplasty)  में अतिरिक्त चर्बी और त्वचा को निकालकर शेप देन की कोशिश की जाती है। गर्भावस्था के बाद पेट को सही आकार में लाने के लिए महिलाएं यह सर्जरी करवाती हैं। यह सर्जरी उन लोगों पर सफल होती हैं, जिनके पेट में ज्यादा चर्बी नहीं है, लेकिन त्वचा लटक रही है।

राइनोप्लास्टी सर्जरी क्यों की जाती है?

वर्ल्ड प्लास्टिक सर्जरी डे के अवसर पर जागरूक करते हुए डॉ मुकेश ने बताया कि नाक की खूबसूरती के लिए राइनोप्लास्टी सर्जरी की जाती है। नाक चपटी या सामान्य से बड़ी होने पर लोग इस सर्जरी का सहारा लेते हैं। महिलाएं सुंदर दिखने के लिए नाक तीखी करवाती हैं। 

Monkeypox in India : सामने आया मंकीपॉक्स का संदिग्ध मामला, सरकार ने जारी की गाइडलाइन

monkeypox symptoms in hindi

मंकीपॉक्स पर अपडेट : Monkeypox Outbreak update

केरल में सामने आया मंकीपॉक्स का संदिग्ध मामला, जांच के लिए भेजा गया सैंपल, जानिए मंकीपॉक्स वायरस से बचने के उपाय

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा है कि राज्य में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मामला सामने आया है और सैंपल को एनआईवी पुणे प्रयोगशाला भेजा गया है।

मंकीपॉक्स (एमपीएक्स) एक तीव्र वायरल बीमारी है और इसके मामले वर्तमान में दुनिया भर में बड़ी संख्या में हैं। संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए इसके लक्षणों को समझना और सुरक्षात्मक उपायों का पालन करना आवश्यक है।

Monkeypox Cases in India : मंकीपॉक्स को लेकर क्या-क्या हैं गाइडलाइंस?

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (Union Ministry of Health and Family Welfare) ने मंकीपॉक्स पर गाइडलाइन जारी की है।

उससे पहले भी मंत्रालय (Union Ministry of Health and Family Welfare) ने मंकीपॉक्स रोग का प्रबंधन करने पर राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पिछले दिनों दिशानिर्देश जारी किए थे। मंकीपॉक्स पर स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन (Health Ministry’s guideline on monkeypox) के अनुसार – नैदानिक नमूनों को इंटीग्रेटेड डिसीज सर्विलांस प्रोग्राम (आईडीएसपी) नेटवर्क के माध्यम से पुणे स्थित एनआईवी में जांच के लिए भेजा जाएगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गैर-स्थानीय देशों में मंकीपॉक्स (एमपीएक्स) के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए, मंकीपॉक्स का प्रबंधन करने के लिए एक सक्रिय और जोखिम-आधारित दृष्टिकोण अपनाने तथा पूरे देश में अग्रिम रूप से तैयारी सुनिश्चित करने के लिए आज ‘मंकीपॉक्स रोग का प्रबंधन करने के लिए दिशानिर्देश’ जारी किया है। ये मंकीपॉक्स पर सरकार के दिशा-निर्देश केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

मंकीपॉक्स वायरस के मामले की पुष्टि कैसे की जाती है ? | How is a case of monkeypox virus confirmed?

स्वास्थ्य मंत्रालय दिशानिर्देशों के अनुसार, पोलीमरेज़ चेन रिएक्शन (polymerase chain reaction पीसीआर) और/या सीक्वेंसिंग के माध्यम से वायरल डीएनए के युनिक सीक्वेंसिंग का पता लगाकर मंकीपॉक्स वायरस के मामलों की पुष्टि की जाती है। सभी नैदानिक नमूनों को संबंधित जिलों/राज्यों के इंटीग्रेटेड डिसीज सर्विलांस प्रोग्राम (आईडीएसपी) नेटवर्क के माध्यम से आईसीएमआर-एनआईवी (पुणे) की शीर्ष प्रयोगशाला में लेकर जाना आवश्यक है।

मंकीपॉक्स रोग का प्रबंधन करने के लिए जारी किए गए दिशानिर्देशों (Guidelines issued to manage monkeypox disease) में जानपदिक रोग विज्ञान (मेजबान, इनक्यूबेशन अवधि, संचार अवधि और संचरण का तरीका सहित संपर्क और मामलों की परिभाषाएं; नैदानिक विशेषताएं और इसकी जटिलता, निदान, मामलों का प्रबंधन, जोखिम संचार, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों का उपयोग सहित संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण (आईपीसी) पर दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

जारी किए गए दिशानिर्देशों में प्रकोप की रोकथाम करने के लिए प्रमुख सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों के रूप में नए मामलों की निगरानी करने और तीव्र पहचान करने पर बल दिया गया है, जिससे रोग का व्यक्ति से व्यक्ति में संचरण होने के जोखिमों में कमी लाने की आवश्यकता को अनिवार्य किया गया है।

यह संक्रमण रोकथाम और नियंत्रण (आईपीसी) उपायों, घर पर आईपीसी, रोगी का आइशोलेशन और एम्बुलेंस ट्रांसफर रणनीतियों, अतिरिक्त सावधानियों के बारे में बताया गया है, जिनमें आइशोलेशन प्रक्रियाओं और समय का ध्यान रखने की आवश्यकता होती है।

दिशानिर्देशों के अनुसार, संक्रामक अवधि के दौरान किसी भी रोगी या उसकी दूषित सामग्री के साथ संपर्क में आने वाले व्यक्ति की निगरानी दैनिक रूप से 21 दिनों के लिए (मामले की परिभाषा के अनुसार) की जाएगी, जिससे उसमें रोग के संकेतों/ लक्षणों की शुरुआत की जानकारी प्राप्त की जा सके।

ये दिशानिर्देश जोखिम संचार और निवारक उपायों के अंतर्गत जोखिम कारकों के संदर्भ में जागरूकता फैलाने, लोगों को जागरूक करने और उन्हें मंकीपॉक्स वायरस से बचने के उपायों (ways to avoid monkeypox virus) के संदर्भ में विस्तृत जानकारी प्रदान करते हैं जैसे कि बीमार व्यक्ति के किसी भी सामग्री के संपर्क में आने से बचना, संक्रमित रोगी को आइसोलेशन में रखना, अपने हाथों की अच्छी तरह से सफाई करना और रोगियों की देखभाल करते समय उपयुक्त व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) का उपयोग करना आदि।

मंकीपॉक्स रोग के बारे में कई मध्य और पश्चिमी अफ्रीकी देशों में स्थानिक महामारी के रूप में रिपोर्ट किया गया है जिसमें कैमरून, मध्य अफ्रीकी गणराज्य, आइवरी कोस्ट, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य, गैबॉन, लाइबेरिया, नाइजीरिया, कांगो गणराज्य, और सिएरा लियोन जैसे देश शामिल हैं। हालांकि, गैर-स्थानीय देशों जैसे अमरीका, यूनाइटेड किंगडम, बेल्जियम, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड्स, पुर्तगाल, स्पेन, स्वीडन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, ऑस्ट्रिया, इस्राइल, स्विटजरलैंड आदि में भी इस रोग के मामले सामने आए हैं।

‘मंकीपॉक्स’ का खतरा! क्या है मंकीपॉक्स वायरस? जानिए लक्षण और बचाव

कोरोना की संक्रमण क्षमता कम करने के लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजा नया तंत्र

COVID-19 News, कोविड-19 समाचार, COVID-19 News in Hindi, covid-19 की ताज़ा खबरे हिन्दी में, Covid 19 India की ताज़ा ख़बर, Latest coronavirus News in Hindi, covid 19 india News in Hindi,

Scientists develop novel mechanism to inactivate SARS-CoV-2 by blocking their entry to cells & reducing infection ability

नई दिल्ली, 16 जुलाई: भारतीय शोधकर्ताओं ने सिंथेटिक पेप्टाइड्स (Synthetic Peptides) के एक नये वर्ग की संरचना का खुलासा किया है। यह पेप्टाइड संरचना, कोविड-19 के लिए जिम्मेदार कोरोना वायरस (SARS-CoV-2) के कोशिकाओं में प्रवेश को बाधित करने के साथ-साथ वायरॉन्स (Virions) को जोड़ सकती है, जिससे उनकी संक्रमित करने की क्षमता कम हो सकती है।

वायरॉन या विरिअन क्या होता है?

वायरॉन या विरिअन (Virion in Hindi) संपूर्ण वायरस कण को कहते हैं, जिसमें आरएनए या डीएनए कोर होता है। वायरॉन के बाहरी आवरण के साथ प्रोटीन की परत होती है, जो वायरस का बाह्य संक्रामक रूप होता है।

कोरोना वायरस के नये रूपों के तेजी से उभरने से कोविड-19 टीकों द्वारा दी जाने वाली सुरक्षा कम हो जाती है, जिससे वायरस संक्रमण रोकने के नये तरीके खोजना आवश्यक हो जाता है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि इस अध्ययन से उभरा नया दृष्टिकोण SARS-CoV-2 जैसे वायरस को निष्क्रिय करने के लिए एक वैकल्पिक तंत्र प्रदान करता है, जिससे पेप्टाइड्स के एक नये वर्ग को एंटीवायरल के रूप में विकसित करने का मार्ग प्रशस्त हो सकता है।

किसी प्रोटीन का दूसरे प्रोटीन की पारस्परिक क्रिया प्रायः कुंजी और ताले के समान होती है। इस परस्पर क्रिया को सिंथेटिक पेप्टाइड द्वारा बाधित किया जा सकता है, जो नकल करता है, प्रतिस्पर्धा करता है, और ‘कुंजी’ को ‘लॉक’ के साथ, या फिर इसके विपरीत बाधित होने से रोकता है।

बेंगलुरु स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc) के वैज्ञानिकों ने सीएसआईआरमाइक्रोबियल प्रौद्योगिकी संस्थान (CSIR-Institute of Microbial Technology) के शोधकर्ताओं के सहयोग से पेप्टाइड्स को डिजाइन करने के लिए इस दृष्टिकोण का उपयोग किया है, जो SARS-CoV-2 की सतह पर स्पाइक प्रोटीन को बाँध और अवरुद्ध कर सकता है।

इस बंधन को क्रायो-इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोपी (क्रायो-ईएम) और अन्य बायोफिजिकल विधियों द्वारा बड़े पैमाने पर प्रस्तुत किया गया है।

Coronavirus CDC
Coronavirus. Photo credit- CDC

शोध पत्रिका नेचर केमिकल बायोलॉजी में प्रकाशित यह अध्ययन, भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के वैधानिक निकाय विज्ञान और इंजीनियरी अनुसंधान बोर्ड (SERB) की उच्च प्राथमिकता वाले क्षेत्र में गहन अनुसंधान (IRHPA) नामक पहल पर आधारित है।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा इस संबंध में जारी एक वक्तव्य में बताया गया है कि विकसित किये गए पेप्टाइड्स सर्पिलाकार (हेलिकल) और हेयरपिन जैसे आकार में हैं, और इनमें प्रत्येक अपनी तरह के दूसरे स्वरूप के साथ जुड़ने में सक्षम हैं, जिसे डाइमर के रूप में जाना जाता है। प्रत्येक डाइमेरिक ‘बंडल’ दो लक्ष्य अणुओं के साथ परस्पर क्रिया के लिए दो सतहों को प्रस्तुत करता है। शोधकर्ताओं का अनुमान था कि ये दोनों सतहें दो अलग-अलग लक्ष्य प्रोटीनों से बंधी हैं, और एक जटिल संजाल में बाँधने के बाद लक्ष्य की कार्रवाई को अवरुद्ध कर सकती हैं।

एंजियोटेंसिन-कन्वर्टिंग एंजाइम-2 क्या है?

अपनी अवधारणा की पुष्टि के लिए शोधकर्ताओं ने एसआईएच-5 नामक पेप्टाइड के उपयोग (Use of a peptide called SIH-5,) से मानव कोशिकाओं में SARS-CoV-2 रिसेप्टर (SARS-CoV-2 receptor in human cells,), जो एंजियोटेंसिन-कन्वर्टिंग एंजाइम-2 (ACE2) नामक प्रोटीन है, के स्पाइक (एस) प्रोटीन के बीच परस्पर क्रिया को लक्षित किया है। ACE2 न केवल एक एंजाइम है, बल्कि कोशिका की सतहों पर एक कार्यात्मक रिसेप्टर भी है, जिसके माध्यम से SARS-CoV-2 मेजबान कोशिकाओं में प्रवेश करता है।

एस प्रोटीन क्या है?

‘एस’ प्रोटीन एक त्रितय (Trimer) अर्थात – तीन समान पॉलीपेप्टाइड्स का एक मिश्रण है। प्रत्येक पॉलीपेप्टाइड में एक रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन (आरबीडी) होता है, जो मेजबान कोशिका की सतह पर ACE2 रिसेप्टर को बांधता है। यह अंतःक्रिया कोशिका में वायरल प्रवेश का मार्ग प्रशस्त करता है। एसआईएच-5 पेप्टाइड को मानव ACE2 के लिए आरबीडी के बंधन को अवरुद्ध करने के लिए डिजाइन किया गया है। जब एक एसआईएच-5 डाइमर को किसी ‘एस’ प्रोटीन का सामना करना पड़ता है, तो उसकी एक सतह ‘एस’ प्रोटीन ट्राइमर पर तीन आरबीडी में से एक से कसकर बंधी होती है, और उसकी दूसरी सतह किसी भिन्न ‘एस’ प्रोटीन आरबीडी से बंधी होती है। यह परस्पर आबद्धता (क्रॉस-लिंकिंग) एसआईएच-5 को एक ही समय में दोनों ‘एस’ प्रोटीन को बाँधने (ब्लॉक करने) की अनुमति देती है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि एसआईएच-5 विभिन्न वायरस कणों से स्पाइक प्रोटीन को क्रॉस-लिंक करके उस वायरस को कुशलतापूर्वक निष्क्रिय कर सकता है।

शोधकर्ताओं ने प्रयोगशाला में स्तनधारी कोशिकाओं में विषाक्तता के लिए पेप्टाइड का परीक्षण किया, और इसे सुरक्षित पाया है।

शोधकर्ताओं का मानना है कि मामूली संशोधनों और पेप्टाइड इंजीनियरिंग के साथ यह लैब-निर्मित मिनी-प्रोटीन अन्य प्रकार के प्रोटीन-प्रोटीन के बीच परस्पर अंतःक्रिया (इंटरैक्शन) को भी रोक सकता है।

इस अध्ययन से जुड़े शोधकर्ताओं में भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc) के भवेश खत्री, इशिका प्रमाणिक, एस.के. मल्लादी, आरएस राजमणि, पी. घोष, एन. सेनगुप्ता, आर. वरदराजन, एस. दत्ता एवं जे. चटर्जी के साथ सीएसआईआर-सूक्ष्मजीव प्रौद्योगिकी संस्थान के आर. रहीसुद्दीन, एस. कुमार, एन. कुमार, एस. कुमारन शामिल आर.पी. रिंगे शामिल थे।

(इंडिया साइंस वायर)

Indian scientists discovered a new mechanism to reduce the infection capacity of corona

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 14 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines this night

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस | Top headlines of India today. Today’s big news 14 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

कोविड-19 से संक्रमित एम.के. स्टालिन अस्पताल में भर्ती

प्राप्त जानकारी के अनुसार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन मंगलवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं। स्टालिन को आगे की जांच के लिए चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यूपी की अदालत ने जुबैर को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

उत्तर प्रदेश की एक स्थानीय अदालत ने ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

यूजीसी ने डिस्लेक्सिया ग्रस्त छात्रों को बराबरी का अवसर देने के लिए जारी की नई गाइडलाइन

डिस्लेक्सिया से ग्रस्त छात्रों के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने एक गाइडलाइन जारी की है। यूजीसी की नई गाइडलाइंस के मुताबिक अगर छात्र डिस्लेक्सिया अर्थात अक्षर भ्रम की बीमारी से ग्रस्त है तो परीक्षा में ऐसे छात्रों के लिए विशेष इंतजाम किए जाने चाहिए।

केरल में सामने आया मंकीपॉक्स का संदिग्ध मामला, जांच के लिए भेजा गया सैंपल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा है कि राज्य में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मामला सामने आया है और सैंपल को एनआईवी पुणे प्रयोगशाला भेजा गया है।

छत्तीसगढ़ में एक्सट्रा ज्युडिशियल हत्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने जांच की मांग ठुकराई

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में 2009 में आदिवासियों की कथित तौर पर एक्सट्रा ज्युडिशियल हत्या के मामले में सुरक्षा बलों के खिलाफ निष्पक्ष जांच की मांग करने वाले गांधीवादी कार्यकर्ता हिमांशु कुमार की याचिका को सर्वोच्च न्यायालय ने आज खारिज कर दिया। शीर्ष अदालत ने हिमांशु कुमार पर 5 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

24 घंटों में भारत में कोविड-19 के 20,139 नए मामले आए, 38 मौतें

पिछले 24 घंटों में भारत में कोविड-19 के 20,139 नए मामले सामने आए हैं, जो पिछले दिन की 16,906 की संख्या से काफी अधिक है।

बिहार के पूर्व मंत्री रमई राम का निधन, नीतीश ने जताया शोक

 बिहार के पूर्व मंत्री रमई राम का गुरुवार को पटना के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वे लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और नीतीश कुमार मंत्रिमंडल में अलग अलग विभागों का दायित्व संभाल चुके थे। उनके निधन पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक जताया है।

वेस्टइंडीज टी20 के लिए भारतीय टीम घोषित

वेस्टइंडीज के खिलाफ 29 जुलाई से त्रिनिदाद में शुरू होने वाली टी20 सीरीज के लिए भारत ने 18 सदस्यीय टीम का ऐलान किया है। विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल को आराम दिया गया है।

ट्विटर ने नई कस्टम-बिल्ट टाइमलाइन्स का परीक्षण शुरू किया

माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने एक संभावित नई सुविधा ‘कस्टम-बिल्ट टाइमलाइन’ का परीक्षण शुरू कर दिया है, जिसकी शुरुआत सबसे पहले द बैचेलोरेट पर केंद्रित है।

श्रीलंका के बाद मालदीव छोड़कर गोटाबाया सिंगापुर के लिए हुए रवाना

मालदीव से सिंगापुर पहुंचे गोटाबाया, प्रदर्शनकारियों ने खाली किया राष्ट्रपति भवन। कोलंबो की सड़कों पर घूम रहे टैंक।

पोषण और फिजिकल एक्टिविटी के बारे में कुछ मिथक

healthy lifestyle

Some Myths about Nutrition & Physical Activity

स्वस्थ रहने के लिए व्यायाम करना या शारीरिक गतिविधि/ फिजिकल एक्टिविटी (Physical Activity) करना जरूरी समझा जाता है। लेकिन फिजिकल एक्टिविटी को लेकर कई भ्रम हैं मसलन् मुझे कितना और किस प्रकार का व्यायाम करना चाहिए?  क्या बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करके मैं अपने जोड़ों को नुकसान पहुंचाऊंगा? शारीरिक गतिविधि तभी ठीक रखती है जब आप इसे लंबे समय तक करते हैं। क्या आप भी दैनिक निर्णयों से परेशान रहते हैं कि फिट रहने के लिए क्या करना चाहिए, और स्वस्थ रहने के लिए आपको कितनी शारीरिक गतिविधि की आवश्यकता है? शारीरिक गतिविधियों की दैनिक आवश्यकता में लगने वाला कम से कम समय कितना होना चाहिए? यदि हां, तो निराश न हों क्योंकि आप अकेले नहीं हैं। इतने सारे विकल्पों और निर्णयों के साथ, यह जानना कठिन हो सकता है कि क्या करना है और किस जानकारी पर आप भरोसा कर सकते हैं।

यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेज (U.S. Department of Health and Human Services) के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डायबिटीज एंड डाइजेस्टिव एंड किडनी डिजीज (National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases -NIDDK) पर उपलब्ध जानकारी आपको अपने शारीरिक गतिविधि की आदतों में बदलाव करने में मदद कर सकती है ताकि आप अपनी भलाई में सुधार कर सकें और स्वस्थ वजन तक पहुंच सकें या मेंटेन रख सकें।

कुछ शारीरिक गतिविधि मिथक (Spme Physical Activity Myth)

मिथक : शारीरिक गतिविधि (फिजिकल एक्टिविटी) तभी मायने रखती है जब आप इसे लंबे समय तक करते हैं।

तथ्य : अमेरिकियों के लिए शारीरिक गतिविधि दिशानिर्देशों (Physical Activity Guidelines for Americans) में अनुशंसित नियमित शारीरिक गतिविधि की मात्रा प्राप्त करने के लिए आपको लंबे समय तक सक्रिय रहने की आवश्यकता नहीं है, जो कि मध्यम-तीव्रता वाली शारीरिक गतिविधि के लिए हर हफ्तेकम से कम 150 मिनट या 2 घंटे 30 मिनट है। मध्यम-तीव्रता वाली गतिविधि का एक उदाहरण तेज चलना है। आप इन सत्रों को पूरे सप्ताह में बांट सकते हैं और यहां तक कि सप्ताह में 5 या अधिक दिनों में दिन में 3 बार 10 मिनट की छोटी गतिविधि भी कर सकते हैं।

सुझाव : NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि अपनी दिनचर्या में कम समय में शारीरिक गतिविधि करने के तरीके खोजें। काम के दौरान अगर काम और शेड्यूल अनुमति देता है तो 10 मिनट का ब्रेक लें या “बैठने” के बजाय पैदल “चलें” । लिफ्ट या एस्केलेटर की जगह सीढ़ियों का इस्तेमाल करें। बस से एक स्टॉप जल्दी उतरें। भोजन के बाद टहलने के बजाय किसी मित्र से मिलें।

मिथक : वजन उठाना (वेट लिफ्टिंग) आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने या वजन कम करने का एक अच्छा तरीका नहीं है क्योंकि यह आपको “बल्क अप” कर देगा।

तथ्य : सप्ताह में 2 या 3 दिन वेट लिफ्टिंग या अन्य गतिविधियाँ करना, जो आपको मजबूत मांसपेशियों के निर्माण में मदद कर सकती हैं, जैसे कि पुश-अप्स और कुछ प्रकार के योग, आपको बल्क नहीं करेंगे। केवल कुछ जीनों के साथ गहन शक्ति प्रशिक्षण बड़ी मांसपेशियों का निर्माण कर सकता है। अन्य प्रकार की शारीरिक गतिविधियों की तरह, मांसपेशियों को मजबूत करने वाली गतिविधियाँ आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करेंगी और ऊर्जा को जलाने वाली मांसपेशियों की मात्रा को बढ़ाकर आपके वजन को नियंत्रित करने में भी मदद कर सकती हैं।

सुझाव : NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि बड़े रबर बैंड, या रेजिस्टेंस बैंड का उपयोग करना, या सिट-अप्स या घर या यार्ड के काम करना जो आपको उठाने या खोदने में मदद करते हैं, आपको मजबूत मांसपेशियों के निर्माण में मदद कर सकते हैं।

बस बैठें नहीं ! Don’t just sit there!

आजकल लोग बैठने में बहुत समय बिताते हैं फिर चाहे वह डेस्क पर काम करते हुए हो या कारों में, और कंप्यूटर, टीवी और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के सामने। NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि उठने और इधर-उधर घूमने से अपने बैठने के समय को तोड़ें, भले ही वह एक बार में केवल 10 मिनट के लिए ही क्यों न हो। वे घूमने के 10 मिनट आपकी फिजिकल एक्टिविटी के दिनों और हफ्तों में जुड़ जाएंगे।

(नोट : यह खबर किसी भी परिस्थिति में चिकित्सकीय सलाह नहीं है। यह समाचारों में उपस्थित सूचनाओं के आधार पर जनहित में एक अव्यावसायिक जानकारी मात्र है। किसी भी चिकित्सा सलाह के लिए योग्य व क्वालीफाइड चिकित्सक से संपर्क करें। स्वयं डॉक्टर कतई न बनें।)

यह भी पढ़ें – वजन कम करने के बारे में कुछ मिथक

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 13 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 13 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप ने खींची ब्रह्मांड की सबसे गहरी तस्वीर

नासा के जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप ने अंतरिक्ष में ऐसी नर्सरी खोजी है, जहां तारों का निर्माण हो रहा है। साथ ही यहां अंतरिक्ष के पहाड़ और घाटियां भी दिख रही हैं। ये सभी के सभी कैरीना नेबुला में देखे गए हैं। यह पहली बार है किइतनी स्पष्ट तस्वीर सामने आई हैं।

श्रीलंका संकट : राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने देश छोड़ा, आपातकाल की घोषणा के बाद हंगामा

भारत ने मीडिया में आयी उन खबरों को ‘‘निराधार और कयास आधारित’’ बताया कि उसने श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के देश छोड़कर मालदीव जाने में मदद की है। श्रीलंका में भारतीय उच्चायोग ने ट्वीट किया, ‘‘उच्चायोग मीडिया में आयी उन खबरों को ‘निराधार तथा महज अटकल’ के तौर पर खारिज करता है कि भारत ने गोटबाया राजपक्षे को श्रीलंका से बाहर जाने में मदद की।’’

अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटेन की स्पेशल फ़ोर्स ने निहत्थे लोगों को मारा

बीबीसी की एक जांच में ये बात सामने आई है कि अफ़ग़ानिस्तान में काम कर रही ब्रिटेन की एक सैन्य यूनिट SAS ने हिरासत में लिए गए कई निहत्थे लोगों की हत्या की है.

एक झटके में 75 अरब डॉलर गंवा बैठे एलन मस्क

टेस्ला के शेयर डूबे। दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क की दौलत 75 अरब डॉलर घटी।

75 दिनों के लिए मुफ्त कोविड बूस्टर खुराक प्रदान करेगी केंद्र सरकार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने घोषणा की है कि केंद्र सरकार 15 जुलाई से 75 दिवसीय विशेष अभियान के तहत सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर 18-59 आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड टीकों की मुफ्त बूस्टर खुराक उपलब्ध कराएगी।

तेलंगाना में बारिश से बिगड़े हालात, स्कूलों की छुट्टियां 16 जुलाई तक बढ़ाई गईं

तेलंगाना के कुछ हिस्सों में आज भी लगातार बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। कई गांव और कस्बे बाढ़ के पानी में डूब गए हैं। इस बीच तेलंगाना सरकार ने लगातार भारी बारिश को देखते हुए राज्य के सभी शैक्षणिक संस्थानों की छुट्टियां आगामी 16 जुलाई तक बढ़ा दी हैं।

संसद का मानसून कांग्रेस ने 17 जुलाई को बुलाई विपक्षी दलों की बैठक, शिवसेना को भी भेजा गया न्यौता

 संसद का मानसून सत्र आगामी 18 जुलाई से शुरू होने वाला है। इसके मद्देनजर कांग्रेस नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार को घेरने के लिए रणनीति तैयार कर रही है। मानसून सत्र को लेकर 17 जुलाई को विपक्षी पार्टियों की बैठक बुलाई गई है।

फिर डरा रहा भारत में कोरोना : एक दिन में 16,906 नए मामले, 45 मौतें

भारत में बीते 24 घंटों में कोरोनावायरस के 16,906 मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि एक दिन पहले ये आंकड़ा 13,615 था।

मणिपुर में बढ़ते कोविड मामलों के बीच 24 जुलाई तक बढ़ायी गई स्कूलों की छुट्टियां

राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए मणिपुर सरकार ने सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां आगामी 24 जुलाई तक बढ़ा दी हैं।

16 जुलाई को बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 16 जुलाई को उत्तर प्रदेश में 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे।

14 अगस्त से पुणे में होगा शुरू अल्टीमेट खो-खो का पहला सीजन

अल्टीमेट खो-खो का पहला सीजन आगामी14 अगस्त को पुणे में शुरू होगा, जहां छह टीमें प्रतिस्पर्धा करेगी, जिसका समापन आगामी 4 सितंबर को खिताबी मुकाबले के साथ होगा।

आईसीसी वनडे गेंदबाजी रैंकिंग में जसप्रीत बुमराह टॉप पर पहुंचे

भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने द ओवल में मंगलवार को पहले वनडे मैच में इंग्लैंड को 10 विकेट से हराने के लिए 19 रन देकर 6 विकेट लिए, जिससे वह आईसीसी वनडे गेंदबाजी रैंकिंग में टॉप पर पहुंच गए।

ओप्पो इंडिया ने की 4389 करोड़ रुपये की सीमा शुल्क चोरी !

वित्त मंत्रालय के अनुसार मैसर्स ओप्पो मोबाइल्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (बाद में ‘ओप्पो इंडिया‘ के नाम से चर्चित), “ग्वांगडोंग ओप्पो मोबाइल टेलीकम्युनिकेशन्स कॉरपोरेशन लिमिटेड”, चीन (बाद में ‘ओप्पो चीन’ के नाम से चर्चित) की एक सहायक कंपनी की जांच के दौरान, राजस्व गुप्तचर निदेशालय (डीआरआई) ने लगभग 4,389 करोड़ रुपये की सीमा शुल्क चोरी का पता लगाया है। ओप्पो इंडिया पूरे भारत में निर्माण, कलपुर्जे जोड़ने, खुदरा व्यापार, मोबाइल हैंडसेट और एक्सेसरीज के वितरण के कारोबार में लगी हुई है। ओप्पो इंडिया मोबाइल फोन के विभिन्न ब्रांडों- ओप्पो, वनप्लस और रियलमी में डील करता है।

वजन कम करने के बारे में कुछ मिथक

healthy lifestyle

पोषण और फिजिकल एक्टिविटी के बारे में कुछ मिथक | Some Myths about Nutrition & Physical Activity

बदलती आधुनिक जीवन शैली, भागदौड़ भरी ज़िंदगी और जीवन के जद्दोजहद के बीच मोटापा एक समस्या बनता जा रहा है। एक खबर के मुताबिक भारत में लगभग तीन करोड़ लोग मोटापे से पीड़ित हैं। आज के समय में प्रत्येक पांच में से तीन व्यक्ति मोटापे का शिकार हैं। मोटापा दुनिया भर में एक प्रमुख स्वास्थ्य समस्या बन चुका है, जो अब एक महामारी का आकार ले रहा है। डब्ल्यूएचओ की मोटापा संबंधित फैक्टशीट के मुताबिक अधिक वजन और मोटापा से दुनिया में “कम वजन” की तुलना में अधिक मौतें होती हैं। दुनिया भर में कम वजन वाले लोगों की तुलना में ऐसे लोगों की संख्या अधिक हैं जो मोटापे से ग्रस्त हैं। क्या आप भी दैनिक निर्णयों से परेशान रहते हैं कि फिट रहने के लिए क्या खाना चाहिए, कितना खाना चाहिए, कब खाना चाहिए और स्वस्थ रहने के लिए आपको कितनी शारीरिक गतिविधि की आवश्यकता है? यदि हां, तो निराश न हों क्योंकि आप अकेले नहीं हैं। इतने सारे विकल्पों और निर्णयों के साथ, यह जानना कठिन हो सकता है कि क्या करना है और किस जानकारी पर आप भरोसा कर सकते हैं।

Obesity News in Hindi
Obesity News in Hindi

यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेज (U.S. Department of Health and Human Services) के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डायबिटीज एंड डाइजेस्टिव एंड किडनी डिजीज (National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases -NIDDK) पर उपलब्ध जानकारी आपको अपने दैनिक खाने और शारीरिक गतिविधि की आदतों में बदलाव करने में मदद कर सकती है ताकि आप अपनी भलाई में सुधार कर सकें और स्वस्थ वजन तक पहुंच सकें या मेंटेन रख सकें।

भोजन के बारे में मिथक (Food Myths) | Some myths about losing weight

मिथक : वजन कम करने के लिए आपको अपने सभी पसंदीदा खाद्य पदार्थों को छोड़ना होगा।

तथ्य (Fact): जब आप अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हों तो आपको अपने सभी पसंदीदा खाद्य पदार्थों को छोड़ना नहीं है। आपके पसंदीदा उच्च-कैलोरी खाद्य पदार्थों की थोड़ी मात्रा आपके वजन घटाने की योजना का हिस्सा हो सकती है। बस अपने द्वारा ली जाने वाली कुल कैलोरी का ट्रैक रखना याद रखें। वजन कम करने के लिए, आपको भोजन और पेय पदार्थों से जितनी कैलोरी लेनी चाहिए, उससे अधिक कैलोरी बर्न करनी चाहिए।

सुझाव : NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि कैलोरी में उच्च खाद्य पदार्थों को सीमित करने से आपको अपना वजन कम करने में मदद मिल सकती है।

मिथक : ब्रेड, पास्ता और चावल जैसे अनाज के उत्पाद मोटापा करते हैं। वजन कम करने की कोशिश करते समय आपको इनसे बचना चाहिए।

तथ्य : अनाज स्वयं आवश्यक रूप से मोटापा बढ़ाने वाले या अस्वस्थकर नहीं होते हैं – हालांकि परिष्कृत-अनाज उत्पादों के बदले साबुत अनाज को प्रतिस्थापित करना स्वास्थ्यवर्धक है और आपको तृप्त महसूस करने में मदद कर सकता है। आपके द्वारा खाए जाने वाले अनाज में से कम से कम आधा साबुत अनाज होना चाहिए। साबुत अनाज के उदाहरणों में ब्राउन राइस और पूरी-गेहूं की रोटी, अनाज और पास्ता शामिल हैं। साबुत अनाज आयरन, फाइबर और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व प्रदान करते हैं।

सुझाव : NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि रिफाइंड या व्हाइट ब्रेड के बदले होल-व्हीट ब्रेड और रिफाइंड पास्ता को होल-व्हीट पास्ता से बदलने की कोशिश करें। या मिश्रित व्यंजनों में साबुत अनाज डालें, जैसे कि भूनने के लिए सफेद चावल के बजाय ब्राउन राइस।

भ्रांति : लस मुक्त खाद्य पदार्थों का चयन ( foods that are gluten-free) करने से आपको स्वस्थ खाने में मदद मिलेगी।

तथ्य : यदि आपको सीलिएक रोग नहीं है या आप ग्लूटेन के प्रति संवेदनशील नहीं हैं, तो ग्लूटेन-मुक्त खाद्य पदार्थ स्वास्थ्यवर्धक नहीं होते हैं। ग्लूटेन एक प्रोटीन है जो गेहूं, जौ और राई के दानों में पाया जाता है। एक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर/चिकित्सक सीलिएक रोग या ग्लूटेन के प्रति संवेदनशील लोगों के इलाज के लिए एक ग्लूटेन-मुक्त खाद्य पदार्थ योजना निर्धारित कर सकता है। यदि आपको ये स्वास्थ्य समस्याएं नहीं हैं, फिर भी आप ग्लूटेन से बचते हैं, तो हो सकता है कि आपको आवश्यक विटामिन, फाइबर और खनिज न मिलें। एक ग्लूटेन-मुक्त खाद्य आहार वजन घटाने वाला आहार नहीं है और इसका उद्देश्य वजन कम करने में आपकी सहायता करना नहीं है।

सुझाव : साबुत अनाज खाने से बचने का निर्णय लेने से पहले, अपने स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से बात करें यदि आपको लगता है कि आपको गेहूं, जौ या राई के साथ खाद्य पदार्थ या पेय का सेवन करने के बाद कोई समस्या है।

मिथक : यदि आप स्वस्थ रहने या वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको सभी तरह के फैट से बचना चाहिए।

तथ्य : यदि आप अपना स्वास्थ्य सुधारने या अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको सभी फैट (वसा) से बचने की ज़रूरत नहीं है। वसा आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है और स्वस्थ आहार योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होना चाहिए। लेकिन क्योंकि वसा में प्रोटीन या कार्बोहाइड्रेट, या “कार्ब्स” की तुलना में प्रति ग्राम अधिक कैलोरी होती है, इसलिए आपको अतिरिक्त कैलोरी से बचने के लिए वसा को सीमित करने की आवश्यकता होती है। यदि आप अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो स्वस्थ वसा वाले भोजन की थोड़ी मात्रा खाने पर विचार करें, जैसे कि एवोकाडो, जैतून या नट्स। आप पूरे वसा वाले पनीर या दूध को कम वसा वाले संस्करणों से भी बदल सकते हैं।

