कांग्रेस की बादल को नसीहत, सीएए को लेकर मोदी सरकार पर बरसने के बजाय बहू से इस्तीफा दिलवाएं

Congress advises Badal, instead of shouting on Modi government on CAA, get resignation from daughter-in-law

चंडीगढ़ 02 मार्च 2020. कांग्रेस ने शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को नसीहत दी है कि वह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर बरसने के बजाय अपनी पुत्रवधु हरसिमरत कौर से केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिलवाएं।

कांग्रेस नेताओं और पंजाब के तीन कैबिनेट मंत्रियों सुखजिंदर सिंह रंधावा, गुरप्रीत सिंह कांगड़ और भारत भूषण आशु ने एक बयान में कहा कि सीनियर बादल ने बठिंडा में पार्टी की रैली के दौरान देश में अल्पसंख्यकों के लिए डर, असुरक्षा और अनिश्चितता का माहौल होने की बात की थी लेकिन इस मामले में शिअद की भी उतनी ही जिम्मेवारी है जितनी भारतीय जनता पार्टी की।

मंत्रियों के बयान के अनुसार केंद्र सरकार में शामिल शिअद ने पहले सीएए के मुद्दे पर संसद में वोट डाला और उसके बाद दिल्ली में अल्पसंख्यकों पर हुए दमन पर कोई बयान नहीं दिया या निंदा नहीं की।

मंत्रियों ने कहा कि यदि पूर्व मुख्यमंत्री सचमुच इस मामले को लेकर गंभीर हैं और अल्पसंख्यकों के प्रति चिंतित हैं तो वह पहले हरसिमरत कौर से इस्तीफा दिलवाएं।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations