Home » हस्तक्षेप » आपकी नज़र (page 59)

आपकी नज़र

Guest writers views devoted to commentary, feature articles, etc.. अतिथि लेखक की टिप्पणी, फीचर लेख आदि

नई शिक्षा नीति : युवाओं को दिहाड़ी मजदूर बनाने का कार्यक्रम

Modi in Gamchha

हम नई शिक्षा नीति पर सम्वाद (Communication on new education policy) शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं। विशेषज्ञों से हमें नई शिक्षा नीति पर मुख्य आपत्तियों के कुछ बिंदु मिले हैं, जो मूल अंग्रेजी में शेयर किए जा रहे हैं। हम चाहते हैं कि कक्षा पांच तक मातृभाषा के माध्यम से शिक्षा की योजना सर्वत्र लागू हो। उत्तराखण्ड में …

Read More »

शहीद उधम सिंह ने मोहम्मद सिंह आज़ाद के तौर पर फांसी के फंदे को चूमा!

Shaheed Udham Singh

जलियांवाला-बाग़ क़त्लेआम का बदला लेने वाले शहीद उधम सिंह की शहादत बरसी पर Unsung martyr: Udham Singh who avenged the Jallianwala Bagh massacre जलियांवाला-बाग़ अमृतसर में 13 अप्रेल 1919 में हुए क़त्लेआम में शहीद हुए देशवासियों की सूची से यह सच बहुत साफ़ होकर सामने आती है कि बाग़  में हिन्दू, सिख और मुसलमान बडी  तादाद में मौजूद थे। अँगरेज़ …

Read More »

वैक्सीन : मूर्ख राजनेताओं के दबाव से किसी भी प्रकार की हड़बड़ी के मानव प्रजाति पर घातक प्रभाव होंगे

Novel Coronavirus SARS-CoV-2 Colorized scanning electron micrograph of a cell showing morphological signs of apoptosis, infected with SARS-COV-2 virus particles (green), isolated from a patient sample. Image captured at the NIAID Integrated Research Facility (IRF) in Fort Detrick, Maryland.

Vaccine: Any type of haste under the pressure of foolish politicians will have fatal effects on the human species. कोरोना काल सभी समाजों के मूलगामी पुनर्विन्यास की मांग करता है सात महीने बीत रहे हैं, पर सच यही है कि कोरोना आज भी एक रहस्य ही बना हुआ है। यह सारी दुनिया में फैल चुका है, कुछ देशों ने इसके …

Read More »

मोदी ने बहुजनों को गुलामों की स्थिति में डाल दिया है

Prime Minister, Shri Narendra Modi paying tributes to the Martyrs during the Virtual Conference with the Chief Ministers, in New Delhi on June 17, 2020.

Modi has put Bahujans in the status of slaves. मोदी ने बहुजनों के समक्ष नहीं छोड़ा है कोई विकल्प! |  मुक्ति की लड़ाई में उतरने से भिन्न                                 2014 में बेरोजगारों को हर साल 2 करोड़ नौकरियाँ देने तथा प्रत्येक व्यक्ति के खाते में 100 दिन के अंदर 15 लाख जमा कराने के वादे के साथ सत्ता में आई मोदी सरकार ने …

Read More »

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या और उससे उठे सवाल : हम कितने दोगले समाज को ढो रहे हैं

Sushant Singh Rajput

Sushant Singh Rajput’s suicide and questions raised बॉलीवुड के एक लोकप्रिय फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Film actor Sushant Singh Rajput), जिन्होंने पिछले दिनों अनेक सफल फिल्में की थीं, ने अचानक आत्महत्या कर ली, और पीछे कोई सुसाइड नोट भी नहीं छोड़ा। इस घटना को लेकर लगातार अनेक तरह की कहानियां चर्चा में रहीं। ये चर्चाएं इस बात का संकेतक …

Read More »

नरेन्द्र मोदी को राम मंदिर का शिलान्यास करने का कोई अधिकार नहीं

Sandeep Pandey

Narendra Modi has no right to lay the foundation of Ram temple     2018 में स्वामी ज्ञान स्वरूप सांनद, जो पहले भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर में अध्यापन करते समय प्रोफेसर गुरु दास अग्रवाल के नाम से जाने जाते थे, ने गंगा के संरक्षण हेतु प्रधान मंत्री को चार पत्र लिखे और अंततः 112 दिनों के अनशन के बाद 11 अक्टूबर …

Read More »

नई शिक्षा नीति : किसकी आँख में धूल झोंक रहे हो मोदी जी? ग़रीबों को शिक्षा से दूर रखने की छुपी और शातिर कोशिश

Modi in Gamchha

New education policy: hidden and vicious efforts to keep the poor away from education 29 जुलाई को केंद्रीय सरकार ने नई शिक्षा नीति की घोषणा की है. इसके पूर्व 1986 में राजीव गाँधी सरकार ने इस विभाग में एक बदलाव लाया था, जिसमे दिखने लायक बात यही थी कि शिक्षा विभाग का नाम बदल कर मानव संसाधन विभाग कर दिया …

Read More »

अंग्रेजों ने नहीं, जिन्ना ने भी नहीं, बंगाल और पंजाब का विभाजन कराया मुखर्जी और चटर्जी ने !

syama prasad mukherjee in hindi

Not the British, not even Jinnah, Bengal and Punjab were divided by Mukherjee and Chatterjee! 29 जुलाई को कोलकाता से जय भीम नेटवर्क पर मतुआ आंदोलन (जय भीम नेटवर्क पर मतुआ आंदोलन,), भारत में समानता और न्याय की गौतम बुद्ध से लेकर भारत विभाजन तक की लड़ाई की निरंतरता, जोगेंद्र नाथ मण्डल और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के नेतृत्व में बुद्ध, …

Read More »

प्रेमचन्द का पाठ वस्तुतः गरीब, दरिद्र और वंचितों का पाठ है

Munshi Premchand

प्रेमचंद और आलोचना की चुनौतियाँ -1 | Premchand and the challenges of criticism-1 इस समय आलोचना जिस संकट में है उसमें नए –पुराने दोनों ही किस्म के समालोचकों के पास जाने की जरूरत है। आलोचना के संकटग्रस्त होने की अवस्था में पुराने आलोचक और सिद्धांत ज्यादा मदद करते हैं। हिन्दी में नया संकट दो स्तर पर है। पहला संकट यथार्थबोध के …

Read More »

सामाजिक और बौद्धिक पूँजी के आईने में हैनी बाबू की गिरफ्तारी

Arrest of Delhi University Professor Hany Babu

Arrest of Delhi University Professor Hany Babu द्विज बौद्धिकों के मुकाबले हैनी और साई जैसे लोगों को चुकानी होती है कुछ ज्यादा कीमत दिल्ली यूनिवर्सिटी में अंग्रेजी के अध्यापक हैनी बाबू मुसलीयारवेटिल थारायिल (Hany Babu Musaliyarveettil Tharayil, teacher of English at Delhi University) (हैनी बाबू, 54 वर्ष) को नेशनल इन्विस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने गिरफ्तार कर लिया है। एनआईए ने कहा …

Read More »

महिलाओं को बेमौत मार डालेगा आरएसएस का सरकार चलाने का मॉडल, खुद घरेलू हिंसा का शिकार हो गई 181 आशा ज्योति वूमेन हेल्पलाइन

DLC instructs not to remove employees of 181 Asha Jyoti Women's Helpline

महिलाओं को जन राजनीति को बनाने में लेनी होगी भूमिका | Helpline for Women in Distress हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने दो शासनादेश किए हैं। एक आंगनबाड़ियों को 62 वर्ष में सेवा से पृथक कर देने और आंगनबाड़ियों को सामान्य काम में भी चूक होने पर सेवा से पृथक कर देने का आदेश और दूसरा 181 आशा ज्योति वूमेन …

Read More »

गांधी की पाती प्रियंका के नाम

Priyanka Gandhi Mahatma Gandhi

प्रियंका गांधी के नाम खुला खत | Open letter to Priyanka Gandhi महासचिव कांग्रेस प्रभारी पूर्वी उत्तर प्रदेश। भारत की भूमि से मैं गांधी बोल रहा हूं, क्योंकि भारत की भूमि के हर कण और भारत के जन मानस में विद्यमान हूं। देश को प्रजातंत्र के रूप में स्थापित करने का मेरा यह संघर्ष अनवरत चला और चलता रहेगा। मैं हर …

