Home » हस्तक्षेप (page 10)

हस्तक्षेप

Guest writers views devoted to commentary, feature articles, etc.. अतिथि लेखक की टिप्पणी, फीचर लेख आदि. Critical News of Journalism – The Fourth Pillar of Democracy, Opinion, and Media Education. लोकतंत्र का चौथा खंभा पत्रकारिता जगत की आलोचनात्मक खबरें, ओपिनियन, और मीडिया शिक्षा. article, piece, item, story, report, account, write-up, feature, review, notice, editorial, etc. of our columnist. साहित्य का कोना। कहानी, व्यंग्य, कविता व आलोचना Literature Corner. Story, satire, poetry and criticism. today current affairs in Hindi, Current affairs in Hindi, views on news, op ed in hindi, op ed articles, अपनी बात,

खिसियानी भाजपा विकास का मुखौटा नोचे! भाजपा के हाथ से फिसल रहा है चुनाव

up chunav

उत्तर प्रदेश में मतदान के तीन चरण : भाजपा क्यों पिछड़ रही है? | Three phases of voting in Uttar Pradesh: Why is BJP lagging? उत्तर प्रदेश में मतदान के चौथे चरण (Fourth phase of voting in Uttar Pradesh) तक पहुंचने से पहले ही संघ-भाजपा का दम फूल गया लगता है। इसके लक्षण एक नहीं अनेक हैं। इनमें सबसे महत्वपूर्ण …

Read More »

अंबानी अडानी की पूजा के आव्हान के पीछे क्या है ?

Modi with Ambani Tata

किस भाजपा सांसद ने अंबानी और अडानी की पूजा करने का आव्हान किया? | Which BJP MP called for worshiping Ambani and Adani? राज्यसभा में भाजपा के सांसद के जे अल्फोंस साहब (BJP MP KJ Alphons in Rajya Sabha) ने अंबानी और अडानी की पूजा करने का आव्हान किया है। वे देश में रिकॉर्ड तोड़ती बेरोजगारी पर संसद में हुई …

Read More »

पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव बाद क्या होगा मोदी, शाह योगी का?

up chunav

विधानसभा चुनाव : परिदृश्य और फलितार्थ | Assembly Elections: Scenario and Consequences पाँच राज्यों के विधानसभा चुनावों का सत्ता की राजनीति और विचारधारा की राजनीति पर क्या प्रभाव पांच राज्यों में 10 फरवरी से 7 मार्च 2022 तक होने वाले विधानसभा चुनावों का सत्ता की राजनीति और विचारधारा की राजनीति दोनों पर प्रभाव (What is the impact of the five …

Read More »

श्रीमद्भगवद्गीता से क्या सीखा ?

jagdishwar chaturvedi

What did you learn from Shrimad Bhagavad Gita? मथुरा में जिस परिवेश और परिवार में जन्म हुआ वहाँ ‘आस्था’ ख़ासकर सनातनी धार्मिक आस्थाएँ बड़ी प्रबल थीं। इन आस्थाओं को कब और कैसे जीवनशैली और संस्कारों में समायोजित कर दिया गया। यह मैं नहीं जानता। हमारा सनातनी हिन्दू परिवार था। खान-पान, जीवन शैली, संस्कार आदि के क्षेत्र में पुराने रिवाज़ों का …

Read More »

संस्कृत काव्यशास्त्र की समस्याएं

jagdishwar chaturvedi

काव्यशास्त्र की प्रमुख समस्या क्या है? काव्यशास्त्र की प्रमुख समस्या है नए अर्थ की खोज। नए अर्थ की खोज के लिए आलोचकों ने रूपतत्वों को मूलाधार बनाया, जबकि वास्तविकता यह है कि नया अर्थ रूप में नहीं समाज में होता है। रूप के जरिए नए अर्थ की खोज के कारण संस्कृत काव्यशास्त्र भाववादी दर्शन की गिरफ्त में चला गया। इसके …

Read More »

दक्षिण भारतीय फिल्मों में बढ़ती विविधता और ऑस्कर का सपना!

opinion, debate

जय भीम के ऑस्कर से बाहर होने पर एच एल दुसाध का लेख | HL Dusadh’s article on Jai Bhim’s ouster from Oscars | Oscar 2022: सूर्या की जय भीम ऑस्कर दौड़ से बाहर 9 फरवरी, 2022 की सुबह भारतीय फिल्म प्रेमियों जो आघात लगा, लगता है उससे उबरने में उन्हें वर्षों लग जायेंगे. यह वैसा आघात नहीं था, जैसा …

Read More »

कोको भाजपा के वोट उड़ाकर ले जा रही है ! मोशा परेशान !

BJP Logo

किसने कहा कि भाजपा के वोट कोको ले गई? | Who said that BJP’s vote took coco? भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait, leader of Bharatiya Kisan Union) ने कहा, भाजपा के वोट कोको ले गई। अब सभी परेशान कि ये कोको किस बला का नाम है (What is the name of this coco)? शब्दकोष खंगाले गए, …

Read More »

झूठ का पुलिंदा : व्हाई आई किल्ड गांधी

film review

‘व्हाई आई किल्ड गांधी’ फिल्म को लेकर क्या है विवाद? | What is the controversy about the movie ‘Why I Killed Gandhi’? ‘Why I Killed Gandhi’ movie review in Hindi by Dr Ram Puniyani | डॉ राम पुनियानी द्वारा हिंदी में ‘व्हाई आई किल्ड गांधी‘ फिल्म की समीक्षा हाल में रिलीज हुई फिल्म ‘वाय आई किल्ड गांधी ‘महात्मा गांधी के …

Read More »

हम कब तक दलितों का अपमान करेंगे ?

swami vivekananda

Till when will we insult Dalits? स्वामी विवेकानंद ने क्या चेतावनी दी थी? स्वामी विवेकानंद ने वर्षों पहले यह चेतावनी दी थी कि यदि हम दलितों को गले नहीं लगाएंगे तो वे हमारी लाशों पर नाचेंगे। अभी हाल में मध्यप्रदेश में घटित दो घटनाओं से ऐसा लगता है कि हम स्वामीजी की भविष्यवाणी को सही साबित करने पर आमादा हैं। …

Read More »

कर्नाटक हिजाब विवाद : पांच राज्यों के चुनाव में ध्रुवीकरण के लिए सर्जिकल स्ट्राईक

debate

Karnataka Hijab controversy: Surgical strike to polarize five state elections कर्नाटक में हो रहा हिजाब विवाद (Hijab controversy in Karnataka) पांच राज्यों के चुनाव पूर्व हिन्दू मतदाताओं को रिझाने के लिए की गयी सर्जिकल स्ट्राईक ही है… surgical strike done to woo Hindu voters before elections in five states... ध्रुवीकरण के लिए सर्जिकल स्ट्राईक भाजपा की चुनाव पूर्व आवश्यकता भाजपा …

Read More »

जानिए रूस-यूक्रेन विवाद का भारत पर क्या असर पड़ेगा?

dr prakash hindustani

Know what will be the impact of Russia-Ukraine dispute on India? रूस और यूक्रेन में तनातनी का भारत पर क्या असर पड़ रहा है? वरिष्ठ पत्रकार प्रकाश हिंदुस्तानी से सरल हिंदी में समझिए क्या है रूस-यूक्रेन विवाद (Russia-Ukraine dispute in Hindi) और क्या है इसकी जड़? नाटो क्या है और नाटो क्या करता है (What is nato and what does …

Read More »

दुनिया का निराला कवि नामदेव ढसाल जिसने संभ्रांत कविता को मारने का काम किया

namdeo dhasal

विश्व कवि नामदेव ढसाल के जन्मदिन पर विशेष लेख | Special article on the birthday of world poet Namdev Dhasal विश्व कवि नामदेव ढसाल का जन्म 15 फरवरी, 1949 को महाराष्ट्र के पुणे के निकट हुआ था. दलित आन्दोलनों के इतिहास में डॉ. आंबेडकर और कांशीराम के बीच की कड़ी ढसाल की पहचान वैसे तो मुख्य रूप से कवि के …

Read More »

सोशल मीडिया के उपयोग दुरुपयोग के बीच जन्मती सूचना सभ्यता

Social Media

Information civilization born amidst misuse of social media दो दिन पहले – 12 फरवरी को – दुनियां ने उस महान वैज्ञानिक चार्ल्स डार्विन की जयंती (birth anniversary of charles darwin) मनायी जिसने मानव के विकास की प्रक्रिया को समझ कर बताया था कि किस तरह दुनियां में प्राणियों की उत्पत्ति और विकास हुआ। इस विकास क्रम में दुनियां के अलग …

Read More »

सत्ता व बर्बर समाज को अप्रत्यक्ष चुनौती थी संत रविदास की बेगमपुरा

guru ravidass

संत रविदास जयंती के अवसर पर विशेष (Special on the occasion of Guru Ravidas Jayanti) | बेगमपुरा : सत्ता और समाज परिवर्तन का ब्लूप्रिंट (संत रविदास जयंती 2022) | Begumpura of Sant Ravidas was an indirect challenge to power and barbaric society बेगमपुरा को समझने के लिए पहले तथागत बुद्ध के प्रतीत्‍यसमुत्‍पाद के सिद्धांत पर सरसरी तौर पर नजर डालना …

Read More »

लपूझन्ना : उस्ताद और शागिर्द की एक खूबसूरत कहानी

book review

पुस्तक समीक्षा एक उस्ताद के लिए उसके शागिर्द की तरफ़ से लिखी खूबसूरत कहानी है लपूझन्ना। लेखक अपने बचपन की याद अब तक नहीं भुला सके हैं और उन यादों में लेखक का ख़ास दोस्त भी है, ये वो ख़ास दोस्त है जो हम सब की ज़िंदगी में कभी न कभी तो रहा ही है और उसको हम हमेशा याद …

Read More »

आरएसएस की माध्यम रणनीति का मुख्य तत्व क्या है?

RSS Half Pants

What is the main element of the medium strategy of RSS? नए भारत की चुनौतियां और आरएसएस कम्युनिस्ट प्रभावित राज्यों में दलितों-अल्पसंख्यकों पर हमलों की घटनाएं कम क्यों होती हैं? की अगली कड़ी आरएसएस की माध्यम रणनीति का यह मुख्य तत्व है कि समाचार, उसकी संरचना एवं कथ्य की प्रस्तुति इस तरह की जाए जिससे भय, असुरक्षा और संवैधानिक अवमानना …

Read More »

लता मंगेशकर के व्यक्तित्व को फिल्मी दायरे में सीमाबद्ध करना अपराध है

lata mangeshkar

It is a crime to limit the personality of Lata Mangeshkar in the film industry. लता मंगेशकर के सुर संसार में हम सभी लोग कमोबेश शामिल रहे हैं। 92 वर्ष की आयु में भी उनके स्वर के अवसान से हम सभी दुःखी हैं। वे भारत रत्न हैं। और किसी भी राजनेता या कलाकार, साहित्यकार से ज्यादा उनकी प्रतिष्ठा और विश्वव्यापी …

Read More »

भाजपा के फ्रंटल संगठन की तरह काम कर रहा है ईडी

dr prakash hindustani

ED working like frontal organization of BJP Enforcement Directorate (प्रवर्तन निदेशालय) के पूर्व निदेशक राजेश्वर सिंह ने गत 31 जनवरी को ही अपने पद से इस्तीफा दिया था। उनका इस्तीफा उसी दिन मंजूर कर लिया गया। राजेश्वर सिंह को भारतीय जनता पार्टी ने लखनऊ के सरोजनी नगर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है। Rajeshwar Singh VRS Accepted | राजेश्वर सिंह …

Read More »

अमृतकाल की लफ्फाजी : पर इस बजटमुक्त बजट में बजट कहां है?

finance minister nirmala sitharaman

Amritkal’s rhetoric: But where is the budget in this budget-free budget? मोदी राज में विडंबना रोज-रोज मरती है और रोज नया जन्म लेती है। बजट 2022-23 भी अपवाद नहीं है। सालाना बजट का संक्षेप में अर्थ है, एक वित्त वर्ष के आय-व्यय का मीजान। इसकी जरूरत सबसे बढ़कर इसलिए होती है कि एक जनतांत्रिक व्यवस्था में, अंतत: सरकार का आर्थिक …

Read More »

आज़ाद भारत में मनु के द्रोणाचार्य | समावेशी शिक्षा का उपहास उड़ाते उच्च शिक्षण संस्थान

debate

Dronacharya of Manu in independent India मानव समाज में शोषण के अनेक रूप रहे हैं जिसमें अलग अलग तरीकों से एक इंसान दूसरे इंसान का शोषण करता रहा है। इन सब रूपों में मूलत: उत्पादन के साधनों और मानव श्रम से पैदा अतिरिक्त पर मिल्कियत की ही लड़ाई रही है। दुनिया के लगभग सभी देशो में उनके बनने से पहले …

Read More »

नए भारत की चुनौतियां और आरएसएस

RSS Half Pants

Challenges of New India and RSS मौजूदा दौर सांप्रदायिक ताकतों के आक्रामक रवैय्ये का दौर है। इस दौर को विराट पैमाने पर माध्यमों की क्षमता ने संभव बनाया है। सांप्रदायिक ताकतों, विशेषकर हिन्दुत्ववादी संगठनों की सांप्रदायिक विचारधारा (Communal Ideology of Hindutva Organizations) को व्यापक पैमाने पर प्रचारित-प्रसारित करने में परंपरागत और इलैक्ट्रॉनिक संचार माध्यमों की प्रभावी भूमिका रही है। हिंदुस्तानी …

Read More »