Home » Latest » चाचा चौधरी बने नमामि गंगे प्रोजेक्ट के ब्रांड एंबेसडर
Chacha Chaudhary becomes the Brand Ambassador for Namami Gange Project

चाचा चौधरी बने नमामि गंगे प्रोजेक्ट के ब्रांड एंबेसडर

Chacha Chaudhary becomes the Brand Ambassador for Namami Gange Project

डायमंड टून्स और जल शक्ति मंत्रालय द्वारा एक संयुक्त पहल | A joint initiative by Diamond Toons and Ministry of Jal Shakti

नदी को पुनर्जीवित करने के लिए जनता के बीच व्यवहार परिवर्तन को बढ़ावा देने के लिएटॉकिंग कॉमिक्स‘ | A ‘Talking comics’ to promote behavioral change among masses to revive the river

नई दिल्ली, 6 नवंबर 2020: प्रतिष्ठित भारतीय कॉमिक्स हीरो, चाचा चौधरी, वह शख्स, जिसका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज काम करता है, अब नमामि गंगे कार्यक्रम के साथ हाथ मिलाने के लिए आगे आये हैं।

क्या है नमामि गंगे कार्यक्रम

यह केंद्र सरकार की योजना है जिसे वर्ष 2014 में शुरू किया गया था। सरकार द्वारा इस परियोजना की शुरुआत राष्ट्रीय नदी गंगा का प्रदूषण, संरक्षण और कायाकल्प करने के उद्देश्य से की गई थी।

डायमंड टून्स गंगा नदी के सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने और गंगा कायाकल्प के लिए आम जनता में सर्वोत्तम उपलब्ध ज्ञान को उपलब्ध कराने के लिए चाचा चौधरी के साथ इस नई टॉकिंग कॉमिक्स ’की अवधारणा और प्रकाशन करेगा।

डायमंड टून्स की विज्ञप्ति में कहा गया है कि चाचा चौधरी इस मिशन का नया चेहरा बनने के लिए बिल्कुल तैयार है और देश भर में इस अभियान को आक्रामक रूप से सफलतापूर्वक बढ़ावा देने में मदद करेंगे। कॉमिक्स वयस्कों, युवाओं, छात्रों में मजबूत व्यवहार परिवर्तन को बढ़ावा देने के लिए संपन्न है। इस नई कॉमिक्स का कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद किया गया है।

सहयोग पर बोलते हुए, डायमंड टूनस के निदेशक, मनीष वर्मा ने कहा,

चाचा चौधरी ने टॉकिंग कॉमिक्स’ के माध्यम से जो परिवर्तन किया है, उसने साबित कर दिया है कि वह व्यवहार परिवर्तन के लिए सभी पीढ़ियों के सबसे बड़े प्रभावशाली हैं और लोग उन पर अधिक से अधिक भरोसा करते हैं। भारत में यह करैक्टर पहले भी स्वच्छ भारत मिशन की तरह इस तरह के अभियानों का एक अभिन्न हिस्सा रहा है, नई ऊर्जा को प्रभावित करता है और आंदोलन के पक्ष में कुशलता से काम करता है। चाचा चौधरी को शामिल करना इस प्रतिष्ठित चरित्र की शक्ति और प्रभाव को दर्शाता है जो अभी भी सभी आयु समूहों और सामाजिक प्रोफाइल के लोगों तक पहुंचने में बेहतर काम कर रहा है। कॉमिक्स को हमारे 360 डिग्री वितरण नेटवर्क के माध्यम से वितरित किया जाएगा जिसमें प्रिंट, स्कूल एकीकरण, लाइब्रेरी प्रोग्राम, एनीमेशन, आउटडोर, डिजिटल और सोशल मीडिया शामिल हैं।”

निखिल प्राण ने कहा,

“हम सभी कॉमिक्स पढ़ते हुए बड़े हुए हैं जहाँ चाचा चौधरी अपने मस्तिष्क का उपयोग समस्या को हल करने के लिए करते हैं। यह चरित्र हर भारतीय के दिल में गहरा है। यह हमारे लिए गर्व की बात है कि चाचा चौधरी फिर से एक और सामाजिक मुद्दे का प्रचार करने और निपटने के लिए यहां हैं। यह चाचा चौधरी के माध्यम से है कि राष्ट्रीय महत्व के विषयों को मजेदार और रोचक तरीके से बच्चों को पढ़ाया जाता है।”

एनएमसीजी के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्रा ने कहा,

“चाचा चौधरी का नमामि गंगे का ब्रांड एंबेसडर बनना बच्चों को नदी के कायाकल्प के लिए जोड़ने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।”

जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने इस पहल की सराहना करते हुए कहा,

“गंगा कायाकल्प एक सतत कार्य है, जिसके लिए हमें सार्वजनिक भागीदारी को बढ़ावा देना होगा, हमें लोगों के बीच कर्तव्य की भावना पैदा करनी होगी।”

डायमंड टून्स, डायमंड ग्रुप का सबसे रचनात्मक प्रभाग है। डायमंड टून्स का अन्य प्रमुख बच्चों के ब्रांडों के साथ मिलकर काम करने का इतिहास रहा है। डायमंड टून्स का एक हिस्सा: चाचा चौधरी, बिल्लू और पिंकी भारत में सबसे ज्यादा पसंद और पढ़े जाने वाले कॉमिक किरदार हैं। चाचा चौधरी कॉमिक श्रृंखला ने 40 से अधिक वर्षों के लिए भारतीय बच्चों की के दिलों पर राज किया है और आज भी अधिकतम लोगों तक पहुंचना जारी है।

यह समस्त जानकारी डायमंड टून्स की एक विज्ञप्ति में दी गई है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

farming

रासायनिक, जैविक या प्राकृतिक खेती : क्या करे किसान

Chemical, organic or natural farming: what a farmer should do? मध्य प्रदेश सरकार की असंतुलित …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.