सुझाव : अमेरिकियों के लिए आहार संबंधी दिशा निर्देश, 2020–2025, संतृप्त वसा से अपने दैनिक कैलोरी के 10 प्रतिशत से कम का उपभोग करने की सलाह देते हैं। ठोस वसा वाले खाद्य पदार्थों को कम करने का प्रयास करें। खाना पकाने में मक्खन के बजाय जैतून के तेल का प्रयोग करें।

भ्रांति : डेयरी उत्पाद वसायुक्त (Dairy products are fattening) और अस्वास्थ्यकर होते हैं।

तथ्य : डेयरी उत्पाद एक महत्वपूर्ण खाद्य समूह हैं क्योंकि उनमें प्रोटीन होता है जो आपके शरीर को मांसपेशियों के निर्माण और अंगों को अच्छी तरह से काम करने में मदद करता है, और उनमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत करने के लिए जरूरी होता है। अधिकांश डेयरी उत्पादों, जैसे दूध और कुछ योगर्ट्स ने आपके शरीर को कैल्शियम का उपयोग करने में मदद करने के लिए विटामिन डी जोड़ा है, क्योंकि कई लोगों को इन पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा नहीं मिलती है। वसा रहित या कम वसा वाले दूध से बने डेयरी उत्पादों में पूरे दूध से बने डेयरी उत्पादों की तुलना में कम कैलोरी होती है।

सुझाव : स्वस्थ आहार योजना (healthy eating plan) के हिस्से के रूप में वयस्कों को दिन में तीन बार वसा रहित या कम वसा वाले डेयरी उत्पादों का सेवन करना चाहिए, जिसमें दूध या दूध उत्पाद जैसे दही और पनीर, या फोर्टिफाइड सोया पेय शामिल हैं। यदि आप लैक्टोज को पचा नहीं सकते हैं, तो डेयरी उत्पादों में पाई जाने वाली चीनी, फोर्टिफाइड सोया उत्पाद, लैक्टोज-मुक्त या कम-लैक्टोज डेयरी उत्पाद, या कैल्शियम और विटामिन डी वाले अन्य खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ चुनें:

कैल्शियम- सोया-आधारित पेय या टोफू कैल्शियम सल्फेट, डिब्बाबंद सामन, या गहरे रंग के पत्तेदार साग जैसे कोलार्ड या केल के साथ बनाया जाता है

विटामिन डी- अनाज या सोया आधारित पेय पदार्थ।

मिथक : “शाकाहारी हो जाने” से आपको वजन कम करने और स्वस्थ रहने में मदद मिलेगी।

तथ्य : कुछ शोध से पता चलता है कि एक स्वस्थ शाकाहारी आहार योजना, या ज्यादातर पौधों से आने वाले खाद्य पदार्थों से बना भोजन, मोटापे के निम्न स्तर, निम्न रक्तचाप और हृदय रोग के कम जोखिम से जुड़ा हो सकता है। लेकिन केवल शाकाहारी होने से वजन तभी कम होगा यदि आप अपने द्वारा ली जाने वाली कैलोरी की कुल संख्या को कम करते हैं।

कुछ शाकाहारी भोजन के ऐसे विकल्प भी चुन सकते हैं, जो लाभ के बजाए नुकसान पहुंचाता हो और जिससे वजन बढ़ सकता है, जैसे कि चीनी, वसा और कैलोरी में बहुत अधिक भोजन करना।

वजन कम करने या बनाए रखने के लिए कम मात्रा में लीन मीट खाना भी एक स्वस्थ आहार योजना का हिस्सा हो सकता है।

सुझाव : NIDDK के इस दस्तावेज में सुझाव दिया गया है कि यदि आप शाकाहारी भोजन योजना का पालन करना चुनते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आपके शरीर को स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त पोषक तत्व मिलें।

(नोट : यह खबर किसी भी परिस्थिति में चिकित्सकीय सलाह नहीं है। यह समाचारों में उपस्थित सूचनाओं के आधार पर जनहित में एक अव्यावसायिक जानकारी मात्र है। किसी भी चिकित्सा सलाह के लिए योग्य व क्वालीफाइड चिकित्सक से संपर्क करें। स्वयं डॉक्टर कतई न बनें।)

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 12 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines this night

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 12 July 2022

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

पीएम मोदी ने देवघर इंटरनेशनल एयरपोर्ट और एम्स राष्ट्र को समर्पित किया

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज झारखंड के देवघर में नवनिर्मित इंटरनेशनल एयरपोर्ट और देवघर एम्स राष्ट्र को समर्पित किया। उन्होंने देवघर ने आयोजित एक शानदार कार्यक्रम में देवघर एयरपोर्ट से कोलकाता के लिए इंडिगो एयरलाइन्स की पहली फ्लाइट को उड़ान ध्वज प्रदान किया। प्रधानमंत्री ने झारखंड में हाईवे, रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण, गैस बॉटलिंग प्लांट सहित 16 हजार 800 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का भी उद्घाटन-शिलान्यास किया।

राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करेगी शिवसेना

शिवसेना ने घोषणा की है कि वह विपक्ष के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा की जगह राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करेगी।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने बैलेट बॉक्स, सामग्री का वितरण शुरू किया

भारत के निर्वाचन आयोग (ईसीआई) ने आगामी 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए ‘बैलेट बॉक्स’ और अन्य चुनाव संबंधी सामग्री का वितरण और प्रेषण (डिस्ट्रीब्यूशन एंड डिस्पैच) शुरू कर दिया है।

राष्ट्रपति चुनाव में 44 फीसदी आपराधिक मामले वाले सांसद/ विधायक मतदान करेंगे : रिपोर्ट

एक चौंकानी वाली रिपोर्ट में यह पाया गया है कि आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान करने वाले लगभग 44 प्रतिशत सांसदों/ विधायकों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

सरकार ने संसद के मानसून सत्र से पहले रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई

संसद के मानसून सत्र से पहले सरकार ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। समझा जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस सर्वदलीय बैठक में शामिल हो सकते हैं।

भीमा कोरेगांव मामले में सुप्रीम कोर्ट ने वरवर राव की जमानत बढ़ाई

सुप्रीम कोर्ट ने भीमा कोरेगांव मामले में आरोपी और तेलुगु कवि पी. वरवर राव को समर्पण से छूट 19 जुलाई तक बढ़ा दी।

पीएम केयर्स फंड पर दिल्ली उच्च न्यायालय नाराज़

दिल्ली उच्च न्यायालय ने पीएम केयर्स फंड को राज्य के रूप में घोषित करने के लिए पीएमओ द्वारा दायर “एक पृष्ठ के हलफनामे” पर नाराजगी व्यक्त की, विस्तृत प्रतिक्रिया मांगी।

आगामी 15 जुलाई से दिल्ली प्रीमियर लीग की होगी शुरुआत

दिल्ली प्रीमियर लीग का पहला फुटबॉल टूर्नामेंट आगामी 15 जुलाई को अंबेडकर स्टेडियम में शुरू होगा।

इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच आगामी 19 जुलाई को खेला जाएगा पहला वनडे मैच

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के मुख्य कोच मार्क बाउचर ने उम्मीद जताई है कि उनके खिलाड़ी दो महीने के लंबे दौरे के शुरू होने से पहले टॉन्टन और वॉस्टर में इंग्लैंड लायंस के खिलाफ दो 50 ओवर का अभ्यास मैच खेलकर अच्छा महसूस करेंगे। प्राप्त जानकारी के अनुसार आगामी 19 जुलाई को इंग्लैंड के खिलाफ पहला वनडे मैच खेला जाएगा।

अपने उपयोगकर्ताओं को और इमोजी की सुविधा देगा व्हाट्सएप

मेटा के स्वामित्व वाले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप ने घोषणा की है कि वह एक नई सुविधा शुरू कर रहा है, जिससे उपयोगकर्ता अपनी पसंद के किसी भी इमोजी के साथ संदेशों पर प्रतिक्रिया कर सकेंगे।

रूस में मंकीपॉक्स का पहला मामला दर्ज

रूस में मंकीपॉक्स का पहला पुष्ट मामला दर्ज किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक देश के उपभोक्ता अधिकार और मानव कल्याण वॉचडॉग, रोस्पोट्रेबनादजोर ने एक बयान में ये बात कही है।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 11 जुलाई 2022 की खास खबर

headlines breaking news

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 11 July 2022

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड के 16,678 नए मामले आए, 26 मौतें

प्राप्त जानकारी के मुताबिक भारत में सोमवार को कोविड-19 के 16,678 नए मामले सामने आए, जो पिछले दिन के 18,257 मामलों की तुलना में कम हैं। साथ ही 24 घंटों के दौरान कोविड से 26 लोगों की मौत हुई, जिससे देश भर में मरने वालों की संख्या 5,25,454 हो गई।

प्रधानमंत्री मोदी ने नए संसद भवन की छत पर लगे विशाल अशोक स्तंभ का किया अनावरण

नए संसद भवन की छत पर विशाल अशोक स्तंभ की स्थापना की गई है। सोमवार को संसद भवन के छत पर बने इस राष्ट्रीय प्रतीक की तस्वीर भी सामने आ गई।

अबू सलेम प्रत्यर्पण के दौरान पुर्तगाल से किए वादे का सम्मान करने को केंद्र बाध्य : सर्वोच्च न्यायालय

साल 1993 में हुए मुंबई धमाकों का गुनहगार और गैंगेस्टर अबू सलेम को सर्वोच्च न्यायालय ने बड़ा झटका दिया है। शीर्ष अदालत ने कहा कि केंद्र पुर्तगाल से किए गए वादे का सम्मान करने और गैंगस्टर अबू सलेम की 25 साल की सजा पूरी होने पर रिहा करने के लिए बाध्य है।

मेधा पाटकर, 12 अन्य पर नर्मदा घाटी के लिए दान किए गए धन का दुरुपयोगकरने का मामला दर्ज

मध्य प्रदेश पुलिस ने सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर और 12 अन्य के खिलाफ नर्मदा घाटी के लोगों के कल्याण के नाम पर उनके ट्रस्ट को दान देने के लिए लोगों को कथित तौर पर गुमराह करने के आरोप में मामला दर्ज किया है।

विजय माल्या को अवमानना मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने सुनाई 4 महीने की कैद, लगाया 2000 रुपये का जुर्माना

सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को चार महीने की जेल की सजा सुनाई और अवमानना के आरोप में 2,000 रुपये का जुर्माना लगाया।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री आवास को घेरने का प्रयास कर रहे गन्ना किसान पुलिस हिरासत में

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के बेंगलुरु स्थित आवास की घेराबंदी करने का प्रयास करने वाले गन्ना किसानों को सोमवार को हिरासत में ले लिया गया।

महाराष्ट्र संकट : अयोग्यता मामले में कार्रवाई करने से सर्वोच्च न्यायालय ने दोनों गुटों को रोका

महाराष्ट्र में विधायकों की अयोग्यता के मामले में सर्वोच्च न्यायालय में आज हुई सुनवाई में शीर्ष अदालत ने महाराष्ट्र विधानसभा के नए अध्यक्ष राहुल नार्वेकर से कहा कि वह मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सहित शिवसेना के विधायकों के खिलाफ शुरू की गई अयोग्यता की कार्यवाही पर तब तक फैसला न करें, जब तक कि अदालत मामले की सुनवाई नहीं कर लेती।

भारत में पहला एलिवेटेड शहरी एक्सप्रेस-वे के रूप में विकसित होने वाला द्वारका एक्सप्रेस-वे 2023 में चालू हो जायेगा

सड़क यातायात और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा है कि द्वारका एक्सप्रेस-वे, जिसे हरियाणा वाले हिस्से में नार्दर्न पेरीफेरल रोड कहते हैं, उसे भारत में पहले एलिवेटेड शहरी एक्सप्रेस-वे के रूप में विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2023 में चालू हो जाने के बाद, इससे दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण को भी कम करने में बेहद मदद मिलेगी।

मोहम्मद जुबैर जमानत के लिए सत्र न्यायालय पहुंचे

AltNews के सह-संस्थापक, मोहम्मद जुबैर ने धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए 2018 के एक ट्वीट पर दर्ज दिल्ली प्राथमिकी में जमानत की मांग करते हुए सत्र न्यायालय का रुख किया। सीएमएम कोर्ट ने 2 जुलाई को उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था।

तेलंगाना में गोदावरी नदी ने दूसरे खतरनाक स्तर के निशान को किया पार

तेलंगाना में गोदावरी नदी ने सोमवार को दूसरे खतरनाक स्तर के निशान को पार कर लिया, जिससे भद्राचलम में बाढ़ आने की आशंका जतायी जा रही है।

जेईई (मेंस) के पहले सत्र का परिणाम घोषित, 14 छात्रों ने हासिल किए शत प्रतिशत अंक

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने सोमवार को जेईई (मेंस) के पहले सत्र का रिजल्ट घोषित कर दिया है। पहले सत्र में कुल 14 छात्रों ने शत प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के मुताबिक, जेईई (मेंस)- 2022 परीक्षा के दोनों सत्रों के बाद अभ्यर्थियों की रैंक बनाई जाएगी।

15 नवंबर को 8 अरब तक पहुंच जाएगी दुनिया की आबादी : संयुक्त राष्ट्र

विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर आज संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि विश्व की जनसंख्या 15 नवंबर को 8 अरब तक पहुंच जाने का अनुमान है और 2023 में भारत के सबसे अधिक आबादी वाले देश के रूप में चीन से आगे निकल जाने का अनुमान है।

श्रीलंकाई राष्ट्रपति के स्विमिंग पूल में डुबकी लगाते प्रदर्शनकारी पीएम के बिस्तर पर दिखे

श्रीलंका के गंभीर आर्थिक संकट और राजनीतिक उथल-पुथल के बीच राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास पर कब्जा करने वाले प्रदर्शनकारियों को इसके स्विमिंग पूल में डुबकी लगाते देखा गया, जबकि अन्य लोगों ने पीएम के आधिकारिक आवास टेंपल ट्रीज पर कब्जा कर लिया। वायरल वीडियो और तस्वीरों के अनुसार प्रदर्शनकारी प्रधानमंत्री के बेड पर डब्ल्यूडब्ल्यूई की लड़ाई करते दिखे।

चांगवोन विश्व कप : अर्जुन बबूता ने 10 मीटर एयर राइफल में स्वर्ण पदक जीता

भारत के अर्जुन बबूता ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए सोमवार को यूएसए के टोक्यो ओलंपिक रजत पदक विजेता लुकास कोजेनिस्की को 17-9 से हराकर अपना पहला आईएसएसएफ विश्व कप का स्वर्ण पदक जीता।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 08 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines this night

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 08 July 2022 | Din bhar ki khabar | news of the day, hindi news india |top news| Election | Hastakshep news

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

जापान के पूर्व प्रधान मंत्री शिंजो आबे की गोली लगने से मौत

अंतर्राष्ट्रीय मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, शुक्रवार को पश्चिमी जापान के नारा शहर में सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के लिए एक अभियान कार्यक्रम में एक भाषण के दौरान गोली लगने के बाद जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे का 67 वर्ष की आयु में निधन हो गया। मीडिया के अनुसार, घटना के बाद एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया गया है और वह हिरासत में है।

पीएम मोदी ने शिंजो आबे के निधन पर शोक व्यक्त किया, एक दिन के शोक की घोषणा की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के निधन पर शोक व्यक्त किया और शनिवार को एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन की मां ने वाईएसआर कांग्रेस छोड़ी

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी की मां और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की मानद अध्यक्ष वाई.एस. विजयम्मा ने पार्टी से इस्तीफे की घोषणा करते हुए कहा कि उन्हें अपनी बेटी वाईएस शर्मिला के साथ खड़े होने की जरूरत है, जिन्होंने पड़ोसी राज्य तेलंगाना में एक राजनीतिक पार्टी बनाई है।

कथित फेमा उल्लंघन में ईडी ने बड़े मीडिया समूह के शीर्ष प्रबंधन से पूछताछ की

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने टाइम्स ऑफ इंडिया जैसे कई प्रकाशनों वाली मीडिया दिग्गज बेनेट कोलमैन एंड कंपनी लिमिटेड (बीसीसीएल) के शीर्ष प्रबंधकों से पूछताछ की है।

सुप्रीम कोर्ट ने जुबैर को 5 दिन की सशर्त अंतरिम जमानत दी

ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को उनके खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा एक ट्वीट के लिए दर्ज एक मामले के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने पांच दिनों के लिए अंतरिम जमानत दे दी है।

भूस्खलन के कारण अस्थायी रूप से बंद किया गया जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तेज बारिश के कारण जम्मू-कश्मीर में कई जगहों से भूस्खलन की घटना सामने आई। जिसके चलते जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे आज अवरुद्ध रहा।

भाजपा आईटी सेल के हरियाणा प्रमुख अरूण यादव बर्खास्त

प्राप्त जानकारी के मुताबिक हरियाणा बीजेपी यूनिट ने आईटी सेल के प्रमुख अरुण यादव को पैगंबर और इस्लाम के खिलाफ विवादास्पद ट्वीट के चलते हटा दिया है।

देश में 18,815 नए कोविड-19 मामले मिले, 38 मौतें

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटों में 18,815 संक्रमणों के साथ कोविड-19 के मामलों में मामूली गिरावट देखी गई, जबकि पिछले दिन 18,930 मामले दर्ज किए गए थे।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 07 जुलाई 2022 की खास खबर

breaking news today top headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 07 July 2022

दिल्ली एयरपोर्ट पर हेमंत सोरेन ने लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की

राष्ट्रीय जनता दल (राजग) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती है। उन्हें बीती रात एयर एंबुलेंस से पटना से दिल्ली लाया गया। इस दौरान उनसे मिलने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचे।

सत्येंद्र जैन को निलंबित करने की मांग वाली याचिका खारिज

दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को कथित धनशोधन मामले में 31 मई से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में होने के कारण निलंबित करने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया।

पहले अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चरमें कल शामिल होंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल 8 जुलाई को दिल्ली के विज्ञान भवन में अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चर (एजेएमएल) में हिस्सा लेंगे। इस दौरान वह जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

भारत में कोविड-19 के 18,930 नए मामले दर्ज, 35 मौतें

गुरुवार को बीते 24 घंटों में भारत में कोविड-19 के 18,930 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह आंकड़ा बुधवार को सामने आए 16,159 की तुलना में काफी अधिक हैं।

नए बीए.2.75 सब-वेरिएंट को अधिक गंभीर कहना जल्दबाजी होगी : सौम्या स्वामीनाथन

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन का कहना है कि पिछले महीने भारत से पहली बार रिपोर्ट किए गए नए ओमिक्रॉन सब-वेरिएंट बीए.2.75 को अधिक गंभीर कहना जल्दबाजी होगी।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने “मिशन वात्सल्य योजना” के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने “मिशन वात्सल्य” योजना के विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं और राज्यों तथा केन्द्रशासित प्रदेशों के प्रशासनों से वर्ष 2022-23 के लिए इस संबंध में वित्तीय नियम दिशा-निर्देश के आधार पर अपने वित्तीय प्रस्ताव और योजनाएं तैयार करने को कहा है। “मिशन वात्सल्य” योजना के नियम एक अप्रैल 2022 से लागू होंगे।

यूपी : केशव प्रसाद मौर्य को हराने वाली विधायक पल्लवी पटेल अस्पताल में भर्ती

प्राप्त जानकारी के अनुसार अपना दल (कमेरावादी) की विधायक पल्लवी पटेल को कथित तौर पर ब्रेन स्ट्रोक के चलते लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

धोनी ने मनाया 41वां जन्मदिन, मिलीं बधाइयां

भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आज 7 जुलाई को 41 साल के हो गए हैं, जहां उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं देने वालों का तांता लगा हुआ है।

श्रीलंका के तीन और खिलाड़ी कोरोना संक्रमित

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच से पहले श्रीलंका के तीन खिलाड़ी कोविड से संक्रमित पाए गए हैं।

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 06 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 06 July 2022

साजी चेरियन ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा, संविधान को लेकर दिया था विवादित बयान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केरल के मंत्री साजी चेरियन ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने संविधान को लेकर विवादित टिप्पणी की थी।

न्यूज एंकर रोहित रंजन की याचिका पर 7 जुलाई को सुनवाई करेगा सर्वोच्च न्यायालय

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के वीडियो को ‘गलत तरीके से दिखाने’ के मामले में घिरे न्यूज एंकर रोहित रंजन की याचिका पर सर्वोच्च न्यायालय बुधवार को सुनवाई के लिए सहमत हो गया है।

मुख्तार अब्बास नकवी ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है।

कोलकाता पुलिस ने नूपुर शर्मा को फिर किया तलब, 30 दिन में तीसरा नोटिस भेजा

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कोलकाता पुलिस ने आज निलंबित भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा को एक और नोटिस जारी कर 11 जुलाई को शहर पुलिस के पूर्वी उपनगरीय डिवीजन के तहत नारकेलडांगा पुलिस स्टेशन में पूछताछ के लिए मौजूद रहने को कहा है।

नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग वाली याचिका पर आपात सुनवाई से सर्वोच्च न्यायालय का इनकार

सर्वोच्च न्यायालय ने भारतीय जनता पार्टी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग करती याचिका को तत्काल या आपात सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करने से आज इनकार कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सर्वोच्च न्यायालय में दायर याचिका ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी के मामले में नूपुर शर्मा को गिरफ्तार करने के निर्देश देने की मांग की थी। अधिवक्ता ने तत्काल लिस्टिंग की मांग करते हुए कहा कि पुलिस शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

सर्वोच्च न्यायालय ने अधिवक्ता से रजिस्ट्रार के सामने उल्लेख करने को कहा।

पीएम मोदी कल एनईपी के कार्यान्वयन पर शिक्षा समागम का उद्घाटन करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल 7 जुलाई को वाराणसी में तीन दिवसीय अखिल भारतीय शिक्षा समागम का उद्घाटन करेंगे। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के सहयोग से शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित इस तीन दिवसीय सम्मेलन में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के विश्वविद्यालयों के 300 से अधिक कुलपति विचार-विमर्श करेंगे।

बिहार में फिर से बढ़ने लगे कोरोना के मामले

बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक बार फिर से रफ्तार पकड़ने लगी है। बिहार की राजधानी पटना में इसकी रफ्तार और तेज है। राज्य में मंगलवार को 338 नए मामले सामने आए, जिसमे पटना में 182 संक्रमित शामिल हैं। इधर, नए कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बाद राज्य में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है।

महाराष्ट्र में अफगानी सूफी संत की हत्या

अफगानिस्तान के एक सूफी संत की महाराष्ट्र के नासिक जिले में गोली मारकर हत्या कर दी गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने संदेह जताया है कि यह हत्या संपत्ति विवाद में की गई है।

आईआईटी मद्रास ने व्यक्तिगत कैंसर निदान के लिए एआई टूल विकसित किया

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के शोधकर्ताओं ने एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित उपकरण तैयार किया है। शोधकर्ताओं के मुताबिक यह उपकरण किसी व्यक्ति में कैंसर पैदा करने वाले जीन की भविष्यवाणी कर सकता है, और व्यक्तिगत कैंसर उपचार रणनीतियों को तैयार करने का मार्ग प्रशस्त करता है।

हिमाचल के कुल्लू में बादल फटने से 4 लोग बहे

प्राप्त जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले की पार्वती घाटी में बुधवार को बादल फटा, जिसमें कम से कम चार लोग बह गए।

भारत में कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी, 16,159 नए मामले दर्ज, 28 मौतें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय मुताबिक भारत में बुधवार को बीते 24 घंटों में कोविड-19 के 16,159 नए मामले दर्ज किए। यह संख्या मंगलवार को सामने आई 13,086 से अधिक है।

घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में 50 रुपये की बढ़ोतरी

रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़े – घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में इजाफा हुआ है। इनकी कीमत में 50 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। बढ़ी हुई कीमत आज से लागू हो गई है।

तमिलनाडु में 20 सितंबर से होगी अग्निवीर भर्ती

अग्निवीर भर्ती रैली तमिलनाडु के 11 जिलों के लिए तिरुपुर में 20 सितंबर से एक अक्टूबर तक आयोजित की जाएगी।

चिकित्सा विशेषज्ञों ने चेताया, अमेरिका में बढ़ सकता है मंकीपॉक्स का प्रकोप

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि अमेरिका के चिकित्सा विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि सरकार के सुस्त रवैये के कारण संयुक्त राज्य अमेरिका में मंकीपॉक्स के प्रकोप और बढ़ सकता है।

तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा पर भोपाल में मामला दर्ज

फिल्म काली के पोस्टर को लेकर विवाद के बीच पश्चिम बंगाल से तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा एक बयान के चलते मुसीबत में फंस गई हैं, उनके खिलाफ मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की अपराध शाखा में धार्मिक भावनाएं भड़काने का प्रकरण दर्ज किया गया है।

Health news in Hindi, breaking news in Hindi, top news, Aaj ki news, Din bhar ki khabar | news of the day, hindi news india |top news| Election | Hastakshep news.

दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार | शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

जब शरीर के अंग सूज जाते हैं : एडिमा पर करीब से नज़र रखना

closer look at edema in hindi

नई दिल्ली,06 जुलाई 2022. शरीर में सूजन कई कारणों से हो सकती है। यदि आप थोड़ी देर बैठे या खड़े रहे हैं तो गर्मी के मौसम की गर्मी आपके हाथ या पैर को सुजा सकती है। शरीर के अंग अति प्रयोग या चोट से भी सूज सकते हैं। लेकिन कभी-कभी, सूजन एक अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति एडिमा का संकेत होता है।

यूएस डिपार्टमेंट ऑफ़ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेस के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के मासिक न्यूज़लैटर एनआईएच न्यूज़ इन हैल्थ के ताजा अंक में एडिमा और सूजन के विषय में विस्तार से चर्चा की गई है। जिसके मुताबिक

एडिमा क्या है? What is Edema in Hindi?

आपका आधे से ज्यादा शरीर पानी से बना है। इसका अधिकांश भाग आपके रक्तप्रवाह में प्रवाहित होता है। पानी लसीका/लिंफ़ (Lymph in HIndi) नामक एक कम ज्ञात तरल पदार्थ भी बनाता है। लिंफ़, लसीका प्रणाली (lymphatic system in Hindi) के माध्यम से यात्रा करता है, जो ऊतकों और अंगों से बना होता है जो प्रतिरक्षा कोशिकाओं का उत्पादन, भंडारण और परिवहन करते हैं।

जब आपके शरीर में तरल पदार्थ एक जगह जमा हो जाते हैं, तो इससे सूजन हो सकती है। इसे एडिमा कहा जाता है। एडिमा आपके शरीर में कहीं भी – आपके पैर, पैर, टखने, हाथ, या यहाँ तक कि चेहरे, पर भी हो सकता है । यह एक ही स्थान पर या एक ही समय में शरीर के कई अंगों में प्रकट हो सकता है।

एडिमा कभी-कभी केवल अस्थायी होता है। गर्भावस्था में बच्चे के दबाव से पैरों और टखनों में सूजन आ सकती है। ज्यादा नमक खाने से आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है। तो कुछ दवाएं, जैसे कुछ उच्च रक्तचाप के लिए उपयोग की जाती हैं।

हार्वर्ड विश्वविद्यालय में लसीका प्रणाली की समस्याओं का इलाज करने वाले सर्जन डॉ. ध्रुव सिंघल (Dr. Dhruv Singhal, a surgeon who treats lymph system problems at Harvard University) कहते हैं, “एडीमा के कारण इधर-उधर घूमना, बेचैनी, संक्रमण और घाव भरने में कठिनाई हो सकती है। तो किसी भी प्रकार की सूजन को स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता द्वारा देखा जाना चाहिए।”

एक गंभीर चिकित्सा स्थिति का संकेत भी हो सकता है एडिमा

एडिमा एक गंभीर चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है। एक खतरनाक प्रकार का रक्त का थक्का जिसे डीप वेन थ्रॉम्बोसिस या डीवीटी कहा जाता है (deep vein thrombosis, or DVT, ), अचानक एडिमा का कारण बन सकता है। हृदय, यकृत या गुर्दे की समस्याएं भी सूजन का कारण बन सकती हैं।

कंजेस्टिव हार्ट फेल्योर नामक बीमारी (congestive heart failure) में हृदय को पूरे शरीर में रक्त पंप करने में समस्या होती है। इससे पैरों में तरल पदार्थ जमा हो सकता है। जिगर या गुर्दे की क्षति के साथ, द्रव उनके माध्यम से जल्दी से नहीं गुजर सकता है और अंगों में सूजन का निर्माण कर सकता है।

शरीर को आघात (Trauma) भी एडिमा को ट्रिगर कर सकता है। डॉ सिंघल लसीका प्रणाली को नुकसान के कारण होने वाले एक प्रकार के एडिमा,जिसे लिम्फेडेमा (lymphedema) कहा जाता है, का इलाज करते हैं। यू.एस. में, लिम्पेडेमा सबसे अधिक बार कैंसर सर्जरी के कारण होता है।

एडिमा का इलाज

एडिमा का उपचार (Treatment for edema) कारण पर निर्भर करता है। यदि सूजन किसी दवा के कारण होती है, तो दूसरी तरह की दवा लेने से मदद मिल सकती है। रक्त के थक्के के कारण एडिमा वाले लोग आमतौर पर थक्का को तोड़ने के लिए एक रक्त पतला करने वाली दवा blood thinner करते हैं। हार्ट फेल्योर जैसी स्थितियों के लिए मूत्रवर्धक नामक दवाओं (diuretics ) का उपयोग किया जा सकता है। ये आपके शरीर को अतिरिक्त तरल पदार्थ से छुटकारा पाने में मदद करते हैं।

डॉ सिंघल कहते हैं, “हमारे पास कुछ ऐसे उपचार भी हैं जो लगभग सभी रोगियों को मिलते हैं, चाहे उनकी सूजन का कारण कुछ भी हो।” इनमें संपीड़न वस्त्र-स्टॉकिंग्स, आस्तीन, या दस्ताने जो सूजन को कम करने में मदद करते हैं, शामिल हैं। वे असुविधा को कम करने में मदद कर सकते हैं, भले ही एडिमा का कारण कुछ ऐसा हो जिसका इलाज नहीं किया जा सकता है।

यदि आप एक या अधिक अंगों में अचानक सूजन का अनुभव करते हैं, या मामूली सूजन जो समय के साथ खराब हो रही है, तो तुरंत एक स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता (योग्य चिकित्सक) को दिखाएँ। डॉ सिंघल बताते हैं कि कई प्रकार की सूजन के लिए प्रारंभिक उपचार लंबे समय में लक्षणों को कम कर सकता है।

एडिमा के साथ रहना (Living With Edema)

सूजन से होने वाली परेशानी को कम करने में मदद के सूत्र :

  • ढीले कपड़े और जूते पहनें जो बहुत तंग न हों। अपवाद तब होता है जब आपका डॉक्टर संपीड़न कपड़ों की सिफारिश (compression garments) करता है।
  • सूजे हुए पैरों को ऊपर उठाएं। यदि आपके पैरों में सूजन है तो बैठते या लेटते समय अपने पैरों को ऊपर उठाएं। हो सके तो अपने पैरों को अपने हृदय के स्तर से ऊपर रखें।
  • धीरे से व्यायाम करें। सूजन वाले शरीर के हिस्से को हिलाने से लक्षणों में मदद मिल सकती है। अपने स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता से सुरक्षित व्यायाम के बारे में पूछें।
  • अपने भोजन में नमक सीमित करें। नमक में सोडियम शरीर को तरल पदार्थ बनाए रखने का कारण बन सकता है। सोडियम सामग्री के लिए खाद्य लेबल की जाँच करें।
  • निर्धारित दवाएं लें। यदि आपका डॉक्टर एडिमा के लिए दवा निर्धारित करता है, तो इसे बिल्कुल निर्देशानुसार लें।

Web title : When Body Parts Swell : Taking a Closer Look at Edema in Hindi

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 04 जुलाई 2022 की खास खबर

top 10 headlines this night

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 04July 2022

कर्नाटक की सिनी शेट्टी बनीं मिस इंडिया वर्ल्ड 2022

Miss India World 2022: बीती रात ही कर्नाटक से ताल्लुक रखने वाली सिनी शेट्टी ने मिस इंडिया वर्ल्ड 2022 का खिताब अपने नाम कर लिया है। वहीं रूबल शेखावत और शिनाता चौहान पहली और दूसरी रनर अप रहीं।

दूरसंचार विभाग ने वायरलैस जैमर और बूस्टर के उचित उपयोग के बारे में जनता के लिए एडवाइज़री जारी की

दूरसंचार विभाग ने कहा कि सेल्युलर सिग्नल जैमर, जीपीएस ब्लॉकर या अन्य सिग्नल जैमिंग डिवाइस का उपयोग अवैध है। उपयोग के लिए सरकार से विशेष अनुमति लेनी होगी। ऐसे वायरलेस मोबाइल जैमर को अवैध रूप से ऑनलाइन बेचने के खिलाफ ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म को चेतावनी भी दी गई है।

जीएसटी के खिलाफ महिला कांग्रेस का वित्तमंत्री के आवास के सामने प्रदर्शन

जीएसटी और बढ़ती महंगाई पर महिला कांग्रेस ने सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय वित्तमंत्री के आवास के सामने प्रदर्शन किया।

दिल्ली में विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी, विधानसभा में प्रस्ताव पारित

दिल्ली विधानसभा ने सोमवार को मंत्रियों, विधायकों, मुख्य सचेतक, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और विपक्ष के नेताओं के वेतन और भत्तों में बढ़ोतरी के प्रस्ताव को पारित कर दिया।

लालू प्रसाद यादव कंधे में फ्रैक्चर के बाद आईसीयू में भर्ती, हालत स्थिर

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव सीढ़ियों से गिरने के बाद बिहार की राजधानी स्थित पारस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हैं। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

नूपुर शर्मा पर ट्वीट के मामले में अखिलेश के खिलाफ कार्रवाई करे योगी सरकार : राष्ट्रीय महिला आयोग

राष्ट्रीय महिला आयोग ने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि वह भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा को लेकर ट्वीट करने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ कार्रवाई करे।

भारत में कोरोना के नए 16,135 मामले दर्ज, 24 मौतें

भारत में कोविड-19 के मामलों में पिछले 24 घंटों में मामूली वृद्धि देखी गई। सोमवार को संक्रमण के 16,135 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि पिछले दिन 16,103 मामले थे।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने ‘विश्वास मत’जीता

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की भारतीय जनता पार्टी समर्थित सरकार ने आज महाराष्ट्र विधानसभा में ‘विश्वास मत’ हासिल कर लिया।

शिंदे गुट के नामित व्हिप को मान्यता मिलने के खिलाफ उद्धव गुट ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया

शिवसेना के उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले समूह ने महाराष्ट्र विधानसभा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष की कार्रवाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है, जिन्होंने एकनाथ शिंदे गुट द्वारा शिवसेना के मुख्य सचेतक के रूप में नामित व्हिप को मान्यता दी थी।

रोहित शर्मा कोरोना नेगेटिव

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा कोरोना नेगेटिव पाए गए हैं और अब इंग्लैंड के खिलाफ सफेद गेंद की श्रृंखला के लिए उपलब्ध होंगे, जिसकी शुरूआत साउथेम्प्टन में 7 जुलाई से पहले टी 20 आई से होगी।

Women’s Hockey World Cup : भारत इंग्लैंड के खिलाफ बदला लेने से चूका

महिला हॉकी विश्व कप का पहला मैच ड्रा : विमेंस वर्ल्ड कप हॉकी में पिछड़ने के बाद भारत ने की बराबरी।

बोटुलिनम टॉक्सिन एंडोमेट्रियोसिस का संभावित उपचार हो सकता है : शोध

Women's Health

एनआईएच वैज्ञानिकों (NIH scientists) ने एंडोमेट्रियोसिस से पीड़ित पुरानी पेल्विक दर्द वाली महिलाओं में ऐंठन (spasm in women with endometriosis-associated chronic pelvic pain) की पहचान की….

