Home » हस्तक्षेप » स्तंभ (page 10)

स्तंभ

article, piece, item, story, report, account, write-up, feature, review, notice, editorial, etc. of our columnist

पूनावाला देश छोड़कर क्यों भागा, मोदी सरकार जवाब दो ! कौन लोग हैं जो पूनावाला को परेशान करते रहे हैं ?

narendra modi

Why did Poonawalla run away from the country, Modi government should answer! Who are the people who have been harassing Poonawala? Adar Poonawalla on vaccine pressure in India अदार पूनावाला का एक अंग्रेज़ी अखबार दिया गया इंटरव्यू (An English newspaper interview of Adar Poonawalla) पढ़ें और इसे सही राजनीतिक परिप्रेक्ष्य में समझें। पूनावाला ने इस इंटरव्यू में बहुत बड़ा विस्फोट …

Read More »

देश को किसने बनाया मजदूरों ने या हरामखोरों ने ?

may day

मई दिवस पर विशेष- Special on may day in Hindi मीडिया में आए दिन हर तरह के पर्व और उत्सव पर कवरेज मिलेगा लेकिन मजदूर दिवस पर मजदूरों के ऊपर, मजदूरों की बस्ती या मजदूरों की समस्याओं पर कवरेज नहीं मिलेगा। मीडिया को मजदूरों से इतना परहेज और घृणा क्यों है? | Why does the media have so much disdain …

Read More »

“70 सालों में कुछ नहीं हुआ” का शोर मचाने वालों ने 7 सालों में यह हालत बना दी कि लोग फुटपाथों पर दम तोड़ रहे

narendra modi violin

महामारी : आरएसएस के बयान के निहितार्थ Epidemic: Implications of RSS statement राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को अटलबिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में छह साल तक आंशिक रूप से सत्ता में हिस्सेदारी का अनुभव मिला था। अब नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उसे सात साल पूर्ण रूप से सत्ता में रहने का अनुभव हो चुका है। आरएसएस कांग्रेस की …

Read More »

वैक्सीन श्वेतपत्र जारी करे मोदी सरकार, मास्क मुहैय्या कराए बिना गीता के ज्ञान की तरह मास्क ज्ञान देना बंद करे

narendra modi

Modi government to issue vaccine whitepaper जिन गरीबों के पास कभी एक रुमाल नहीं देखा, वे कभी रुमाल नहीं खरीद पाते, उनसे मोदी सरकार कह रही है मास्क लगाओ तब घर के बाहर निकलो। इस बुद्धिहीन सरकार को कौन समझाए कि वह गरीबों की झोपड़ी में जाकर हर एक को पहले मास्क मुहैय्या कराए। भूखे लोग कहाँ जाएँ ? मास्क …

Read More »

आज है फासिज्म की पराजय और जनता की विजय का महादिवस

इतिहास में आज का दिन, Today’s History, Today’s day in history,आज का इतिहास,

इतिहास में आज का दिन | Today’s History | Today’s day in history | आज का इतिहास जो लोग मार्क्सवाद और कम्युनिज्म को आए दिन अतार्किकों की तरह गालियां देते हैं और उनके प्रति घृणा का प्रचार करते हैं वे जान बूझकर कम्युनिस्टों की कुर्बानियों (Communist sacrifices) को छिपाते हैं। Hitler and his army were killed by entering his house आज के दिन को एकमात्र …

Read More »

आरएसएस का मार्गदर्शक मुसोलिनी : संघ का हिन्दू संस्कृति से कोई संबंध नहीं

RSS Half Pants

Moonje & Mussolini संघी कार्यकर्ता और भक्त इन दिनों मुझसे नाराज हैं। जब मौका मिलता है अनाप-शनाप प्रतिक्रिया देते हैं। उनकी विषयान्तर करने वाली प्रतिक्रियाएं इस बात का सकेत है कि वे संघ के इतिहास और विचारधारा के बारे में सही बातें नहीं जानते हैं। उनकी इसी अवस्था ने मुझे गंभीरता के साथ संघ के बारे में तथ्यपूर्ण लेखन के …

Read More »

कोरोना के प्रति मोदी के ग़ैर-ज़िम्मेदाराना रुख़ के मूल में संघ की फ़ासिस्ट विचारधारा है

narendra modi violin

At the core of Modi’s irresponsible attitude towards Corona is the Sangh’s fascist ideology आज कोरोना के डरावने मंजर को देखते हुए पूरी मोदी सरकार का बंगाल में डेरा डाल कर बैठे रहना, या जब भारत में संक्रमण की दर ने सारी दुनिया के लोगों को चिंतित कर दिया है, तब मोदी का सेंट्रल विस्टा के काम को अतिरिक्त प्राथमिकता …

Read More »

बंगाली कामरेडों ने भाजपा और फासिस्ट मनुस्मृति राज को ही मजबूत किया, देश को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी

CPIM

Bengali comrades strengthened BJP and fascist Manusmriti Raj, the country will have to pay a heavy price for it. पश्चिम बंगाल के एग्जिट पोल (Exit poll of west bengal) जो भी बता रहे हों, नतीजे अलग भी हो सकते हैं। लेकिन मतदाताओं का ध्रुवीकरण भाजपा और भाजपा बिरोध के मध्य हुआ है। साफ जाहिर है कि भाजपा विरोधी वोटरों ने …

Read More »

चुनाव आयोग की कड़ाई का सच

Today's Deshbandhu editorial

The truth of the strictness of the Election Commission (देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today) चुनाव आयोग (Election commission) ने विधानसभा चुनावों की मतगणना (Counting of assembly elections) के दिन, यानी दो मई को और उसके बाद भी राजनीतिक दलों के विजय जुलूस निकालने पर पाबंदी (Ban on political parties taking out the victory procession) लगा दी है। देश …

Read More »

महामारी को अवसर और उत्सव बनाने वालों से आपको कौन बचाएगा?

Corona virus COVID19, Corona virus COVID19 image

Who will protect you from making the epidemic an occasion and celebration? मशहूर साहित्यकार मित्र रूप सिंह चंदेल ने लिखा है- जिला प्रशासन ने कल मेरी सोसायटी (विपुल गार्डेन, धारूहेड़ा) को कंटेनमेंट ज़ोन घोषित किया। 70 से अधिक मरीज। यह सब था पर लोग मस्त थे। अब चारों ओर सन्नाटा है। चंदेल जी के लिखे से फिर साफ हो गया …

Read More »

ऑक्सीजन के अभाव में मौतें, यह खून किसके हाथों पर है ?

Novel Coronavirus SARS-CoV-2 Colorized scanning electron micrograph of a cell showing morphological signs of apoptosis, infected with SARS-COV-2 virus particles (green), isolated from a patient sample. Image captured at the NIAID Integrated Research Facility (IRF) in Fort Detrick, Maryland.

Deaths due to lack of oxygen, on whose hands is this blood? अगर कोविड-19 महामारी (COVID-19 Epidemic) के बेकाबू होने में अब भी किसी को संदेह हो, तो राजधानी दिल्ली में, 25 अप्रैल को लगातार पांचवें दिन, अस्पतालों में ऑक्सीजन का प्राणघातक संकट बने रहने से दूर हो जाना चाहिए। और तो और, कोविड-19 पर ही प्रधानमंत्री के द्वारा बुलाई …

Read More »

एक बड़ा वर्ग महामारी की राजनीति कर रहा है और व्यापार भी

Novel Coronavirus SARS-CoV-2 Colorized scanning electron micrograph of a cell showing morphological signs of apoptosis, infected with SARS-COV-2 virus particles (green), isolated from a patient sample. Image captured at the NIAID Integrated Research Facility (IRF) in Fort Detrick, Maryland.

A large section is doing pandemic politics and also business इतनी बुरी खबरें चारों दिशाओं से आ रही हैं कि हिम्मत टूट रही है। इसी बीच कुछ बेहतर खबरें भी आ रही हैं। हमारे अग्रज सहयोद्धा कौशल किशोर जी और महेंद्र नेह जी, दोनों कोरोना को हराकर सकुशल घर लौटे हैं और पहले की तरह सक्रिय हो गए हैं। प्रेरणा …

Read More »

‘अच्छे दिन’ के हकदार : महामारी के आईने में कॉरपोरेट इंडिया की नंगी सच्चाई

Modi with Ambani Tata

‘अच्छे दिन’ के हकदार पहले भी कॉरपोरेट इंडिया के दावेदार थे, आज भी वे ही हैं, और कल भी वे ही रहेंगे। इस सच्चाई की लंबी-चौड़ी व्याख्या की जरूरत नहीं नंगी सच्चाई | Bare truth: Corporate India is loaded on the back of the toiling masses पिछले साल 24-25 मार्च की रात से जब प्रधानमंत्री ने देश पर लॉकडाउन थोपा …

Read More »

मर रही है पृथ्वी, आखिर तक बचे रहेंगे गांव?

Nature And Us

मर रही है पृथ्वी, बचे रहेंगे गांव। गांव को ऑक्सीजन सिलिंडर की जरूरत नहीं है इस पृथ्वी को हमने गैस चैंबर बना दिया है। प्रकृति पर अत्याचार, प्राकृतिक संसाधनों का निर्मम दोहन, अनियंत्रित कार्बन उत्सर्जन (Uncontrolled carbon emissions), खेती किसानी का सत्यानाश, जंगलों की अंधाधुंध कटाई, नदियों की हत्या, जलस्रोतों और समुंदर से लेकर अंतरिक्ष तक का सैन्यीकरण- सर्वोपरि हरियाली …

Read More »

क्या यह सुनियोजित जनसंहार नहीं है?

