Home » Latest » आओ हम सब मिलकर भारत के अंहिसा, शांति और प्रेम के संदेश का प्रदर्शन करें
Prof. Bhim Singh

आओ हम सब मिलकर भारत के अंहिसा, शांति और प्रेम के संदेश का प्रदर्शन करें

Come, let us all together demonstrate India’s message of harmony, peace and love.

नई दिल्ली, 24 फरवरी, 2020. नेशनल पैंथर्स पार्टी के मुख्य संरक्षक, विश्व शांति परिषद के चेयरमैन एवं वरिष्ठ अधिवक्ता प्रो. भीम सिंह ने भारतीय संमाज के सभी वर्गों और राजनीतिक दलों से भारत के शांति से प्रेम, अहिंसा और सद्भाव का, जिसका भारत सदियों से पालन कर रहा है, प्रदर्शन करने की अपील की है।

उन्होंने कुछ तत्वों राजनीतिक या आदि के द्वारा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सड़कों पर शोर मचाने पर गहरा दुख प्रकट किया।

उन्होंने समाज के सभी वर्गों और राजनीतिक दलों से हर तरह की हिंसा, जिसके परिणास्वरूप एक पुलिसकर्मी की मौत हो गयी है, के खिलाफ एकजुट होने की अपील की, खासतौर पर ऐसे समय में जब आज पूरा देश अमेरिकी राष्ट्रपति के भारत के दौरे पर स्वागत में व्यस्त है। ऐसे समय में राजधानी की सड़कों पर प्रदर्शन या हिंसक गतिविधियां और शांति व्यवस्था बनाए रखने में व्यस्त पुलिस के साथ झड़प अस्वीकार्य है।

प्रो. भीम सिंह ने देश के पूरे नेतृत्व से, उनकी राजनीतिक जुड़ाव के बिना, अपील की कि हम सब देशवासियों, खासतौर पर वे लोग जो लगभग एक महीने ज्यादा से कुछ मुद्दों पर दिल्ली की सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं, भारत के प्रेम, भाईचारे या एकजुटता के प्रदर्शन करने की अपील की।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में, जो आज शाम को अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करेगी, आज की झड़प से भारत के दुनिया में दोस्तों और शुभचिंतकों को नकारात्मक संदेश जाएगा।

उन्होंने देश के पूरे नेतृत्व से लोगों से हिंसा और हिंसक गतिविधियों से दूर रहने की अपील की, खासतौर पर ऐसे समय में जब दुनिया की बड़ी शक्ति हमारी मेहमान है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

updates on the news of the country and abroad breaking news

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 15 मई 2022 की खास खबर

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस Top headlines of India today. Today’s big news …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.