Home » हस्तक्षेप » स्तंभ (page 20)

स्तंभ

article, piece, item, story, report, account, write-up, feature, review, notice, editorial, etc. of our columnist

ओवैसी क्यों देश के लिए हानिकारक और भाजपा के लिए लाभदायक हैं

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

चुनावों में क्या वाकई चुनने के लिए कुछ नहीं है? Dr Ram Puniyani‘s Hindi Article – Bihar Elections: Role of Owaisi पिछले लगभग तीन दशकों से समय-समय पर कहा जाता रहा है कि कांग्रेस और भाजपा एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. इसी धारणा के चलते तीसरे मोर्चे की आवश्यकता महसूस की गई. तीसरे मोर्चा से आशय है गैर-भाजपा …

Read More »

सुनो ‘मोशा’! जो बिहार में न हो पाया वो बंगाल के चुनाव में होगा

26th November left Bengal

बंगाल के चुनाव में बिहार का अधूरा काम पूरा होगा जो भी बिहार के चुनाव (Bihar elections) को मोदी की लोकप्रियता का प्रमाण (Proof of Modi’s popularity) मानता है, वैसे, कवि कैलाश वाजपेयी के शब्दों में, “चुका हुआ / नंगे पत्थर के आगे झुका हुआ/ औरों के वास्ते विपदाएं मांगता / नाली में पानी रुका हुआ !” ‘ईश्वरभक्त’ को यदि …

Read More »

अपरिभाषेय राष्ट्रवाद की परिभाषा !

raashtravaad, deshabhakti aur deshadroh

Definition of undefined nationalism! जेएनयू के परिसर में सन् 2016 की सर्दियों में हुए राष्ट्रवाद पर भाषणों के संकलन, ‘What the nation really needs to know’ के बाद अभी हाल में अनामिका प्रकाशन से राष्ट्रवाद के बारे में लेखों का एक महत्वपूर्ण संकलन (An important compilation of articles about nationalism), “राष्ट्रवाद, देशभक्ति और देशद्रोह” आया है — सर्वश्री अरुण कुमार …

Read More »

मंगलसूत्र, पितृसत्तात्मकता और धार्मिक राष्ट्रवाद : डॉ राम पुनियानी का आलेख

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Mangalsutra, patriarchalism and religious nationalism: Article by Dr Ram Puniyani in Hindi गोवा के लॉ स्कूल में सहायक प्राध्यापक शिल्पा सिंह के खिलाफ हाल (नवम्बर 2020) में इस आरोप में एक एफआईआर दर्ज (FIR against Shilpa Singh, Assistant Professor in Goa’s Law School) की गई कि उन्होंने मंगलसूत्र की तुलना कुत्ते के गले में पहनाए जाने वाले पट्टे से की. …

Read More »

आख़िर कुणाल कामरा ने किया क्या है ?

Kunal Kamra

कहते हैं कि स्टैंडअप कॉमेडियन कुणाल कामरा (Standup comedian Kunal Kamra) पर अदालत की अवमानना (contempt of court) के लिए सुप्रीम कोर्ट में मुक़दमा चलाया जाएगा – उस कोर्ट में जिसने चार दिन पहले अर्णब गोस्वामी के स्तर के बदमिजाज एंकर की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए यह फ़ैसला दिया था कि जिसे वह बुरा लगता है, वह उसे देखता …

Read More »

केबीसी में मनुस्मृति दहन पर प्रश्न से मचा बवाल

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Hindi Article by Dr Ram Puniyani -KBC Question on Manusmiriti Burning by Dr Ambedkar ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (केबीसी) सबसे लोकप्रिय टीवी कार्यक्रमों में से एक है. इसमें भाग लेने वालों को भारी भरकम धनराशि पुरस्कार के रूप में प्राप्त होती है. हाल में कार्यक्रम के ‘कर्मवीर’ नामक एक विशेष एपीसोड में अमिताभ बच्चन ने पहले से तैयार स्क्रिप्ट के आधार …

Read More »

आरएसएस की जुबानी, आरएसएस की कहानी : चालू पत्रकार की चालू किताब

RSS Sangh ka safar 100 varsh पुण्य प्रसून वाजपेयी की किताब ‘आर.एस.एस. (संघ का सफर : 100 वर्ष)

पुण्य प्रसून वाजपेयी की किताब – आर.एस.एस. (संघ का सफर : 100 वर्ष) पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी की चंद रोज पहले ही किताब आई है — ‘आर.एस.एस. (संघ का सफर : 100 वर्ष)। पैंतीस छोटे-छोटे कहानियोंनुमा अध्यायों से बनी 206 पन्नों की  किताब। संघ को विचारधारा का पर्याय मान कर राजनीति और विचारधारा के बीच संबंधों के एक चिरंतन सवाल …

Read More »

ढीठ ट्रंप और दक्षिणपंथी राजनीति : ट्रंप की हार अमेरिका में जनतंत्र की ताक़त की सूचक होगी

Donald Trump

Insolent Trump and Right-wing Politics: Trump’s defeat is indicative of the power of democracy in America यह कहने में अब ज़रा भी संकोच नहीं रह गया है कि ट्रंप पराजित हो चुके हैं। अमेरिकी चुनाव प्रणाली की वजह मात्र से इसकी घोषणा में देर हो रही है, पर बची हुई मतगणना के रुझानों से साफ है कि 540 के इलेक्टोरल …

Read More »

ट्रंप ने अपनी भारी हार को खुद ही सुनिश्चित कर लिया है, ट्रंप इतिहास में सबसे ज्यादा मतों से हारने वाले राष्ट्रपति होंगे

Victory of joe biden in America and Tejashwi in Bihar

Trump has ensured his massive defeat by himself डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने वास्तव में अमेरिकी जनतंत्र (American democracy) के सामने जिसे दर्शनशास्त्र की भाषा में हेगेलियन क्षण (Hegelian moments in the language of philosophy) कहते हैं, उसकी परिस्थिति पैदा कर दी है। ट्रंप स्वतंत्रता की बात करते हैं, कहते हैं कि बाइदेन (joe biden) के आने से अमेरिकी समाज …

Read More »

चीन दुत्कार रहा और आरएसएस-मोदी सुलह करने पर जोर दे रहे

RSS-Modi's politics and China

आरएसएस-मोदी की राजनीति और चीन RSS-Modi’s politics and China मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, दोनों ही पिछले दिनों अपने तमाम बयानों में चीन के साथ सुलह करने की बात पर अस्वाभाविक रूप में अतिरिक्त बल देते दिखाई पड़ रहे हैं। सारी दुनिया जानती हैं कि चीन की भारत की सीमाओं में घुस कर निर्माण की गतिविधियां पुरजोर जारी है। …

Read More »

चार्ली हेब्डो कार्टून और समकालीन विश्व में ईशनिंदा कानून

Dr. Ram Puniyani

French Turmoil and Muslim World- The Rise of Islamophobia after 9/11- links of Comic Novels हिन्दी में डॉ. राम पुनियानी का लेख : चार्ली हेब्डो कार्टून (Charlie Hebdo) और समकालीन विश्व में ईशनिंदा कानून रूसी मूल के 18 साल के मुस्लिम किशोर द्वारा फ्रांस के स्कूल शिक्षक सेम्युअल पेटी की हत्या (French school teacher Samuel Petty murdered by 18-year-old Muslim …

Read More »

बिहार की चुनावलीला | Bihar Election 2020 | Mehbooba Mufti |

Bihar Cgunav Ghumta hua aaina

News of the week | बिहार की चुनावलीला | Bihar Election 2020 | Mehbooba Mufti |#GHA​ | #DBLIVE​ तो बिहार में चुनावी रंगमंच अब पूरी तरह सज चुका है। अब तक पर्दे के पीछे से संवाद की प्रैक्टिस में लगे नेता अब अपने किरदारों को निभाने के लिए एक के बाद एक आते जा रहे हैं। किसकी परफारमेंस जनता को …

Read More »

विजया दशमी पर संघ प्रमुख का संबोधन : इस बार तो भागवत ने कुछ अतिरिक्त ही हताश किया, सत्ता का इतना खौफ!

Mohan Bhagwat's address on Vijayadashami

विजयादशमी पर मोहन भागवत का संबोधन अनपेक्षित स्तर तक निराशाजनक Mohan Bhagwat’s address on Vijayadashami disappointing to an unexpected level यह सच है कि मोहन भागवत के विजया दशमी के कर्मकांडी भाषण का संघ के एक पूर्व कट्टरतावादी प्रचारक की सरकार के काल में भी कोई विशेष सांस्थानिक मायने नहीं है, यह किसी पिटे हुए मोहरे की जोर आजमाइश के …

Read More »

बिहार : चक्रव्यूह में फंसे नीतीश अब तो हार के ही जीत सकते हैं

Nitish Kumar Bihar CM

Bihar: Nitish trapped in Chakravyuh can now win only after the defeat प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने यूं तो पिछले छ: साल में किसी भी चुनाव में अपनी ओर से कोई कोशिश उठा नहीं रखी है, फिर भी बिहार में विधानसभा के चुनाव (Assembly elections in Bihar) में वह जितना और जिस तरह जोर लगा रहे हैं, …

Read More »