Corona virus COVID19, Corona virus COVID19 image

लगातार घनिष्ठ मित्रों, साथियों और प्रियजनों के कोरोना संक्रमित होने की खबरें मिल रही हैं। उत्तराखंड में आज से शाम सात बजे से रात्रि कर्फ्यू है। दोपहर दो बजे से सब कुछ बन्द। सिर्फ लॉकडाउन कहा नहीं जा रहा। कालाबाज़ारी की धूम मची है। जरूरी चीजें अनाज, दालों, खाद्य तेल से लेकर जीवनरक्षक दवाओं तक की कीमतें आसमान छू रही …

Read More »

नक्षत्र साहित्य और नक्षत्र साहित्यकार

Jagadishwar Chaturvedi जगदीश्वर चतुर्वेदी। लेखक कोलकाता विश्वविद्यालय के अवकाशप्राप्त प्रोफेसर व जवाहर लाल नेहरूविश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष हैं। वे हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

हिंदी में ऐसे लेखक-आलोचक रहे हैं, और आज भी हैं, जो कभी सत्ता की जनविरोधी नीतियों और जुल्म के खिलाफ नहीं बोलते हैं और नही लिखते हैं। इनमें से अधिकतर पुरस्कार पाते  रहे हैं। इनको हिंदी लेखकों की दुनिया में सबसे बड़े ओहदे पर रखा जाता है। इस तरह के लेखकों की देश में पूरी पीढ़ी तैयार हुई है। इस …

Read More »

अनुशासनहीनता के कारण आई कोरोना की भयावह दूसरी लहर !

COVID-19 news & analysis

The horrific second wave of corona due to indiscipline! Indiscipline has entered our blood जब नेपोलियन रूस से हार कर वापस आया तो उससे हार का कारण पूछा गया। उसका उत्तर था, “मुझे लेफ्टिनेंट जनरल फ्रास्ट ने हराया है” (फ्रास्ट बाईट अत्यधिक बर्फीली सर्दी में होने वाली खतरनाक बीमारी है)। इसी तरह यदि कोई मुझसे पूछे कि कोरोना की भयावह …

Read More »

पीछे की ओर यात्रा : ज्ञानवापी मस्जिद

Dr. Ram Puniyani

Hindi Article by Dr Ram Puniyani -Reviving Temple Disputes-Gyanwapi वाराणसी की जिला अदालत ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) को ज्ञानवापी मस्जिद के अतीत की पड़ताल करने का निर्देश दिया है. उपासना स्थल (विशेष उपबंध) अधिनियम 1991 के अनुसार, सभी आराधना स्थलों में वही यथास्थिति रहेगी जो स्वाधीनता के समय थी. ऐसी खबर है कि उच्चतम न्यायालय इस अधिनियम का पुनरावलोकन …

Read More »

महामारी में गंगास्नान : मोदीजी के आत्मनिर्भर भारत में अपनी फिक्र खुद करें, क्योंकि सरकार आपदा में अवसर ढूंढने में व्यस्त है

Today's Deshbandhu editorial

(देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today) पूरी दुनिया पिछले एक साल से भी अधिक वक्त से कोरोना के खौफ में जी रही है। भारत दुनिया के सर्वाधिक कोरोना प्रभावित देशों में से एक है और इसकी दूसरी लहर तो देश पर बहुत भारी पड़ती दिख रही है। अब देश में रोजाना एक-डेढ़ लाख मामले सामने आ रहे हैं। अस्पतालों …

Read More »

डियर प्रशांत किशोर लड़ाई तो टीएमसी और वाम-कांग्रेस के बीच है

prashant kishore

बंगाल में भाजपा के बारे में प्रशांत किशोर का आकलन अतिशयोक्तिपूर्ण लगता है Prashant Kishore’s assessment of BJP in Bengal seems exaggerated. भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव (2019 Lok Sabha Elections) में बंगाल में 40 प्रतिशत मत मिले थे। वह 2016 के विधान सभा चुनाव में भाजपा के 10.2 प्रतिशत मतों से एक लंबी छलांग थी। लेकिन टीएमसी के …

Read More »

सीरियल संस्कृति, राजनीति और विचारधारा : टेलीविजन की खतरनाक राजनीति

Dangerous politics of television

Jagadishwar Chaturvedi was live on 6th April 2020 टीवी एक माध्यम के रूप में जहां भी TV  गया, स्वभावतः वह कंजर्वेटिव है। टीवी ने समाज में तरह तरह के घेटो तैयार किए। अमेरिका के समाज में हजारों घेटो मिलेंगे टीवी की अंतर्वस्तु महत्वपूर्ण नहीं है। सोवियत संघ में टीवी का सबसे बड़ा नेटवर्क था। सोवियत संघ पहला राष्ट्र था जिसने …

Read More »