जलवायु परिवर्तन से छोटे और युवा होते जंगल

प्रतिष्ठित जर्नल साइंस में प्रकाशित एक शोधपत्र के अनुसार जलवायु परिवर्तन (Climate change), तापमान वृद्धि ( temperature rise) और बड़े पैमाने पर पेड़ों की कटाई के कारण जंगल पहले की अपेक्षा अधिक युवा और आकार में छोटे होते जा रहे हैं. इसका सीधा असर जंगलों द्वारा कार्बन के भंडारण और वन्य जीवों पर पद रहा…… Continue reading जलवायु परिवर्तन से छोटे और युवा होते जंगल

हिमालय में जलवायु परिवर्तन के हो सकते हैं दूरगामी परिणाम

Climate change in Himalayas can have far-reaching consequences नई दिल्ली, 5 जून (उमाशंकर मिश्र ): उत्तरी और दक्षिणी ध्रुवों के बाद सबसे अधिक बर्फ का इलाका होने के कारण हिमालय को तीसरा ध्रुव भी कहा जाता है। हिमालय में जैव विविधता की भरमार है और यहाँ पर 10 हजार से अधिक पादप प्रजातियां पायी जाती…… Continue reading हिमालय में जलवायु परिवर्तन के हो सकते हैं दूरगामी परिणाम

मोदी सरकार ने निकाला पर्यावरण नष्ट करने का आपदा में अवसर

क्या यह वास्तव में भारत में ‘प्रकृति के लिए समय’ है? | Is it really ‘Time for Nature’ in India? While India Focused On COVID-19, Here’s What Govt Did To The Environment पूरा विश्व आज विश्व पर्यावरण दिवस मना रहा है। ‘समय के लिए प्रकृति’ (‘Time for Nature’) इस वर्ष के विश्व पर्यावरण दिवस के लिए…… Continue reading मोदी सरकार ने निकाला पर्यावरण नष्ट करने का आपदा में अवसर

विश्व पर्यावरण दिवस : आप अपने पर्यावरण के बारे में कैसे जागरूक हैं?

वायु प्रदूषण पर दिल्ली-एनसीआर के निवासियों का इन-पर्सन सर्वे। On World Environment Day, the US Embassy in Delhi launched the project “Saaf Hawa Aur Nagrik” in partnership with Lung Care Foundation, a Delhi-based non-profit. नई दिल्ली, 04 जून 2020 :  विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर 4  जून 2020  को नई दिल्ली स्थित अमेरिकी दूतावास…… Continue reading विश्व पर्यावरण दिवस : आप अपने पर्यावरण के बारे में कैसे जागरूक हैं?

एक पखवाड़े के भीतर दो चक्रवातों की पुनरावृत्ति, प्रकृति कुछ कह रही है

Cyclone Nisarga Live Updates हाल ही में अम्फान तूफान तबाही मचा चुका है। हालांकि चक्रवाती तूफान निसर्ग का खतरा अब लगभग टल गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक के अनुसार, हालांकि बारिश और तेज हवाएं जारी रहेंगी लेकिन हवाओं की गति 50 किमी/घंटे से ज्‍यादा नहीं रहेगी। यहां यह ध्यान में रखना महत्वपूर्ण होगा कि…… Continue reading एक पखवाड़े के भीतर दो चक्रवातों की पुनरावृत्ति, प्रकृति कुछ कह रही है

रायपुर, कोरबा,चांपा वायु : अध्ययन में विषाक्त भारी धातु के अधिक मात्रा में जहरीले छोटे कण मिले

प्रदूषण नियंत्रण के लिए तत्काल कार्रवाई का आह्वान Raipur, Korba, Champa Air: Study found toxic small particles of the high amount of toxic heavy metal; Call for immediate action for pollution control कोरबा / जांजगीर – चंपा / रायपुर 02 जून 2020 : कोरबा, चंपा और रायपुर में वायु गुणवत्ता की रेंज जनवरी से फरवरी…… Continue reading रायपुर, कोरबा,चांपा वायु : अध्ययन में विषाक्त भारी धातु के अधिक मात्रा में जहरीले छोटे कण मिले

जानिए मन की बात में आज क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने

मन की बात 2.0’ की 12वीं कड़ी में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन का मूल पाठ Text of Prime Minister Shri Narendra Modi’s address in 12th episode of Mann Ki Baat 2.0 मेरे प्यारे देशवासियों, नमस्कार। कोरोना के प्रभाव से हमारी ‘मन की बात’ भी अछूती नहीं रही है। जब मैंने पिछली बार आपसे…… Continue reading जानिए मन की बात में आज क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने

रिकॉर्ड तोड़ गर्म मौसम एक बड़ा खतरा

Record breaking hot weather a big risk इन दिनों हम सब करोना महामारी के मंडराते संकट के बीच एक के बाद एक हर छोर पर समानांतर संकटों का सामना कर रहे हैं – अम्फान तूफ़ान, टिड्डियों का हमला और उस पर हीटवेव और इन सब की मूल जड़ में जलवायु परिवर्तन (climate change) जो एक…… Continue reading रिकॉर्ड तोड़ गर्म मौसम एक बड़ा खतरा

भारत में टिड्डी प्रकोप का जलवायु परिवर्तन से रिश्ता

Locust outbreak in India related to climate change देश पहले ही वैश्विक महामारी कोरोना और लाकडाउन का सामना कर रहा है इस बीच टिड्डियों के झुंड ने धावा बोल दिया। राजस्थान और गुजरात में तो टिड्डियों के झुंड छाये ही रहे लेकिन पिछले ढाई दशक में पहली बार महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में…… Continue reading भारत में टिड्डी प्रकोप का जलवायु परिवर्तन से रिश्ता

जलवायु परिवर्तन के चलते ‘डस्‍ट बोल’ काल के मुकाबले दोगुनी गर्मी पड़ने की आशंका

1930 के दशक में “डस्‍ट बोल” काल (dust bowl 1930) के दौरान अमरीका के विशाल मैदानी इलाके में रिकॉर्डतोड़ गर्मी बेहद लम्‍बे वक्‍त तक चली हीट वेव्स के कारण हुई थी। In the US, there is a one-and-a-half-time chance of the heat of the dust bowl era in the 1930s How was America transformed from…… Continue reading जलवायु परिवर्तन के चलते ‘डस्‍ट बोल’ काल के मुकाबले दोगुनी गर्मी पड़ने की आशंका

जानिए जीवाश्म क्या हैं?

जीवाश्म क्या हैं? What is a fossil? आज इस समाचार में जानिए कि जीवाश्म क्या होते हैं (fossil in Hindi)? कैसे बनते हैं जीवाश्म ? किसी भी विलुप्त जंतु या पौधे के किसी समय जीवित होने का प्रमाण (Evidence of extinct animals or plants being alive at any time) जीवाश्म कहलाता है। जीवाश्म कैसे बनते…… Continue reading जानिए जीवाश्म क्या हैं?

जानिए क्यों सूखती हैं बारहमासी नदियां?

Know why perennial rivers dry up? बीसवीं सदी के पहले कालखण्ड तक भारत की अधिकांश नदियाँ बारहमासी थीं। हिमालय से निकलने वाली नदियों (rivers originating in the Himalayas) को बर्फ के पिघलने से अतिरिक्त पानी मिलता था। पानी की पूर्ति बनी रहती थी इस कारण उनके सूखने की गति अपेक्षाकृत कम थी। नदी के कछार…… Continue reading जानिए क्यों सूखती हैं बारहमासी नदियां?

आप घुमंतू चरवाहों के बारे में क्या जानते हैं?

Know About Nomadic Shepherds in Hindi | घुमंतू चरवाहों के बारे में जानें घुमंतू की परिभाषा | घुमंतू किसे कहते हैं | definition of nomad in Hindi घुमंतू ऐसे लोग होते हैं जो किसी एक जगह टिक कर नहीं रहते बल्कि रोजी-रोटी की जुगाड़ में यहाँ से वहाँ घूमते रहते हैं। भारत के कई हिस्सों…… Continue reading आप घुमंतू चरवाहों के बारे में क्या जानते हैं?

पर्यावरण असंतुलन जिम्मेदार कौन ?

पर्यावरण असंतुलन : कारण और समाधान आज के युग में बढ़ते प्राकृतिक असंतुलन के क्या कारण हैं? आवश्यकताएं तथा उपभोक्तावृत्ति | needs and consumerism पर्यावरण के असंतुलन के दो प्रमुख कारण (Two main causes of environmental imbalance) हैं। एक है बढ़ती जनसंख्या और दूसरा बढ़ती मानवीय आवश्यकताएं तथा उपभोक्तावृत्ति। इन दोनों का असर प्राकृतिक संसाधनों…… Continue reading पर्यावरण असंतुलन जिम्मेदार कौन ?