Read More »

मुहावरों का राष्ट्रवाद : ‘इन वाक्यों में बार-बार पाकिस्तान ही क्यों आता है?’ क्योंकि इसी घृणा से हमारी देशभक्ति खाद-पानी प्राप्त करती है

Dr Raju Ranjan Prasad पच्चीस जनवरी उन्नीस सौ अड़सठ को पटना जिले के तिनेरी गांव में जन्म। उन्नीस सौ चौरासी में गांव ही के ‘श्री जगमोहन उच्च विद्यालय, तिनेरी’ से मैट्रिक की परीक्षा (बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना) उत्तीर्ण। बी. ए. (इतिहास ऑनर्स) तक की शिक्षा बी. एन. कॉलेज, पटना (पटना विश्वविद्यालय, पटना) से। एम. ए. इतिहास विभाग, पटना विश्वविद्यालय, पटना से (सत्र 89-91) उन्नीस सौ तिरानबे में। ‘प्राचीन भारत में प्रभुत्त्व की खोज: ब्राह्मण-क्षत्रिय संघर्ष के विशेष संदर्भ में’ (1000 ई. पू. से 200 ई. तक) विषय पर शोधकार्य हेतु सन् 2002-04 के लिए आइ. सी. एच. आर का जूनियर रिसर्च फेलोशिप। मई, 2006 में शोधोपाधि। पांच अंकों तक ‘प्रति औपनिवेशिक लेखन’ की अनियतकालीन पत्रिका ‘लोक दायरा’ का संपादन। सोसायटी फॉर पीजेण्ट स्टडीज, पटना एवं सोसायटी फॉर रीजनल स्टडीज, पटना का कार्यकारिणी सदस्य। सम्प्रति मत-मतांतर, यादें, पुनर्पाठ आदि ब्लॉगों का संचालन एवं नियमित लेखन।

#मुहावरोंकाराष्ट्रवाद खेत आना (युद्ध में शहीद होना) —भारत-पाकिस्तान-युद्ध में हमारे अनेक वीर खेत आये। नाकों दम करना (परेशान करना)—पिछली लड़ाई में भारत ने पाकिस्तान को नाकों दम कर दिया। मुंह की खाना (पहल करके हार जाना) —पाकिस्तान को पिछली लड़ाई में मुंह की खानी पड़ी। लोहे के चने चबाना (बहुत कठिनाई झेलना)—भारतीय सेना के सामने पाकिस्तानी सेना को लोहे के …

Read More »

कोविड महामारी के संक्रमण का नया हॉटस्पॉट बनने की ओर तेजी से अग्रसर है उत्तर प्रदेश

Yogi Adityanath

Uttar Pradesh moves fast to become new hotspot of COVID epidemic उत्तर प्रदेश कोविड महामारी के संक्रमण का नया हॉटस्पॉट बनने की ओर तेजी से अग्रसर है। पिछले 24 घण्टों में 32 सौ से ज्यादा मरीज मिले हैं और प्रदेश में अब कुल मरीजों की संख्या 58 हजार (जिसमें 24 हजार सक्रिय मरीज) से ऊपर हो गई है। स्थानीय स्तर …

Read More »

यूपी : कोविड-19 क्या विकराल रूप लेता जा रहा है, आपदा को अवसर में बदलते प्राइवेट हॉस्पिटल

Corona virus COVID19, Corona virus COVID19 image

लखनऊ से तौसीफ़ क़ुरैशी। कोविड-19 कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामले (Covid-19 Corona Virus Cases Increasingly) जहाँ चिंता का सबब है, वहीं ग़ैर सरकारी हॉस्पिटलों में आपदा को अवसर में बदलने का खेल खेला जा रहा है। सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक़ ग़ैर सरकारी हॉस्पिटल अपना खर्च निकालने के नाम पर कोरोना वायरस जैसी महामारी …

Read More »

निजीकरण की घोषित सरकारी नीति के बावजूद बिजली का निजीकरण सरकार इतना छिपकर क्यों करना चाहती है?

BJP Logo

निजीकरण की घोषित सरकारी नीति के बावजूद बिजली का निजीकरण सरकार इतना छिपकर क्यों करना चाहती है? सरकार के इस रहस्यमय डर को समझने की जरूरत है कि बिजली के महत्वपूर्ण स्टेकहोल्डर्स यूपीपीसीएल के अनुभवी कार्मिकों व उनके संगठनों को भी विश्वास में नहीं लिया जा रहा है। दिल्ली से चार्टर प्लेन से लखनऊ आयी ऊर्जा मंत्री सहित केंद्रीय टीम …

Read More »

बंगला गद्य के जनक काली प्रसन्न सिंह

Literature news

Kaliprasanna Singha, the father of Bengali prose काली प्रसन्न सिंह बंगला गद्य के जनक माने जाते हैं अंग्रेजी में एडिसन और स्टील की तरह। बंगला में अनुवाद की पहल भी उन्होंने की। तकालीन अंग्रेजीपरस्त कुलीन भद्र समाज पर उन्होंने हुतुम पेंचार नक्शा (Hutom Pyanchar Naksha) में तीखे रेखाचित्र विधा का सृजन करते हुए घटनाओं का सजीव व्यंग्यात्मक ब्योरा पेश करते …

Read More »

क्या तिब्बत मामले में सीआईए की सक्रियता का है गलवान घाटी विवाद से कुछ संबंध ?

Modi Xi Jhoola

Is the CIA being active again in the Tibet case? सीआईए क्या फिर से तिब्बत मामले में सक्रिय हो रही है? हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में तिब्बत की निर्वासित सरकार (टीजीआईई) (Exile Government of Tibet (TGIE) in Dharamshala,) की एक इकाई है, सोशल एंड रिसोर्स डेवलपमेंट फंड (एसएआरडीएफ) (Social and Resource Development Fund (SARDF))। Is America trying to molest someone …

Read More »

आपदा में अवसर : महामारी के दौर में सरकार और मीडिया

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

India has reached the top 3 position worldwide in the corona epidemic. Opportunities in disaster : government and media in times of epidemic प्रधानमंत्री ने जून के आखिर में राष्ट्र को एक बार फिर संबोधित किया था (Prime Minister Narendra Modi’s address to the nation in June 2020)। यह कोरोना संकट के आने के बाद से राष्ट्र के नाम प्रधानमंत्री …

Read More »

कविता से जुड़े मित्रों को शैलेन्द्र शैली का यह आखरी लेख बार बार पढ़ना चाहिए

Literature, art, music, poetry, story, drama, satire ... and other genres

कल [24/7/2020] शैलेन्द्र शैली का जन्म दिन (Shailendra Shaily birthday) था। अपनी मृत्यु [6 सितम्बर 2001] से पहले उन्होंने जो अंतिम साहित्यिक लेख लिखा था वह यही है। उनकी पहचान एक श्रेष्ठ राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में इतनी बड़ी है कि उनके साहित्यकार की पहचान दब गयी। यह बात प्रस्तुत लेख के कथ्य और उसकी भाषा से स्पष्ट हो रही …

Read More »

पत्थलगड़ी आंदोलन की प्रमुख नेत्री बबीता कच्छप को गुजरात एटीएस ने ‘नक्सली’ बताकर किया गिरफ्तार

पत्थलगड़ी आंदोलन की प्रमुख नेत्री बबीता कच्छप Babita Kachhap, the leader of the Pathalgadi movement,

Babita Kachhap, the leader of the Pathalgadi movement, was arrested by Gujarat ATS as ‘Naxalite’ Three activists of Pathalgadi movement arrested for conspiracy to wage war against govt in Gujarat आदिवासी क्षेत्र में ‘पत्थलगड़ी आंदोलन’ के प्रमुख नेताओं में से एक बबीता कच्छप को ‘नक्सली’ बताकर गुजरात में गिरफ्तार कर लिया गया है। रूपेश कुमार सिंह स्वतंत्र पत्रकार खबरों के …

Read More »