डॉ. राम पुनियानी का लेख – विविधता : राष्ट्रनिर्माण में सहायक या बाधक

Dr. Ram Puniyani

हिन्दी में डॉ. राम पुनियानी का लेख – विविधता : राष्ट्रनिर्माण में सहायक या बाधक Dr. Ram Puniyani’s article in Hindi – Diversity: Aiding or inhibiting nation building क समाचार के अनुसार, ब्रिटेन के चांसलर ऑफ़ द एक्सचेकर ऋषि सुनाक ने 17 अक्टूबर 2020 को 50 पेन्स का एक नया सिक्का जारी किया. सिक्के को ‘डायवर्सिटी क्वाइन’ का नाम दिया …

Read More »

फिरकापरस्त, भारतीय संविधान और मुस्लिम अल्पसंख्यक

Dr. Ram Puniyani

Communal, Indian Constitution and Muslim Minorities डॉ. राम पुनियानी द्वारा अंग्रेजी में लिखे गए लेख “फिरकापरस्त, भारतीय संविधान और मुस्लिम अल्पसंख्यक” का हिन्दी अनुवाद एक वर्ष पूर्व (अक्टूबर 10, 2019) आरएसस के मुखिया मोहन भागवत ने कहा था कि भारत में रहने वाले मुसलमान हिन्दुओं के कारण दुनिया में सर्वाधिक सुखी हैं. अब वे एक कदम आगे बढ़कर कह रहे …

Read More »

दलित व स्त्रीविरोधी है हिंदुत्व के राज का असली चेहरा : अंतर दिल्ली तथा हाथरस की निर्भयाओं का

HATHRAS हाथरस गैंगरेप : व्यवस्था और मानवता का अंतिम संस्कार

हिंदुत्व की राजनीति और अंतर दिल्ली तथा हाथरस की निर्भयाओं का The politics of Hindutva and the difference between Nirbhayas of Delhi and Hathras दरिंदगियों में अंतर खोजना, निरर्थक ही नहीं, नुकसानदेह भी होता है। आखिरकार, दरिंदगी के अलग-अलग प्रकरणों में किसी को ज्यादा भयानक बताना, परोक्ष रूप से वैसे ही दूसरे प्रकरणों को कम भयानक बताने का ही काम …

Read More »

रामविलास शर्मा जिन्होंने इस मिथ का खंडन किया कि प्राचीनकाल में ब्राह्मणों की प्रधानता थी

Ram Vilas Sharma

हिंदी के महान आलोचक रामविलास शर्मा का आज जन्मदिन है | इतिहास में आज का दिन | आज का इतिहास Today is the birthday of Ram Vilas Sharma, a great critic of Hindi अस्मिता, अंबेडकर और रामविलास शर्मा रामविलास शर्मा के लेखन में अस्मिता विमर्श को मार्क्सवादी नजरिए से देखा गया है। वे वर्गीय नजरिए से जाति प्रथा पर विचार …

Read More »

सत्ताधारियों का गोडसेवादी हिंदुत्व न तो संतों की परंपरा का है और ना गांधी की

Mahatma Gandhi महात्मा गांधी

गाँधी और गोडसे : विरोधाभासी राष्ट्रवाद Hindi Article By Dr. Ram Puniyani -Gandhi and Godse– Contrasting Nationalism इस वर्ष गांधी जयंती (2 अक्टूबर 2020) पर ट्विटर पर ‘नाथूराम गोडसे जिन्दाबाद‘ के संदेशों का सैलाब आ गया और इसने इसी प्लेटफार्म पर गांधीजी को दी गई श्रद्धांजलियों को पीछे छोड़ दिया. इस वर्ष गोडसे पर एक लाख से ज्यादा ट्वीट किए …

Read More »

डॉ. राम पुनियानी का लेख : धर्मपरिवर्तन और भारत में ईसाई-विरोधी हिंसा

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

एफसीआरए में प्रस्तावित संशोधनों (FCRA proposed amendments) पर लोकसभा में बोलते हुए भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह (BJP MP Satyapal Singh) ने विदेशों से आने वाली सहायता पर प्रतिबंध लगाने का समर्थन किया. इस सिलसिले में उन्होंने पास्टर ग्राहम स्टेन्स (Pastor Graham Stuart Staines) का उल्लेख करते हुए उनके खिलाफ विषवमन किया. उन्होंने दावा किया कि पास्टर ने 30 आदिवासी महिलाओं …

Read More »

नवउदारवादी शिकंजे में आजादी और गांधी

Mahatma Gandhi महात्मा गांधी

यह लेख पाँच वर्ष पुराना है, गांधी जयंती के अवसर पर पुनः प्रकाशित किया जा रहा है 1. Independence and Gandhi in neo-liberal clutches आरएसएस ने आजादी के संघर्ष में हिस्सा नहीं लिया; और वह गांधी की हत्या के लिए जिम्मेदार है – ये दो तथ्य नए नहीं हैं। आजादी के बाद से आरएसएस के खिलाफ इन्हें अनेक बार दोहराया …

Read More »