Home » Latest (page 3)

Latest

पश्चिम बंगाल में खराब होने वाला है मौसम का मिजाज़, बढ़ेगी वायु प्रदूषण की समस्‍या

वायु प्रदूषण, air pollution, air pollution poster,air pollution in hindi,air pollution News in Hindi, वायु प्रदूषण पर निबंध,Diseases Caused by Air Pollution,newspaper articles on pollution in hindi, वायु प्रदूषण का चित्र,वायु प्रदूषण पर नवीनतम समाचार,वायु प्रदूषण के कारण, वायु प्रदूषण की समस्या और समाधान, Air Pollution से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव,वायु प्रदूषण News in Hindi,

The weather is going to be bad in West Bengal. air pollution problem will increase in west Bengal Understanding North India’s Pollution Crisis | air pollution in india 2021, दिल्ली के बाद अब पश्चिम बंगाल भी धीरे-धीरे वायु प्रदूषण की जकड़ में आ रहा है। स्विट्जरलैंड के क्लाइमेट ग्रुप आईक्यू एयर (Climate group IQ Air of Switzerland) द्वारा हाल ही …

Read More »

“भारत के लिए बेहतर है चीन से नजदीकी और अमेरिका से दूरी” – प्रो. सुबोध मालाकार

Subodh Malakar, Professor, Jawaharlal Nehru University, Delhi

Changing International Equations and its Impact on India इंदौर 22 नवंबर 2021 (पायल फ्रांसिस). आज के दौर में जब तकनीक के माध्यम से सारी दुनिया एक-दूसरे से अलग-अलग स्तरों पर जुड़ गयी है तो अंतरराष्ट्रीय राजनीति की व्यवस्था और उसमें होने वाले बदलावों को समझना ज़रूरी है। इसलिए भी कि इन बदलावों से दुनिया का कोई देश अछूता नहीं रहता …

Read More »

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : मोदीजी की माफीवीरता किसानों के संघर्ष और बलिदान की पहली उपलब्धि

deshbandhu editorial

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : किसानों के संघर्ष और बलिदान की पहली उपलब्धि Repeal of cruel agricultural laws: the first achievement of the struggle and sacrifices of the farmers देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today 16 जून 2019 को भारत-पाक के बीच वर्ल्ड कप मैच (world cup match between india pakistan) के बाद पाकिस्तान के क्रिकेट प्रेमी …

Read More »

लालू जयकारा से शुरू होकर अखिलेश की जयकारा तक पहुँच गयी भाकपा (माले)

CPI ML

भाकपा (माले) की राजनीतिक वैचारिक गिरावट लगातार जारी… भाकपा (माले) की राजनीतिक वैचारिक गिरावट का बिहार से उत्तर प्रदेश में हुआ विस्तार The political ideological decline of CPI(ML) continues… हम बात यहाँ से शुरू करते हैं, जब हम नब्बे के दशक में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के छात्र थे और छात्रसंघ के चुनाव में जब सीपीआई का छात्र संगठन एआईएसएफ समाजवादियों …

Read More »

भारतीय साहित्य में जातीय सांस्कृतिक चेतना

literature and culture

भारतीयता की अवधारणा पर विचार करना जरूरी है… INDIAN LITERARY TRADITION AND INDIAN ETHOS भारतीयता के मूल स्वर को अभिव्यक्त करने वाला साहित्य ही भारतीय साहित्य (Indian Literature) हो सकता है चाहे उसकी रचना देश की चौहद्दी के भीतर हुई हो चाहे बाहर, और चाहे वह किसी भी देश-विदेशी भाषा में लिपिबद्ध हुई हो। भारतीय साहित्य किसे कहा जा सकता …

Read More »

नेपाल डायरी : हमाम में सब नंगे क्या कांग्रेस क्या कम्युनिस्ट और माई लॉर्ड भी

nepal diary

Nepal Bar Association announces sit-in protest demanding Chief Justice Rana’s resignation. समकालीन नेपाल के सार्वजनिक जीवन (पब्लिक स्पेस) में एक अभूतपूर्व दृश्य उपस्थित है. करीबन एक महीने से नेपाल की सर्वोच्च न्यायिक संस्था सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस (Chief Justice of the Supreme Court of Nepal’s highest judicial body) के खिलाफ देश भर के वकीलों का संगठन नेपाल बार एसोसिएशन …

Read More »

कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले का ऐलान : एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारो!

pm narendra modi

किसानों के संघर्ष के आगे झुक गई मोदी सरकार Modi government bowed before the farmers’ struggle आखिरकार, किसानों के संघर्ष ने मोदी सरकार को झुकने को मजबूर कर दिया है। गुरु पर्व के मौके पर, राष्ट्र के नाम एक विशेष संबोधन के जरिए, प्रधानमंत्री मोदी ने न सिर्फ तीन विवादित कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले का ऐलान किया …

Read More »

क्या सत्यपाल मलिक की चेतावनी से रद्द हुए तीन कृषि कानून!

satyapal malik

क्या मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक द्वारा दी गई चेतावनी तीन कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए जिम्मेदार है? Is the stern warning given by Meghlaya Governor Satya Pal Malik responsible for the withdrawal of three farm laws? क्या मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक द्वारा दी गई चेतावनी (Warning given by Meghalaya Governor Satya Pal Malik) तीन कृषि कानूनों …

Read More »

सीओपी 26 की कसौटी : विशेषज्ञों की नजर में भारत की राह चुनौतीपूर्ण

COP26 (GLASGOW CLIMATE CHANGE CONFERENCE – OCTOBER-NOVEMBER 2021)

Test of COP26: India’s road challenging in the views of experts नई दिल्‍ली, 20 नवम्‍बर। ग्‍लासगो में हाल में सम्‍पन्‍न सीओपी26 में निर्धारित लक्ष्‍य (Goals set at the recently concluded COP 26 in Glasgow) और व्‍यक्‍त संकल्‍पबद्धताओं की पूर्ति की कसौटी पर भारत अलग तरह की चुनौतियों को सामना कर रहा है। कोयले के चलन को चरणबद्ध ढंग से खत्‍म …

Read More »

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : उप्र-पंजाब में चुनाव को देखते हुए राजनीतिक फैसला

Ghazipur border: farmers will plant flowers near police forts.

कृषि कानूनों का निरस्तीकरण : उत्तर प्रदेश और पंजाब में आगामी चुनाव को देखते हुए राजनीतिक फैसला Repeal of agricultural laws: Political decision in view of upcoming elections in Uttar Pradesh and Punjab प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संसद में पारित तीन कुख्यात कृषि कानूनों को निरस्त करने की घोषणा (Announcement to repeal agricultural laws) निश्चित रूप से किसान आंदोलन और …

Read More »

इंदिरा गांधी का उतार चढ़ाव भरा राजनीतिक जीवन : बहुत कुछ सीखा जा सकता है

Indira Gandhi

A lot can be learned from Indira Gandhi’s tumultuous political life: Vijay Shankar Singh स्वातंत्र्योत्तर भारत के इतिहास (History of post-independence India) में इंदिरा गांधी एक विलक्षण व्यक्तित्व की राजनेता थीं। वे भारत के प्रधानमंत्री के पद पर 1966 से लेकर 1977 और फिर 1980 से लेकर 1984 तक आसीन रहीं। इसी अवधि में पाकिस्तान का तीसरा हमला भारत पर …

Read More »

जनदबाब में काले कृषि कानूनों की हुई वापसी की घोषणा – आइपीएफ

ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अवकाशप्राप्त आईपीएस एस आर दारापुरी (National spokesperson of All India People’s Front and retired IPS SR Darapuri)

Announcement of withdrawal of black agricultural laws in public pressure – IPF लखनऊ 19 नवम्बर 2021, भारी जनदबाब में प्रधानमंत्री मोदी को तीनों काले कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा करनी पड़ी है। यह किसान और आम जनता के आंदोलन की जीत है इसने एक बार फिर जनता की प्रभुता को देश में स्थापित किया है। लेकिन मोदी सरकार …

Read More »

किसान आंदोलन की ऐतिहासिक जीत

Chhattisgarh Kisan protest 26 November 2020. Farmers protest against agricultural laws on November 26. देशव्यापी किसान आंदोलन में जगह-जगह किसानों के प्रदर्शन

Historic victory of the peasant movement आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) ने जब तीन कृषि कानून वापिस लेने की घोषणा (Announcement to withdraw three agricultural laws) की तो आंदोलकारी किसानों के चेहरे विश्वास और ख़ुशी से चमक उठे। पिछले एक वर्ष से अनगिनत विपदाओं, भीषण सर्दी, गर्मी और अब फिर सर्दी के चक्र से मुकाबले और मीडिया …

Read More »

हिन्दी भाषा और अमीर खुसरो

hindi language and amir khusro

Hindi language and Amir Khusro अमीर खुसरो फारसी के बहुत बड़े कवि तथा विद्वान थे। फारसी के अतिरिक्त उन्हें हिन्दी भाषा से भी गहरा लगाव था। इसी वजह से हिन्दी भाषा को फारसी भाषा से हीन नहीं समझते थे। वे अपनी फारसी रचना ‘गुर्रतुल कमाल’ की भूमिका में लिखते हैं- चूं गन तूती ए हिन्दम अजरासत पुर्सी। जगन हिन्दवी पुर्स …

Read More »

जानिए क्या आज भी प्रासंगिक है महात्मा गांधी का ट्रस्टीशिप सिद्धांत

Mahatma Gandhi महात्मा गांधी

महात्मा गांधी के ट्रस्टीशिप सिद्धांत की प्रासंगिकता | Relevance of Mahatma Gandhi’s doctrine of trusteeship in Hindi | relevance of mahatma gandhis trusteeship doctrine india गांधीवाद के चार प्रमुख आयाम माने जाते हैं: सत्य, अहिंसा, स्वालंबन और ट्रस्टीशिप। गांधीवाद महात्मा गांधी के उन राजनीतिक एवं सामाजिक विचारों पर आधारित है जिनको उन्होंने सबसे पहले व्यवहार में प्रयोग किया तथा उनको …

Read More »

चेन्नई की बाढ़ : कौन ज़िम्मेदार है इस अव्यवस्था के लिए?

chennai floods

Chennai Floods: Who is Responsible For The Mess? विशेषज्ञों का मानना है कि भारी जल निकासी के डिज़ाइन में तकनीकी ख़ामियों (Technical flaws in the design of heavy drainage), शहरीकरण के कारण प्राकृतिक जल निकासी व्यवस्था (natural drainage system) के ख़ात्मे और जल निकायों पर अतिक्रमण की वजह से चेन्नई में हर तरफ जलभराव की स्थिति बनी हुई है। चेन्नई …

Read More »

मशरूम उत्पादन बना रहा है आत्मनिर्भर

production of mushrooms

कोरोनाकाल में कृषि आधारित रोजगार की संभावनाएँ कोरोना के बाद बेरोजगारों की तादाद बढ़ गई है. युवा आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं. दरअसल कोरोना की भयावहता ने उन्हें स्थानीय स्तर पर ही रोजगार और मजदूरी करने के लिए बाध्य कर दिया है. कुछ युवा तो अपने राज्य में उचित अवसर नहीं मिलने की वजह से दूसरे प्रांत में …

Read More »

विश्व रोगाणुरोधी जागरूकता सप्ताह : दवा प्रतिरोधकता से मर जाते हैं 7 लाख से अधिक लोग !

world antimicrobial awareness week

यदि दवाएँ कारगर नहीं रहीं तो साधारण रोग भी हो जाएँगे घातक दवा प्रतिरोधकता को रोकने के लिए वैश्विक सप्ताह (विश्व रोगाणुरोधी जागरूकता सप्ताह) : 18-24 नवम्बर | World Antimicrobial Awareness Week 2021. 18 to 24 November is World Antimicrobial Awareness Week in Hindi दवाओं के अनावश्यक उपयोग या दुरुपयोग के कारण, जो कीटाणु रोग जनते हैं, वह दवा प्रतिरोधकता …

Read More »

क्या भाजपा को यूपी में सताने लगा हार का डर?

Did the fear of defeat haunt the BJP in UP?

Did the fear of defeat haunt the BJP in UP? Prime minister Narender Modi purvanchal expressway inauguration live news updates in Hindi. Purvanchal Expressway की ताज़ा खबरें हिन्दी में. उत्तर प्रदेश का पूर्वांचल भाजपा की नई प्रयोगशाला क्यों बनता जा रहा है? भाजपा की इस विकास राजनीति का क्या अर्थ है? (Purvanchal Expressway) पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से योगी आदित्यनाथ को चुनाव …

Read More »

अंधा बांटे रेवड़ी फिर-फिर अपने को दे

opinion debate

एक बात तय है कि कांग्रेस मुक्त भारत बनाने के क्रम में देश की राजनीति और सम्पूर्ण समाज को ही विपक्षविहीन बना देने को मैदान में उतरे मोदी-शाह एक भी ऐसा मौका नहीं छोड़ते जब वे दूसरों के प्रति अपनी घृणा का खुलकर प्रदर्शन न करते हों। अब कल नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) के कार्यालय में पहले ऑडिट दिवस …

Read More »

प्रीमैच्योर शिशु को माँ जितनी जल्दी गले लगाए उतनी जल्दी वह स्वस्थ होगा : डॉ दीपिका रस्तोगी

doctors at yashoda hospital

विश्व समयपूर्वता दिवस – यह क्या है और क्यों मनाया जाता है? सामान्य तौर पर शिशु का जन्म कितन हफ्ते के बाद होता है? कितने वीक में डिलीवरी होनी चाहिए? प्रीमैच्योर बेबी क्या होता है। Premature Baby Meaning in Hindi गाजियाबाद, 17 नवंबर 2021 : सामान्य तौर पर शिशु का जन्म नौ महीने या 40 हफ्ते के बाद होता है, …

Read More »