एनआईएनडीएस के वैज्ञानिकों का अध्ययन

एंडोमेट्रिओसिस से जुड़े पेल्विक दर्द (endometriosis-associated chronic pelvic pain) अक्सर क्रोनिक हो जाते हैं और सर्जिकल और हार्मोनल हस्तक्षेप के बाद (या पुनरावृत्ति) कर सकते हैं। रीजनल एनेस्थीसिया एंड पेन मेडिसिन – Regional Anesthesia & Pain Medicine में प्रकाशित परिणामों के अनुसार, बोटुलिनम विष (botulinum toxin) के साथ श्रोणि मंजिल की मांसपेशियों की ऐंठन का इलाज करने से दर्द से राहत मिल सकती है और जीवन की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है।

यह अध्ययन संयुक्त राज्य अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ से संबद्ध नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर एंड स्ट्रोक (National Institute of Neurological Disorders and Stroke – एनआईएनडीएस) के वैज्ञानिकों द्वारा किया गया था।

दर्द को कम करने में बोटुलिनम टॉक्सिन इंजेक्शन प्रभावी

NINDS के न्यूरोलॉजिस्ट और कार्यक्रम निदेशक बारबरा कार्प, एम.डी. (Barbara Karp, M.D., a neurologist and program director at NINDS) के साथ अध्ययन का सह-नेतृत्व करने वाली एनआईएनडीएस की एक स्त्री रोग विशेषज्ञ और वैज्ञानिक पामेला स्ट्रैटन (Pamela Stratton, M.D., a gynecologist and scientist at NINDS)  ने कहा –

“बोटुलिनम टॉक्सिन इंजेक्शन दर्द के स्तर को कम करने के साथ-साथ ओपिओइड सहित दर्द की दवाओं के उपयोग के रोगियों में अविश्वसनीय रूप से प्रभावी थे”।

“हमारे अध्ययन में कई महिलाओं ने बताया कि दर्द का उनके जीवन की गुणवत्ता पर गहरा प्रभाव पड़ा है, और यह उपचार उनके जीवन को वापस लाने में मदद करने में सक्षम हो सकता है।”

कब होता है एंडोमेट्रिओसिस ? | When does endometriosis occur?
healthy man people woman
Photo by RODNAE Productions on Pexels.com

एंडोमेट्रिओसिस तब होता है जब गर्भाशय के ऊतक का अस्तर (uterine tissue lining) गर्भाशय के बाहर बढ़ता है। अनुमान है कि दुनिया भर में 176 मिलियन महिलाएं इससे पीड़ित हैं। यह एक सूजन संबंधी स्थिति है जो बांझपन का कारण बन सकती है और पुराने दर्द का कारण बन सकती है।

सामान्य स्त्रीरोग संबंधी उपचार में एंडोमेट्रियोसिस वृद्धि को हटाने के लिए हार्मोनल थेरेपी और सर्जरी (Hormonal therapy and surgery to remove endometriosis growths) शामिल हैं। हालांकि, कई मामलों में, हार्मोनल थेरेपी और सर्जरी के बाद दर्द वापस आ जाता है।

अध्ययन में, शल्यचिकित्सा से उपचारित एंडोमेट्रियोसिस वाली महिलाओं को, (जो आम तौर पर मासिक धर्म को दबाने के लिए हार्मोन ले रही थीं, लेकिन जो दर्द का अनुभव करती रहीं और जिनकी पेल्विक फ्लोर मांसपेशियों में ऐंठन थी), ऐंठन के क्षेत्र में शुरू में एक प्लेसबो-नियंत्रित नैदानिक परीक्षण (placebo-controlled clinical trial) के क्लीनिकल ट्रायल के रूप में बोटुलिनम टॉक्सिन या खारा के इंजेक्शन (injections of botulinum toxin or saline) दिए गए।

एक माह के अप्रत्यक्ष अध्ययन इंजेक्शन के बाद 13 प्रतिभागियों ने उन क्षेत्रों में खुले लेबल वाले बोटुलिनम विष इंजेक्शन को लगवाना चुना, जहां कि ऐंठन बनी रही और फिर कम से कम चार महीने तक उनका पालन किया गया। वर्तमान अध्ययन में एनआईएच क्लिनिकल सेंटर में इन रोगियों का वर्णन किया गया है।

फॉलोअप के दौरान, सभी प्रतिभागियों में पैल्विक फ्लोर मांसपेशियों की ऐंठन का पता नहीं चला या कम मांसपेशियों में ऐंठन हुई। इंजेक्शन लगाने के दो महीने के भीतर, सभी प्रतिभागियों में दर्द कम हो गया, 13 में से 11 प्रतिभागियों ने बताया कि उनका दर्द हल्का था या गायब हो गया था।

इसके अतिरिक्त, आधे से अधिक प्रतिभागियों में दर्द की दवा का उपयोग कम हो गया था।

बोटुलिनम टॉक्सिन इंजेक्शन दिए जाने से पहले, आठ प्रतिभागियों ने मध्यम या गंभीर विकलांगता की सूचना दी और उपचार के बाद, उनमें से छह रोगियों में सुधार देखा गया।

प्रतिभागियों ने मांसपेशियों की ऐंठन में कमी का अनुभव किया और उन्हें दर्द से राहत मिली, जिसके परिणामस्वरूप विकलांगता कम हुई और दर्दनिवारक दवा का उपयोग कम हुआ।

इन निष्कर्षों से पता चलता है कि पैल्विक फ्लोर मांसपेशियों की ऐंठन एंडोमेट्रियोसिस वाली महिलाओं द्वारा अनुभव की जा सकती है जिससे मानक उपचार के बाद भी दर्द बरकरार रहत है।

महत्वपूर्ण बात यह है कि इन इंजेक्शन के लाभकारी प्रभाव लंबे समय तक चलने वाले थे। कई रोगियों ने कम से कम छह महीने तक दर्द से राहत की रिपोर्ट की।

कैसे काम करते हैं बोटुलिनम टॉक्सिन जैसे बोटॉक्स ? | How do botulinum toxins like Botox work?

बोटुलिनम टॉक्सिन जैसे बोटॉक्स मांसपेशियों को अनुबंधित करने के लिए तंत्रिका संकेतों को अवरुद्ध करके काम करते हैं और इसका उपयोग माइग्रेन और कुछ गमनागमन विकारों (movement disorders) के इलाज के लिए किया जाता है।

पिछले शोध में सुझाव दिया गया था कि बोटुलिनम टॉक्सिन महिलाओं को अन्य प्रकार के पुराने दर्द का प्रबंधन करने में मदद कर सकता है, लेकिन एंडोमेट्रियोसिस वाली महिलाओं में इस उपचार का अध्ययन नहीं किया गया था।

डॉ. कार्प ने कहा, “हम जानते हैं कि कई डॉक्टर अपने मरीजों की सहायता के लिए बोटुलिनम टॉक्सिन का उपयोग कर रहे हैं, लेकिन हर कोई थोड़ा अलग तकनीक और तरीकों का उपयोग करता है, जिसमें विभिन्न ब्रांडों के टॉक्सिन और विभिन्न खुराक शामिल हैं। इस अध्ययन से मानकीकृत प्रोटोकॉल और श्रोणि दर्द में उपचार सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी ”।

वर्तमान निष्कर्षों की पुष्टि करने के लिए बड़े नैदानिक अध्ययनों की आवश्यकता होगी। इसके अलावा, भविष्य के अनुसंधान पुरानी पेल्विक दर्द अंतर्निहित तंत्रों और उन तरीकों की बेहतर समझ पर ध्यान केंद्रित करेंगे जिनमें बोटुलिनम टॉक्सिन अपने विकारों के इलाज में मदद कर सकता है।

Web title : Botulinum toxin may be a possible treatment for endometriosis: research

नोट छ यह खबर हस्तक्षेप पर मूलतः 26 जुलाई 2019 को प्रकाशित हुई थी।

जानिए लाइम रोग परीक्षण या लाइम डिजीज टेस्ट क्या है?

lyme disease tests in hindi

इस समाचार में सरल हिंदी में जानिए कि लाइम रोग परीक्षण क्या है? (Lyme disease test in Hindi – Lyme disease test Kya Hota Hai) लाइम रोग परीक्षण का उपयोग किस लिए किया जाता है? आपको लाइम रोग परीक्षण की आवश्यकता क्यों होती है? जब आप लाइम रोग परीक्षण कराते हैं तब क्या होता है? क्या आपको लाइम रोग परीक्षण की तैयारी के लिए कुछ करने की आवश्यकता होती है? क्या लाइम रोग परीक्षण के कोई जोखिम हैं? इस समाचार की जानकारी का उपयोग पेशेवर चिकित्सा देखभाल या सलाह के विकल्प के रूप में नहीं किया जा सकता है। यदि आप अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता/ योग्य चिकित्सक से संपर्क करें।

अमेरिकी सरकार के नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के मेडलाइनप्लस पर लाइम रोग परीक्षण के बारे में जानकारी (Information about Lyme disease testing) दी गई है। उस जानकारी के मुताबिक –

लाइम रोग (Lyme disease in Hindi) एक संक्रमण है जो टिक्स द्वारा ले जाने वाले बैक्टीरिया (bacteria carried by ticks) के कारण होता है। लाइम रोग परीक्षण के जरिए आपके रक्त या मस्तिष्कमेरु द्रव में संक्रमण के लक्षणों की जाँच की जाती है।

यदि कोई संक्रमित टिक आपको काट ले तो आपको लाइम रोग हो सकता है। टिक्स आपको आपके शरीर पर कहीं भी काट सकते हैं, लेकिन वे आमतौर पर आपके शरीर के कठिन हिस्सों जैसे कमर, खोपड़ी और बगल में काटते हैं। लाइम रोग का कारण बनने वाले टिक्स छोटे होते हैं, ये गंदगी के एक कण के बराबर छोटे होते हैं, इसलिए आप नहीं जान सकते कि आपको काट लिया गया है।

यदि इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो लाइम रोग आपके जोड़ों, हृदय और तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाली गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकता है। लेकिन अगर जल्दी निदान किया जाता है, तो लाइम रोग के अधिकांश मामलों को एंटीबायोटिक दवाओं के उपचार के कुछ हफ्तों के बाद ठीक किया जा सकता है।

लाइम रोग परीक्षण किसके लिए उपयोग किए जाते हैं? What are Lyme disease tests used for?

लाइम रोग परीक्षण का उपयोग यह पता लगाने के लिए किया जाता है कि क्या आपको लाइम रोग का संक्रमण है।

आपको लाइम रोग परीक्षण की आवश्यकता क्यों है? | Why do you need a Lyme disease test?

photo of female scientist working on laboratory
Photo by Chokniti Khongchum on Pexels.com

यदि आपको संक्रमण के लक्षण हैं तो आपको लाइम रोग परीक्षण की आवश्यकता हो सकती है। लाइम रोग के पहले लक्षण आमतौर पर टिक काटने के तीन से 30 दिनों के बीच दिखाई देते हैं। लाइम रोग के लक्षण में शामिल हो सकते हैं:

    एक विशिष्ट त्वचा लाल चकत्ते जो एक बैल की आंख की तरह दिखता है (एक स्पष्ट केंद्र के साथ एक लाल अंगूठी)

  • बुखार
    • ठंड लगना
    • सिरदर्द
    • थकान
    • मांसपेशियों के दर्द

यदि आपके लक्षण नहीं हैं, लेकिन संक्रमण के जोखिम में हैं, तो भी आपको लाइम रोग टेस्ट कराने की आवश्यकता हो सकती है। आपको अधिक जोखिम हो सकता है यदि :

  • हाल ही में आपके शरीर से एक टिक हटाया गया है;
  • बिना उजागर त्वचा को कवर किए या विकर्षक पहने हुए आप ऐसे भारी जंगली क्षेत्र में चले गए थे, जहां टिक टिक रहते हैं;
  • उपरोक्त गतिविधियों में से कोई एक किया है और; संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्वोत्तर या मध्य-पश्चिमी क्षेत्रों में रहते हैं या हाल ही में गए हैं, जहां अधिकांश लाइम रोग के मामले होते हैं।

लाइम रोग अपने शुरुआती चरणों में सबसे अधिक इलाज योग्य होता है, लेकिन बाद में भी टेस्ट कराने से आपको लाभ हो सकता है। लक्षण जो टिक काटने के हफ्तों या महीनों बाद दिखाई दे सकते हैं। उनमें शामिल हो सकते हैं :

  • भयानक सरदर्द
    • गर्दन में अकड़न
    • गंभीर जोड़ों का दर्द और सूजन
    • शूटिंग दर्द, सुन्नता, या हाथों या पैरों में झुनझुनी
    • स्मृति और नींद विकार

लाइम रोग परीक्षण के दौरान क्या होता है? (What happens during Lyme disease testing?)

लाइम रोग परीक्षण आमतौर पर आपके रक्त या मस्तिष्कमेरु द्रव (cerebrospinal fluid) के साथ किया जाता है।

लाइम रोग रक्त परीक्षण के लिए –

  • एक स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता एक छोटी सुई का उपयोग करके आपकी बांह की नस से रक्त का नमूना लेगा। सुई डालने के बाद, टेस्ट ट्यूब या शीशी में थोड़ी मात्रा में रक्त एकत्र किया जाएगा। सुई अंदर या बाहर जाने पर आपको थोड़ा सा डंक लग सकता है। इसमें आमतौर पर पांच मिनट से भी कम समय लगता है।
  • यदि आपको अपने तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाले लाइम रोग के लक्षण, जैसे गर्दन में अकड़न और हाथों या पैरों में सुन्नता हैं, तो आपको मस्तिष्कमेरु द्रव (सीएसएफ) के परीक्षण की आवश्यकता हो सकती है।

सीएसएफ आपके मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में पाया जाने वाला एक स्पष्ट तरल है। इस परीक्षण के दौरान, आपके सीएसएफ को काठ का पंचर नामक एक प्रक्रिया के माध्यम से एकत्र किया जाएगा, जिसे स्पाइनल टैप भी कहा जाता है।

इस प्रोसीजर के दौरान –

  • आप अपनी तरफ लेटेंगे या परीक्षा की मेज पर बैठेंगे।
  • एक स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता आपकी पीठ को साफ करेगा और आपकी त्वचा में एक संवेदनाहारी (anesthetic ) इंजेक्ट करेगा, ताकि आपको प्रक्रिया के दौरान दर्द महसूस न हो। आपका स्वास्थ्य सेवा प्रदाता इस इंजेक्शन से पहले आपकी पीठ पर सुन्न करने वाली क्रीम भी लगा सकता है।
  • एक बार जब आपकी पीठ का क्षेत्र पूरी तरह से सुन्न हो जाता है, तो आपका स्वास्थ्य सेवा प्रदाता आपकी निचली रीढ़ में दो कशेरुकाओं के बीच एक पतली, खोखली सुई डालेगा। कशेरुक (Vertebrae) छोटी रीढ़ की हड्डी हैं जो आपकी रीढ़ की हड्डी बनाती हैं।
  • आपका स्वास्थ्य सेवा प्रदाता टेस्ट के लिए मस्तिष्कमेरु द्रव की थोड़ी मात्रा निकालेगा। इसमें करीब पांच मिनट का समय लगेगा।
  • जब तरल पदार्थ निकाला जा रहा हो तो आपको बहुत स्थिर रहना होगा।
  • आपका स्वास्थ्य सेवा प्रदाता आपको प्रोसीजर के बाद एक या दो घंटे के लिए अपनी पीठ के बल लेटने के लिए कह सकता है। यह आपको बाद में सिरदर्द होने से रोक सकता है।

टेस्ट की तैयारी के लिए आपको क्या करने की ज़रूरत है?

लाइम रोग रक्त परीक्षण के लिए आपको किसी विशेष तैयारी की आवश्यकता नहीं है।

आपको परीक्षण से पहले अपने मूत्राशय और आंतों को खाली करने के लिए कहा जा सकता है।

क्या लाइम रोग परीक्षण के कोई जोखिम हैं?

रक्त परीक्षण या कटिवात का पंचर होने का बहुत कम जोखिम होता है। यदि आपका रक्त परीक्षण हुआ था, तो आपको उस स्थान पर हल्का दर्द या चोट लग सकती है जहां सुई डाली गई थी, लेकिन अधिकांश लक्षण जल्दी दूर हो जाते हैं।

यदि आपको कटिवात छिद्र (lumbar puncture) है, तो आपकी पीठ में दर्द या कोमलता हो सकती है जहां सुई डाली गई थी। प्रक्रिया के बाद आपको सिरदर्द भी हो सकता है।

लाइम रोग टेस्ट के परिणामों का क्या अर्थ है? (What do the Lyme disease TEST results mean?)

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र ( Centers for Disease Control and Prevention -सीडीसी) आपके नमूने की दो-परीक्षण प्रक्रिया की सिफारिश करता है :

यदि आपका पहला परीक्षण परिणाम लाइम रोग के लिए नकारात्मक है, तो आपको किसी और टेस्ट की आवश्यकता नहीं है।

यदि आपका पहला परिणाम लाइम रोग के लिए पॉजिटिव है, तो आपके रक्त का दूसरा परीक्षण किया जाएगा।

यदि दोनों परिणाम लाइम रोग के लिए पॉजिटिव हैं और आपको संक्रमण के लक्षण भी हैं, तो आपको संभवतः लाइम रोग है।

सकारात्मक परिणामों का मतलब हमेशा लाइम रोग निदान नहीं होता है। कुछ मामलों में, आपको सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं लेकिन संक्रमण नहीं हो सकता है। पॉजिटिव रिजल्ट्स का मतलब यह भी हो सकता है कि आपको एक ऑटोइम्यून बीमारी है, जैसे कि ल्यूपस या रुमेटीइड गठिया।

यदि आपके कटिवात छिद्र का परिणाम सकारात्मक है, तो इसका मतलब यह हो सकता है कि आपको लाइम रोग है, लेकिन निदान की पुष्टि के लिए आपको और परीक्षणों की आवश्यकता हो सकती है।

यदि आपके स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता/ चिकित्सक को लगता है कि आपको लाइम रोग है, तो वह एंटीबायोटिक उपचार लिखेंगे। अधिकांश लोग जिन्हें रोग के प्रारंभिक चरण में एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज किया जाता है, वे पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे।

क्या लाइम रोग परीक्षण के बारे में आपको कुछ और जानने की आवश्यकता है?

आप निम्नलिखित कदम उठाकर लाइम रोग होने की संभावना को कम कर सकते हैं:

  • उच्च घास वाले जंगली क्षेत्रों में चलने से बचें।
  • ट्रेल्स के केंद्र में चलो।
  • लंबी पैंट पहनें और उन्हें अपने जूते या मोजे में बांध लें।
  • अपनी त्वचा और कपड़ों पर DEET युक्त कीट विकर्षक लगाएं।

Web title : What are Lyme disease tests in Hindi?

अन्य नाम : लाइम एंटीबॉडीज़ डिटेक्शन (Lyme antibodies detection), बोरेलिया बर्गडोरफेरी एंटीबॉडी टेस्ट (Borrelia burgdorferi antibodies test), बोरेलिया डीएनए डिटेक्शन (Borrelia DNA Detection), वेस्टर्न ब्लॉट द्वारा आईजीएम / आईजीजी (IgM/IgG by Western Blot), लाइम रोग परीक्षण (सीएसएफ) {Lyme disease test (CSF)}, बोरेलिया एंटीबॉडी (Borrelia antibodies), आईजीएम / आईजीजी (IgM/IgG)

जानकारी का स्रोत – Source: MedlinePlus, National Library of Medicine

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 01 जुलाई 2022 की खास खबर

breaking news today top headlines

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस

Top headlines of India today. Today’s big news 01 July 2022

Din bhar ki khabar | news of the day, hindi news india |top news| Election | Hastakshep news | दिन भर की खबर | आज की खबर | भारत समाचार |शीर्ष समाचार| हस्तक्षेप समाचार

सीए दिवस पर प्रधानमंत्री ने सभी चार्टर्ड एकाउंटेंट को शुभकामनाएं दीं

सीए दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी चार्टर्ड एकाउंटेंट्स को शुभकामनाएं दी हैं। श्री मोदी ने एक वीडियो भी साझा किया है, जिसमें उन्होंने अर्थशास्त्र के क्षेत्र में चार्टर्ड एकाउंटेंट्स के महत्व पर अपने विचार व्यक्त किए हैं।

श्री मोदी ने ट्वीट किया;

“हमारी अर्थव्यवस्था में एक चार्टर्ड अकाउंटेंट की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। सीए दिवस पर, सभी चार्टर्ड एकाउंटेंट्स को शुभकामनाएं। कामना करता हूँ कि वे अर्थव्यवस्था में विकास और पारदर्शिता को आगे बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत करते रहें।”

पेट्रोल और डीजल के निर्यात पर विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क/उपकर, पेट्रोल पर छह रुपये और डीजल पर 13 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से लागू

पेट्रोल और डीजल के उनके निर्यात पर विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क/उपकर, पेट्रोल पर छह रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से लागू कर दिया गया है। ये उपकर देश से डीजल और पेट्रोल के प्रत्येक निर्यात पर लागू होंगे।

वित्‍त मंत्रालय की एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, उपरोक्त पहल निर्यातों के मद्देनजर की गई है, इसलिये उसका कोई भी प्रभाव हाई-स्पीड डीजल और पेट्रोल की घरेलू खुदरा कीमतों पर नहीं होगा।

नूपुर शर्मा को सर्वोच्च न्यायालय से कड़ी फटकार, कहा बदजुबानी ने देश में आग लगा दी

सर्वोच्च न्यायालय ने कहा है कि पैगंबर पर टिप्पणी के लिए नूपुर शर्मा को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए. साथ ही उनके खिलाफ दर्ज सभी एफआईआर को दिल्ली स्थानांतरित करने के लिए राहत देने से इनकार कर दिया। नूपुर ने कोर्ट से अपनी याचिका वापस ले ली.

नूपुर शर्मा पर टिप्पणी करते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि आज जो भी देश में हो रहा है उसके लिए वह अकेली जिम्मेदार हैं।

एकनाथ शिंदे पर उद्धव ठाकरे का बड़ा हमला, कहा – सत्ता के लिए रातोंरात हुआ खेल, ये शिवसेना का मुख्यमंत्री नहीं

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद पहली बार मीडिया के सामने आए। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ने कहा कि, ये जो कहा जा रहा है कि सीएम शिवसेना का है, वो गलत है। एकनाथ शिंदे शिवसेना के सीएम नहीं हैं।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि, सत्ता के लिए रातोंरात खेल किया जा रहा है। मुंबई के लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि, ऐसा कोई काम नहीं करें जो पर्यावरण को खराब करता हो।

एकनाथ शिंदे के बहुमत परीक्षण पर रोक के लिए शिवसेना पहुंची सर्वोच्च न्यायालय

अपने 16 बागी विधायकों के खिलाफ आज शिवसेना सर्वोच्च न्यायालय पहुंची, लेकिन वहां से उसको राहत नहीं मिली। शिवसेना के उद्धव खेमे ने मांग की थी कि सर्वोच्च न्यायालय इन 16 बागी विधायकों को निलंबित करे, जिनके खिलाफ अयोग्यता की कार्यवाही शुरू की गई है। इन 16 विधायकों में महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का भी नाम शामिल है।

फिलहाल इस मामले पर तुरंत सुनवाई से सर्वोच्च न्यायालय ने इनकार कर दिया है। शीर्ष अदालत ने कहा कि वह इस पर 11 जुलाई को ही सुनवाई करेगी।

एड-टेक कंपनियों को अनुचित व्यापार प्रथाओं के खिलाफ सरकार ने चेतावनी दी

केंद्र सरकार ने एड-टेक कंपनियों को अनुचित व्यापार प्रथाओं के खिलाफ चेतावनी दी है। उपभोक्ता मामले विभाग के सचिव, रोहित कुमार सिंह ने आज नई दिल्ली में इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) के तत्वावधान में चलने वाले स्व-नियामक निकाय इंडिया एडटेक कंसोर्टियम (आईईसी) के साथ बैठक की। श्री सिंह ने कहा कि यदि स्व-नियमन अनुचित व्यापार प्रथाओं पर अंकुश नहीं लगाता है, तो पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए कड़े दिशा-निर्देश तैयार करने की आवश्यकता होगी।