Home » Latest » एक स्वर में बोले उलेमा, अकेले प्रियंका गांधी सीएए-एनआरसी के खिलाफ़ सड़क पर उतरीं
Priyanka Gandhi at Muzaffarnagar

एक स्वर में बोले उलेमा, अकेले प्रियंका गांधी सीएए-एनआरसी के खिलाफ़ सड़क पर उतरीं

अल्पसंख्यकों की मांगों को कांग्रेस चुनाव में मजबूती से उठायेगी- सलमान खुर्शीद

उलेमाओं ने एक स्वर में प्रियंका गांधी की तारीफ कर कहा वही अकेले सीएए-एनआरसी के खिलाफ़ सड़क पर उतरीं

कांग्रेस मेनिफेस्टो कमेटी की प्रदेश के उलेमाओं से हुई वर्चुअल मीटिंग

पिछड़े मुसलमानों के अन्य समूहों के साथ भी जल्द होंगी बैठकें

लखनऊ, 11 जून 2021. आगामी विधान सभा चुनावों में अल्पसंख्यक समाज से जुड़े मुद्दों को उठाने के लिए कांग्रेस मेनिफेस्टो कमेटी के अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मन्त्री सलमान खुर्शीद की यूपी अल्पसंख्यक कांग्रेस के माध्यम से प्रदेश के उलेमाओं से वर्चुअल मीटिंग हुई.

प्रदेश के अलग अलग हिस्सों से सौ के क़रीब उलेमाओं ने एक स्वर में सीएए-एनआरसी विरोधी आंदोलनकारियों के दमन पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा जगह-जगह जा कर पीड़ितों से मिलने और उनकी आवाज़ बुलंद करने के लिए शुक्रिया अदा की. उलेमाओं ने कांग्रेस से इमामों और मोअज़िन को दूसरे राज्यों की तर्ज पर तंख्वाह देने, भीड़ हत्या के खिलाफ़ क़ानून बनाने, पिछले 30 साल से वक़्फ़ की ज़मीनों की हुई लूट और भ्रष्टाचार का ऑडिट कराने, सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को सरकारी नौकरी देने, मदरसों के आधुनिकीकरण, गरीब परिवारों की लड़कियों की शादी के लिए वित्तीय मदद देने, हर मण्डल में यूनानी मेडिकल कॉलेज खोलने, समाज कल्याण विभाग की तरफ से दलित और पिछड़ों की तर्ज पर अल्पसंख्यक वर्ग के छात्रों के लिए हर ज़िले में हॉस्टल खोलने, संभल, अमरोहा, बिजनौर, में से किसी एक जगह विश्वविद्यालय खोलने, आजमगढ़ के शिबली कॉलेज को विश्वविद्यालय का दर्जा देने समेत कई सुझाव आये.

कांग्रेस मेनिफेस्टो कमेटी के अध्यक्ष पूर्व क़ानून मन्त्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि इन सभी सुझावों को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी के समक्ष रखा जायेगा.

उन्होंने उलेमाओं की इस बात से सहमति जताई कि पिछले 30 साल से प्रदेश के अल्पसंख्यक समूहों को क्षेत्रीय दलों ने सिर्फ़ वोट बैंक की तरह इस्तेमाल किया.

मेनिफेस्टो कमेटी के सदस्य पूर्व सांसद पीएल पुनिया ने कहा कि प्रियंका गांधी के अलावा कोई भी योगी के कुशासन के खिलाफ़ नहीं बोल रहा है.

संचालन अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने की. उन्होंने कहा कि अभी उलेमा समाज के साथ और भी बैठकें होंगी. इसके अलावा क़ुरैशी, अंसारी, मंसूरी, मलिक, अब्बासी, सैफी, सलमानी व सपा-बसपा द्वारा ठगे गए पिछड़े मुसलमानों के अन्य समूहों के साथ भी बैठकें होंगी.

कांग्रेस प्रवक्ता और मेनिफेस्टो कमेटी की सदस्य सुप्रिया श्रीनेत, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रभारी सचिव रोहित चौधरी, तौक़ीर आलम, उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक कांग्रेस के सभी उपाध्यक्ष उपस्थित रहे.

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

health news

78 शहरों के स्थानीय नेतृत्व ने एकीकृत और समन्वित स्वास्थ्य नीति को दिया समर्थन

Local leadership of 78 cities supported integrated and coordinated health policy End Tobacco is an …

Leave a Reply