चिदंबरम का दावा, एनआरसी का ही छद्म रूप है एनपीआर

Chidambaram claims, NPR is a disguised form of NRC

कोलकाता, 18 जनवरी 2020. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम (Senior Congress leader and former home minister P. Chidambaram) ने कहा है कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का ही छद्म रूप है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी एक अप्रैल से एनपीआर को लागू नहीं होने देगी।

चिदंबरम ने कहा,

“असम में एनआरसी की असफलता के बाद भाजपा की अगुवाई वाली राजग सरकार ने तुरंत गियर बदल दिए और अब वे एनपीआर के बारे में बात कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा,

“सीएए, एनपीआर और एनआरसी का विरोध कर रही सभी पार्टियों को साथ आना चाहिए।”

राज्य में एक नेतृत्व प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने पहुंचे चिदंबरम ने लोगों को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और एनपीआर के निहितार्थ समझाने की कोशिश की।

चिदंबरम ने उम्मीद जताई कि राज्य के पार्टी नेता बंगाल के सभी हिस्सों में अभियान को आगे बढ़ाएंगे और लोगों को सीएए व एनपीआर के भयावह उद्देश्यों के बारे में बताएंगे। उन्होंने कहा कि सीएए के खिलाफ सार्वजनिक राय जुटाई जाएगी।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations