Home » हस्तक्षेप (page 2)

हस्तक्षेप

चिकित्सक भगवान है, ताली बजाओ, फिर लट्ठ बजाओ ?

Randhir Singh Suman CPI

The doctor is god, clap, then play the stick… देश में जनता कर्फ्यू (Janata curfew in the country) के दौरान प्रधानमंत्री की सलाह पर मीडिया, चिकित्सक व कोरोना के खिलाफ कार्य कर रहे लोगों के उत्साहवर्धन के लिए 5 बजे ताली, शंख, घड़ियाल, थाली बजाने का आवाहन किया गया था, जिस पर जनता ने जलूस निकालकर इन कर्मियों का उत्साहवर्धन …

Read More »

धर्म की उपयोगिता क्या है, यह कौन बतायेगा? यह प्रकृति के हाथों मानव अहंकार का पराभव है

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

Who will tell us, what is the usefulness of religion? If these so-called religious leaders, pundits, mullah-maulvi, preachers, learned writers do not understand their own religious texts and teachings of great men, then stop cheating people in their name. ईश्वर को कण-कण में व्याप्त बताने वाले सभी लोग आज अपने-अपने भगवान, यहोवा, अहुरमज्द, परमेश्वर, अल्ल्लाह, वाहेगुरु आदि का भरोसा छोड़कर …

Read More »

नोटबंदी पर पचास दिन माँगकर चौराहे पर आने को कहा था, प्रवंचक ने अब इक्कीस दिन में कोरोना के प्रभाव को ख़त्म करने की बात कही है

Modi's truth on corona virus

नोटबंदी पर पचास दिन माँगने वाले प्रवंचक ने अब इक्कीस दिन में कोरोना के प्रभाव को ख़त्म करने की बात कही है। इनकी बात पर कभी कोई यक़ीन न करें, पर लॉक डाउन (#CoronavirusLockdown) का यथासंभव सख़्ती से पालन जरूर करे। सोशल डिस्टेंसिंग छूत की ऐसी बीमारी से लड़ने के लिए सबसे ज़रूरी है। | Social distancing is most important …

Read More »

मोदी है तो कुछ भी मुमकिन है। इतनी बड़ी तबाही भी मुमकिन है।

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

Modi hai to kuchh bhee mumakin hai. Such a big catastrophe is also possible. कोरोना से बड़ी महामारी भूख के मुंह में धकेल दिया सही बात है। मोदी है तो कुछ भी मुमकिन है। इतनी बड़ी तबाही भी मुमकिन है, जितनी अंग्रेजों के ज़माने में अकाल और महामारियों से हुआ करती थी। मोदीजी खुद अपना ही रिकॉर्ड तोड़ने की धुन …

Read More »

सरकारी फरमान है बाहर मत जाइएगा

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

सरकारी फरमान है बाहर मत जाइएगा | Official decree is not to go out _____________________________   भाइयों देखो ये 21 दिन का कर्फ्यू है आप जरा संभल कर रहिएगा घर में पानी जरा कम गिराइएगा, और खाने में नमक थोड़ा कम खाईएगा। पर बाहर मत जाइएगा   काली चाय बनाई जा सकती है इसलिए दूध जरूरी नहीं आटे में नमक …

Read More »

पूंजीपतियों को बजट से पहले सात दफा पैकेज, जो संक्रमित हो रहे हैं, उनके इलाज का बंदोबस्त क्यों नहीं ?

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

PACKAGE Seven times before the budget to the capitalists, why not arrange for the treatment of those who are getting infected? कोरोना कर्फ्यू से जन जीवन ठप है। काम धंधे बंद हैं। अर्थव्यवस्था खत्म है। पूंजीपतियों को बजट से पहले सात दफा पैकेज दिया गया। फिर पूरा बजट भी उनके नाम। शेयर बाज़ार में आम निवेशकों के पचास लाख करोड़ …

Read More »

यह फरेब और धोखा है कि बिना जांच, इलाज के सिर्फ लॉक डाउन से कोरोना खत्म होगा

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

It is deceit and deception that without investigation, treatment, only the lock down will end the corona यह फरेब और धोखा है कि बिना जांच, इलाज के सिर्फ लॉक डाउन से कोरोना खत्म होगा। अपनी नाकामी पर पर्दा डालने की बेशर्म कोशिश ने पूरे देश में संक्रमण का खतरा बढ़ाया है। अर्थव्यवस्था तनहा की और आम लोगों के लिए रोजी …

Read More »

मौत के सौदागर का अंत शुरू : कोरोना वायरस उसी की एक दस्तक है अमेरिका बुरी तरह फंस चुका है

Donald Trump

Death dealer’s end begins: Corona virus is a knock of the same, America is badly trapped #मौतकेसौदागरकाअंतशुरू मुस्लिमों को आतंकी कहने की परम्परा (The tradition of calling Muslims as terrorists) भी कहीं और से नहीं बल्कि यूरोप, अमेरीका इजराइल से ही शुरू हुई है। क्योंकि जब मुस्लिम अपने हक़ तेल के लूटने का विरोध करने लगे तो इन्होंने आंतंकी का …

Read More »

कोरोना को हराने के लिए लॉकडाउन का ‘जनता कर्फ्यू’ की तरह करो दिल से पालन

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

Follow the lockdown as a ‘public curfew’ by heart to defeat Corona कोरोना वायरस के संक्रमण पर डब्ल्यूएचओ के निदेशक डॉक्टर माइकल जे रायन (Dr Michael Ryan, Executive Director, WHO Health Emergencies Programme,) ने कहा है कि कोरोना वायरस (COVID 19) का भविष्य में कैसा असर रहेगा यह भारत पर निर्भर है, उन्होंने कहा कि भारत ने पहले भी ऐसे …

Read More »

क्योंकि मार्क्सवादी भी सवर्णवादी हैं ! इसीलिए मोदी देश बेच पा रहे हैं

एच.एल. दुसाध (लेखक बहुजन डाइवर्सिटी मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं.)  

Because Marxists are also upper-caste! Savarnism is many times more frightening and barbaric than capitalism in India. फेसबुक पर रह-रह कर ऐसे कुछ पोस्ट दिख जाते हैं, जिन पर विस्तार से राय दिये बिना रहा नहीं जाता। ऐसा ही एक पोस्ट मुझे 21 मार्च देखने को मिला। लिखेने वाले एक रिटायर्ड प्रोफेसर हैं, जो विचार से मार्क्सवादी प्रतीत हो रहे …

Read More »