कोरोना वायरस लॉकडाउन : आईआरसीटीसी ने कहा यात्री ई-रेल टिकट खुद रद्द न करें

कोरोना वायरस लॉकडाउन : आईआरसीटीसी ने कहा यात्री ई-रेल टिकट खुद रद्द न करें

Corona virus lockdown: IRCTC said passengers should not cancel e-rail tickets themselves

नई दिल्ली, 25 मार्च 2020 : भारतीय रेल खान-पान एवं पर्यटन निगम– Indian Railway Catering & Tourism Corporation Ltd.  Largest e commerce portal of Asia Pacific, (आईआरसीटीसी) ने कहा है कि देश भर में लॉकडाउन के कारण रेलवे द्वारा ट्रेन रद्द करने की सूरत में वे अपने ई-रेल टिकट को खुद रद्द न करें। कोरोना वायरस के प्रकोप की रोकथाम (Corona virus outbreak prevention) के मददेनजर देश में तीन सप्ताह के लिए लॉकडाउन (#CoronavirusLockdown, #21daylockdown) कर दिया गया है और इस दौरान सड़क एवं रेल यातायात बंद कर दिया गया है।

आईआरसीटीसी ने कहा कि रेलवे द्वारा परिचालित पैसेंजर ट्रेनों की सेवा बंद करने के बाद ई-टिकट खरीदने वाले यात्रियों को टिकट का रिफंड स्वत: मिल जाएगा इसके लिए उनको ई-टिकट रद्द करने की आवश्यकता नहीं है।

उन्होंने कहा कि अगर यात्री ई-टिकट रद्द (E-ticket canceled) करते हैं तो संभव है कि रिफंड कम मिलेगा। इसलिए यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे ट्रेन रद्द होने की सूरत में वे अपने ई-टिकट खुद रद्द न करें।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner