छत्तीसगढ़ की आबादी 2.5 करोड़ पर भाजपा का तीन करोड़ लोगों से छत्तीसगढ़ में संपर्क का दावा, मोदी है तो मुमकिन है !

नफरत फैलाने वाले नागरिकता संशोधन कानून (Hateful citizenship amendment act) को शांति सद्भाव और भाईचारे के प्रदेश छत्तीसगढ़ में नहीं मिलेगा कोई समर्थन

रायपुर/29 जनवरी 2020। कांग्रेस ने कहा है कि नोटबंदी में प्रचलन से ज़्यादा नोट बैंक में एकत्रित कर चुकी भाजपा सरकार अब छत्तीसगढ़ में आबादी से अधिक लोगों से संपर्क करेगी।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि एनआरसी और सीएए के देश भर में हो रहे विरोध से घबराई भाजपा यह भी नहीं सोच पा रही है कि 2.5 करोड़ की आबादी में बहुत बड़ी संख्या में बच्चे और बुजुर्ग हैं जिनको वे कुछ नहीं समझा सकते। सीएए, एनआरसी और एनपीआर इसको लेकर भाजपा ने छत्तीसगढ़ में घर-घर जाने का निर्णय लिया है। भाजपा ने घोषित किया है कि वह तीन करोड़ लोगों से सीएए को लेकर संपर्क करेगी, जबकि छत्तीसगढ़ की जनसंख्या ही ढाई करोड़ है। ये पचास लाख लोग कहां से लाएगी भारतीय जनता पार्टी? इसके पहले भी भाजपा ऐसा कर चुकी है।

श्री त्रिवेदी ने कहा भाजपा ने छत्तीसगढ़ में 56 लाख सदस्य अपने बनायें थे, लेकिन भारतीय जनता पार्टी को विधानसभा चुनाव में मात्र 47 लाख 1 हजार वोट मिले है। भाजपा के सदस्यों ने भी भाजपा को वोट नहीं दिया। उसके बाद सीएए पर मिस्ड काल देने का अभियान भाजपा ने शुरू किया। मात्र साढ़े पांच हजार मिस्ड काल आयी। अर्थात् भाजपा के सदस्यों का 0.1 प्रतिशत भी नागरिकता कानून के साथ नहीं है। इसलिए भाजपा के अभियान विफल होना तय है।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ शांति परस्पर सद्भाव का प्रदेश है। छत्तीसगढ़ में इस तरीके से नफरत फैलाने वाले कानून, धर्म से धर्म को लड़ाने वाले कानून को कोई समर्थन नहीं मिलेगा।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations