कांग्रेस को घेरने की साजिश या रणनीति ! यूपी चुनाव 2022 | प्रियंका गांधी| अखिलेश यादव| ममता बनर्जी

कांग्रेस को घेरने की साजिश या रणनीति ! यूपी चुनाव 2022 | प्रियंका गांधी| अखिलेश यादव| ममता बनर्जी

कांग्रेस को घेरने की साजिश या रणनीति ! यूपी चुनाव 2022 | प्रियंका गांधी| अखिलेश यादव| ममता बनर्जी

Conspiracy or strategy to surround Congress! UP Election 2022 | Priyanka Gandhi| Akhilesh Yadav| Mamata Banerjee

कांग्रेस को घेरने की साजिश या रणनीति ! hastakshep #NewsPoint #RahulGandhi #TMC #LiveTV #MamataBanerjee

इस समय संसद का शीतकालीन सत्र (winter session of parliament) चल रहा है, जहां विपक्ष लगभग रोज ही भाजपा और सरकार को घेर रहा है। लेकिन संसद के बाहर देश के राजनैतिक परिदृश्य में कांग्रेस को घेरने की साजिशें की जा रही हैं।

मजे की बात यह है कि कांग्रेस का घेराव वो विपक्षी दल ही कर रहे हैं, जिनकी राजनीति भाजपा के विरोध में (Polotics Against BJP) दिखाई देती है, लेकिन असल में विरोध कांग्रेस का हो रहा है। इस घेराव में फिलहाल भूमिका प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की है, जो पिछले कुछ महीनों से बदले अंदाज वाली राजनीति करती दिख रही हैं।

चुनाव मैनेजर प्रशांत किशोर (Election Manager Prashant Kishor) को साथ लेकर तृणमूल लगातार कांग्रेस को तोड़ने का काम कर रही है।

सोनिया गांधी से नहीं मिलीं ममता

हाल ही में ममता बनर्जी ने दिल्ली दौरा किया तो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात को जरूरी नहीं बताया, फिर उन्होंने मुंबई में यूपीए को ही गैरजरूरी बता दिया।

संसद में भी अलग राग तृणमूल का

संसद में तृणमूल के सांसद कांग्रेस का साथ नहीं दे रहे हैं और अब यूपी में भी समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ममता बनर्जी का नाम लेने लगे हैं, जो कहीं न कहीं सपा के कांग्रेस विरोध को दर्शा रहा है।

इस चर्चा में कोलकाता से वरिष्ठ पत्रकार सुमन भट्टाचार्या, ग्वालियर से वरिष्ठ पत्रकार डॉ. राकेश पाठक, राजनीतिक विश्लेषक निशांत वर्मा और वरिष्ठ पत्रकार अमलेन्दु उपाध्याय।

चर्चा का संचालन कर रहे हैं देशबन्धु के प्रधान संपादक राजीव रंजन श्रीवास्तव.

देखें…. शेयर करें और चैनस सब्सक्राइब करें।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.