चौथा खंभा

चरित्र हनन, समाज में वैमनस्य व कटुता उत्पन्न करना ट्रोल आर्मी का प्रारंभिक “युगधर्म” है

देशबन्धु : चौथा खंभा बनने से इनकार अखबार अथवा प्रेस और सत्तातंत्र के जटिल संबंधों… Read More

पत्रकारिता दिवस पर डॉ. कमला माहेश्वरी ‘कमल’ के कुछ दोहे

Some couplets of Dr. Kamla Maheshwari 'Kamal' on Journalism Day ?आज पत्रकारिता दिवस पर सभी… Read More

‘सिधपुर की भगतणें’ : प्रमादग्रस्त स्त्रियों की शील कथा

लगभग तीन साल पहले अपनी एक ट्रेन यात्रा में हमने इस उपन्यास को पढ़ने की… Read More

‘अनसुनी आवाज’: एक जरूरी किताब

एक अच्छा लेखक वही होता है (Who is a good writer) जो अपने वर्तमान समय… Read More

कोरोना योद्धा के नाम पर ऑनलाइन सम्मान पत्र का धंधा

Online honor letter business in the name of Corona warrior कोरोना से जंग लड़ रहे योद्धाओं… Read More

तुम इतराते रहे हो अपने शहरी होने पर जनाब! काश! हम भी गाँव वापस लौट पाते

कोरोना काल से- गुफ्तगू/पैदल रिपोर्टिंग "शहर रहने लायक बचे नहीं हैं। छोटे कस्बे और गाँव… Read More

इन मज़दूरों का जुर्म था क्या ?

What was the crime of these workers? (मोहम्मद खुर्शीद अकरम सोज़) --------------------------------   रेल की… Read More

इस तरह चुपचाप निकल गया शशिभूषण द्विवेदी

शशिभूषण द्विवेदी के असामयिक निधन (Untimely demise of Shashibhushan Dwivedi) से स्तब्ध हूँ। गम्भीर सिंह… Read More

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations