Home » हस्तक्षेप (page 4)

हस्तक्षेप

Guest writers views devoted to commentary, feature articles, etc.. अतिथि लेखक की टिप्पणी, फीचर लेख आदि. Critical News of Journalism – The Fourth Pillar of Democracy, Opinion, and Media Education. लोकतंत्र का चौथा खंभा पत्रकारिता जगत की आलोचनात्मक खबरें, ओपिनियन, और मीडिया शिक्षा. article, piece, item, story, report, account, write-up, feature, review, notice, editorial, etc. of our columnist. साहित्य का कोना। कहानी, व्यंग्य, कविता व आलोचना Literature Corner. Story, satire, poetry and criticism. today current affairs in Hindi, Current affairs in Hindi, views on news, op ed in hindi, op ed articles, अपनी बात,

स्वामी सहजानंद सरस्वती इतिहास के सबसे बड़े किसान नेता

dipankar bhattacharya

Sahajanand Saraswati is the biggest farmer leader in history सहजानंद सरस्वती की जयंती पर बिहटा में विशाल किसान महापंचायत दीपंकर ने कहा – हम सहजानंद सरस्वती की विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं विशद कुमार आजादी की लड़ाई के दौरान जमींदारी प्रथा के खिलाफ किसानों को संगठित करने वाले महान किसान नेता स्वामी सहजानंद सरस्वती की जयंती (Swami Sahajanand Saraswati’s …

Read More »

दुनिया, आधी दुनिया की

international womens day

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : क्या महिलाओं की स्थिति में कोई गुणात्मक परिवर्तन आया? International Women’s Day: Has there been any qualitative change in the status of women? इस हफ्ते की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) से हुई। हर साल की तरह बहुत से संदेश आये, बहुत सी महिलाओं ने संदेश लिखे, प्रेरणा से ओतप्रोत, महिला शक्ति की महिमा …

Read More »

मिथुन चक्रवर्ती : मृगया से भाजपा तक

mithun chakraborty

बंगाल विधानसभा चुनाव : Mithun Chakraborty from Mrigaya to BJP मशहूर फिल्म अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती (Famous film actor Mithun Chakraborty) पिछले कई दिनों से लग रहीं तमाम अटकलों को सही साबित करते हुए भाजपा के केसरिया रंग में रंग गए। कोलकाता के ब्रिगेड मैदान में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली (Prime Minister Narendra Modi’s rally in Kolkata’s Brigade Ground) के …

Read More »

भारतीय कृषि व्यवस्था की रीढ़ हैं महिलाएं, जनांदोलन के कंधे पर चढ़ कर आयी सरकार, जनांदोलनों के विरूद्ध दुश्मनी पर उतरी

Tractor-trolley trip in Malwa-Nimar in support of farmer movement

Women are the backbone of the Indian agricultural system: Vijay Shankar Singh सौ दिन से चल रहे किसान आन्दोलन की उपलब्धि क्या है | What is the achievement of the farmer movement that has been going on for a hundred days? यदि एक शब्द में इस सौ दिन से चल रहे किसान आन्दोलन की उपलब्धि बतायी जाय तो वह है …

Read More »

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : स्त्री का सहज स्वभाव क्या है ?

international womens day

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष – Special on International Women’s Day in Hindi औरत का लक्ष्य क्या है ? औरत कहां मिलेगी ? औरत का लक्ष्य है स्वतंत्रताबोध औरतों के पक्ष में फेसबुक पर लिखते ही अनेक मित्र हैं जो यह कहने लगते हैं कि भाई साहब ! शैतान औरतों का भी ख्याल कीजिए। उन मर्दों का भी ख्याल कीजिए …

Read More »

औरतों के हिस्से में/ आया / उड़ा-उड़ा/ एक अदद/ वुमन्स डे……!!!

international womens day

Special on International Women’s Day आया, उड़ा-उड़ा, एक अदद वुमन्स  डे……!!! अब ये लौट भी तो नहीं सकती ये खनकती हुयी तमाम दिलचस्प औरतें दरअसल बेहद खोखली हैं, जो बड़े शौक़ से ज़मीन छोड़ कर उड़ी थी, बदलाव की हवाओं संग, दूर आसमां तक हो आने को, नीलेपन से ऊबी ये औरतें सोचती थीं, इक सतरंगी आसमां हैं इस आसमान के …

Read More »

क्या आपने यह खबर पढ़ी है? वैज्ञानिकों ने नई शिक्षा नीति की जागरूकता फैलाने का कार्य आरएसएस को देने पर आपत्ति जताई

RSS Half Pants

Have you read this news? Scientists object to the RSS giving the task of spreading awareness of the new education policy यह खबर ‘द टाईम्स ऑफ़ इंडिया,’ (भोपाल संस्करण) के दिनांक 2 मार्च 2021 के अंक में पृष्ठ 5 कालम 1 पर प्रकाशित हुई है। खबर के अनुसार देश के वैज्ञानिकों ने केन्द्र सरकार के इस निर्णय पर सख्त एतराज …

Read More »

नदियों में लहू घुल चुका है/ ज़हर हवा में नहीं/ अबकी ज़हर लहू में घुल चुका है

Literature, art, music, poetry, story, drama, satire ... and other genres

नित्यानंद गायेन पुलिस ने दंगाइयों को नहीं एक बूढ़ी औरत को मार दिया वो केवल बूढ़ी औरत नहीं थी पुलिस वालों ने उसे एक मुसलमान की माँ पहचान कर मारा था गलती उन सिपाहियों की नहीं थी उन्होंने सत्ता के आदेश का पालन किया उन्हें आदेश था कपड़े देखकर पहचान करो दुश्मनों की किंतु बूढ़ी माँ के कपड़े से कैसे …

Read More »

अपनी लिपि तलाशती उत्तराखंड की दूधबोली

uttarakhand boli

कुछ वर्ष पहले दिल्ली मेट्रो में सफ़र करते दो लोग आपस में बातचीत करते सुने। यह कुछ नया नहीं है। हमारे चारों ओर बहुत से लोग आपस में बतियाते हैं, पर मेरा ध्यान उनकी तरफ़ सिर्फ इसलिए गया क्योंकि वह मेरी दूधबोली में आपस में बात कर रहे थे। उन्हें कुमाऊँनी में बात करते सुन कुछ अपना सा लगा, जी …

Read More »

डिजिटल दुनिया पर निगरानी के नियम पर विवाद

Social Media

Digital surveillance: Controversy over rules of surveillance on the digital world मौजूदा केंद्र सरकार अपने पिछले और नए कार्यकाल में लगातार विपक्ष समेत लोकतांत्रिक मंचों, संस्थाओं, संगठनों और सिविल सोसायटी के निशाने पर रही है। इसी कड़ी में ताजा विवाद देश की डिजिटल दुनिया पर नकेल कसने के नाम पर सरकार की ओर से लाए गए ‘सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती संस्थानों …

Read More »

‘द वायर’ के थके राजनीतिक विश्लेषक ! एक टिप्पणी

sajjan kumar the wire

The tired political analyst of ‘The Wire’! A Comment बंगाल विधानसभा चुनाव | Bengal Assembly Elections आज ‘द वायर’ पर कथित राजनीतिक विश्लेषक एक डॉ. सज्जन कुमार का बंगाल के चुनाव की परिस्थिति का विश्लेषण सुन रहा था। उनका कहना था कि उन्होंने पिछले दिसंबर महीने में बंगाल की सभी 294 सीटों, अर्थात् बंगाल के चप्पे-चप्पे का दौरा किया था। …

Read More »

अखंड भारत या दक्षिण एशियाई देशों का संघ : डॉ. राम पुनियानी का लेख

Mohan Bhagwat's address on Vijayadashami

Monolithic India or Union of South Asian Countries: Dr Ram Puniyani’s article in Hindi भारत विभाजन के प्रमुख कारक | भारत विभाजन की रूपरेखा क्या है? | Major Factors of Partition of India | What is the framework of the partition of India? भारत विभाजन (Partition of india) दक्षिण एशिया के लिए एक बड़ी त्रासदी था. विभाजन के पीछे मुख्यतः …

Read More »

विधानसभाई चुनाव : रुकेगा मोदीशाही का रथ !

Narendra Modi flute

विधानसभाई चुनाव : मोदी राज का कठिन इम्तहान पांच विधानसभाओं के चुनाव का मोदी राज के लिए महत्व मार्च-अप्रैल में होने वाले पांच विधानसभाओं के चुनाव (Election of five assemblies) में मोदी सरकार की दूसरी पारी की अब तक की सबसे बड़ी परीक्षा होगी। जिन चार राज्यों और एक केंद्र शासित क्षेत्र के चुनाव के नतीजे तो 2 मई को …

Read More »

आखिर फणीश्वर नाथ रेणु की पत्नी ने क्यों कहा था “चाहूँगी कि मेरे घर में और कभी कोई लेखक पैदा न हो”

phanishwar nath renu

पूर्व राज्यसभा सदस्य सरला माहेश्वरी द्वारा राज्यसभा में दिया गया वक्तव्य महान कथाकार फणीश्वर नाथ रेणु के जन्मदिवस 04 मार्च 2018 पर वरिष्ठ पत्रकार व स्तंभकार अरुण माहेश्वरी ने अपनी फेसबुक टाइमलाइन पर पोस्ट किया था। आज 04 मार्च 2021 से फणीश्वर नाथ रेणु का जन्म शताब्दी वर्ष प्रारंभ हो रहा है। इस अवसर पर पूर्व सांसद सरला माहेश्वरी का …

Read More »

‘महाराज’ के पदचिन्हों पर ‘गुलाम’ !

scindia and ghulam nabi azad

देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today विधानसभा चुनावों के पहले कांग्रेस की अंतर्कलह (Congress conscience) एक बार फिर सामने आ गई है। या कहना चाहिए कि कांग्रेस में रह कर कांग्रेस को खत्म करने की कोशिशों में लगे लोग एक बार फिर पार्टी को कमजोर करने में जुट गए हैं। जिस तरह बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly …

Read More »

मोदी मोह माने बाजार की तबाही

Narendra Modi Dr. Manmohan Singh

Modi’s fascination is the destruction of the market Understand what is the difference in the market between Manmohan Singh’s era and Modi’s era. मनमोहन सिंह के युग और मोदी युग में बाजार में क्या अंतर है, इसे समझें। मनमोहन युग में फ्रिज लेने गया तो तीन-चार घंटे बाद घर पर सप्लाई हो गई। कल फिर फ्रिज लेने गया तो हैरत …

Read More »

कीचड़ को कीचड़ से साफ नहीं किया जा सकता

Opinion, Mudda, Apki ray, आपकी राय, मुद्दा, विचार

जो वोट बटोरने के लिए हमारे समाज में नफरत (Hate in society) फैला रहे हैं, वे भारत की प्रगति एवं विकास के शत्रु (Enemies of India’s progress and development) हैं तथा भारत विरोधी शक्तियों के सहायक (Assistant to the anti-India powers) हैं। हमारे समाज का ताना बाना मेल मिलाप का है, भाइचारे का है। वोट पाने के लिए जो भी …

Read More »

बजट 2021-22 : सरकारी सम्पदा बेचने का टूलकिट, अनपढ़ और जाहिल समाज मौजूदा सत्ता की पहली पसंद

Review Union Budget 2021-22

बजट 2021-22 : शिक्षा बजट में कटौती – अनपढ़ और जाहिल समाज मौजूदा सत्ता की पहली पसंद Budget 2021-22: Education budget cuts – illiterate and ghetto society’s first choice of current power – Vijay Shankar Singh बजट 2021-22 : सरकारी सम्पदा को बेचने का दस्तावेज बजट 2021-22, सरकारी सम्पदा को बेचने यानी सरकार के शब्दों में विनिवेशीकरण या निजीकरण का …

Read More »

हिन्दी में डॉ. राम पुनियानी का लेख : गोलवलकर और हमारा सत्ताधारी दल

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Dr Ram Puniyani’s article in Hindi: Golwalkar and our ruling party भारत के वर्तमान सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party -भाजपा) के नेता भले ही हमारे धर्मनिरपेक्ष-बहुवादी और संघात्मक संविधान के नाम पर शपथ लेते हों परन्तु सच यह है कि यह पार्टी देश को आरएसएस के एजेंडे (RSS agenda) में निर्धारित दिशा में ले जा रही है. …

Read More »

‘टुंपा राजनीति’ और वाम : त्रिमुखी लड़ाई में बाहर हो रही भाजपा

CPIM

Election meeting of Left-Congress-ASF at Kolkata’s huge brigade parade ground कल (28 फरवरी को) कोलकाता के विशाल ब्रिगेड परेड ग्राउंड में वाम-कांग्रेस-एएसएफ की चुनावी सभा है। यह वाम-कांग्रेस के चुनावी रण में उतरने की दुंदुभी बजाने वाली सभा है। अभी के चुनावी समीकरण को देखते हुए मीडिया में भले ही तृणमूल और भाजपा के बीच लड़ाई के बात की जा …

Read More »

भाजपा को राजनीतिक नुकसान पहुंचा सकता है किसान आंदोलन

Farmer

Farmer movement can cause political damage to BJP नई कृषि नीति के लिए केंद्र सरकार की तरफ से लाये गए कानूनों के बाद पंजाब सहित देश के कई हिस्सों में किसानों की अगुवाई में विरोध हो रहा है। दिल्ली राज्य के तीन प्रवेश द्वारों पर किसानों ने अपने खेमे लगा दिए हैं। किसान आन्दोलन (Kisan Andolan Hindi News) शुरू होने …

Read More »