नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता से अवकाशप्राप्त, अब उत्तराखंड के

विद्युत् वितरण कम्पनियाँ लॉक डाउन में निजी क्षेत्र के बिजली घरों को फिक्स चार्जेस देना बंद करें

Shailendra Dubey, Chairman - All India Power Engineers Federation

DISCOMS SHOULD INVOKE FORCE MAJEURE CLAUSE TOSAVE FIX CHARGES BEING PAID TO PRIVATE GENERATORS IN LOCK DOWN- AIPEF ऑल इण्डिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन ने सभी प्रांतों के मुख्यमंत्रियों को पत्र भेजकर प्रदेश व आम उपभोक्ता के हित में की मांग लखनऊ, 02 अप्रैल 2020. लॉक डाउन के चलते बिजली की मांग में भारी कमी (Heavy

लॉक डाउन के दौरान माकपा ने की स्कूली बच्चों की फीस माफी की मांग

CPIM

CPIM demands waiver of fees of school children during lock down स्कूली बच्चों की चार माह की फीस हो माफ : माकपा रायपुर, 02 अप्रैल, 2020. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों की लॉक डाउन के दौरान फीस वसूली स्थगित करने के राज्य सरकार के आदेश को नितांत अपर्याप्त बताया है

“इंडियाज़ डॉटर-सेक्स, वोईलेंस और वुमेन : बाज़ार का सबसे ज्यादा बिकाऊ माल” 

india's daughter documentary review

“India’s Daughter-Sex, Violence and Women: Market’s Most Selling Merchandise” India’s daughter documentary review in Hindi अरगला पत्रिका के संपादक और जनवादी कवि अनिल पुष्कर कवीन्द्र का यह लेख 08 मार्च 2015 को हस्तक्षेप पर प्रकाशित हुआ था, पाठकों के लिए पुनर्प्रकाशन  दरअसल ये बाज़ार उन मुल्कों में अपनी घुसपैठ कर चुके हैं जहां तमाम तरह

सर्वोच्च न्‍यायालय का मीडिया को निर्देश : अप्रमाणित समाचारों का प्रसार न करें जिनसे दहशत फैल सकती हो 

The Supreme Court of India. (File Photo: IANS)

Don’t disseminate unverified news capable of causing panic: SUPREME COURT to Media नई दिल्ली, 01 अप्रैल 2020 : सर्वोच्च न्‍यायालय ने प्रिंट, इलेक्‍ट्रॉनिक और सोशल मीडिया सहित मीडिया को जिम्‍मेदारी की प्रबल भावना बरकरार रखने और यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि ऐसे अप्रमाणित समाचारों का प्रसार न होने पाए, जिनसे दहशत फैल

जमशेदपुर की किसी मस्जिद में कोई छापेमारी नहीं, मस्जिद कमेटी के लोगों ने सहयोग किया : एसएसपी

Anoop Birthare, SSP of Jamshedpur

जमशेदपुर पुलिस : हिंदपीढ़ी और मरकज़ से लौटे लोगों को चिन्हित कर भेजा गया आइसोलेशन में लॉकडाउन के कारण जमात के लोग मस्जिद से नहीं जा सके थे वापस। दो महीने पूर्व घर से निकले थे जमात के लोग। मरकज़ और हिंदपीढ़ी से लौटे 4 लोगों को मुसाबनी में आइसोलेशन पर भेजा गया। जमशेदपुर से

हर परिवार को मिले 35 किलो मुफ्त राशन – दिनकर

दिनकर कपूर Dinkar Kapoor अध्यक्ष, वर्कर्स फ्रंट

Every family should get 35 kg free ration – Dinkar हर दैनिक वेतन मजदूर को मिले100 दिन की मनरेगा मजदूरी मजदूर किसान मंच ने नागरिकों की जीवन रक्षा के लिए मुख्यमंत्री को भेजा पत्र लखनऊ 1 अप्रैल 2020, कोरोना संक्रमण के कारण जारी लाकडाउन (Continued lockdown due to corona infection) में आज से शुरू हुआ

शिक्षा और स्वास्थ्य की सार्वजनिक व्यवस्था को नजरंदाज करने का खामियाजा भुगत रहा है देश : अम्बरीश राय

India news in Hindi

शिक्षा अधिकार कानून की दसवीं वर्षगांठ “कोरोना वायरस” के संकट से उत्पन्न वैश्विक महमारी के साये में मनाने को मजबूर भारत Tenth Anniversary of Right to Education Act नई दिल्ली, 1 अप्रैल, 2020 आज 1 अप्रैल को शिक्षा अधिकार कानून, 2009 को लागू हुए दस वर्ष पूरे हो गए। कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न अभूतपूर्व

सीबीएसई स्कूलों में देशभर के आठवीं तक सभी बच्चे पास

National news

As advised by Union HRD Minister, CBSE directs its affiliated schools  to promote all students of classes I-VIII to the next class/grade Students studying in classes IX & XI to be promoted to next class/grade  on school-based assessment नई दिल्ली, 1 अप्रैल 2020. केंद्र सरकार ने कक्षा एक से आठवीं तक के सभी छात्रों को

टीवी चैनलों और सोशल मीडिया में एक निर्लज्ज तबका सरकार के बचाव में खड़ा है

Corona virus

क्या सरकार की उचित आलोचना भी न हो ? | Shouldn’t the government also be properly criticized? कोरोना महामारी से जंग के बजाय निहित स्वार्थ की राजनीति देश के लिए बेहद घातक होगी। किसी भी दल, संगठन ने लॉकडाउन पर सवाल (Question on lockdown) नहीं उठाया, पीएम के कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोग का