कोरोना लॉकडाउन के बाद और बड़ी चुनौती बनकर उभरेगा : राहुल गांधी

Corona will emerge as a bigger challenge after lockdown: Rahul Gandhi

नई दिल्ली, 16 अप्रैल 2020. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) ने कहा है कि लॉकडाउन से कोरोना का फैलाव तो रोका जा सकता है लेकिन कोरोना को हराने के लिए चिकित्सा सुविधा बढ़ाने और टेस्टिंग की व्यापक व्यवस्था करने की आवश्यकता है।

.Government has to prepare to deal with this epidemic during lock down

आज गुरुवार को यहां विशेष संवाददाता सम्मेलन में श्री गांधी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान सरकार को इस महामारी से निपटने की तैयारी करनी हैलॉकडाउन कोरोना वायरस को फैलने से रोकेगा (Lockdown will prevent corona virus from spreading) लेकिन कोरोना को हराने के लिए टेस्टिंग सबसे बड़ा हथियार है और इसको व्यापक रूप से बढ़ाने तथा इस दिशा में रणनीतिक तरीके से काम करने की ज़रूरत है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि (Lockdown period) में इस रोग को रोकने के ठोस और पर्याप्त प्रयास नहीं किए गए तो इसे हटाने के बाद फिर लोगों को घरों में रहने को मजबूर करना पड़ेगा। इसी तरह से कोरोना के आर्थिक नुकसान (Corona’s economic losses) को रोकने के लिए भी रणनीतिक तैयारी की ज़रूरत है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि उनकी बात को आलोचना नहीं बल्कि रचनात्मक तरीके से लिया जाना चाहिए और सबको मिलकर कोरोना को हराने के लिए काम करना है।

श्री गांधी ने कहा कि टेस्टिंग पर्याप्त नहीं होगी तो कोरोना की चुनौती से निपटना कठिन हो जाएगा। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग नहीं होगी तो कोरोना आगे भागेगा और उसे रोकने के सरकार के प्रयास पर्याप्त नहीं हो सकेंगे।

उन्होंने कहा कि सरकार को पूर्णबंदी के संकट से बचने के लिए लोगों को भोजन, राशन देना होगा और गरीबों के खाते में सीधे पैसे पहुंचाने होंगे। देश में खाद्यान्न की कमी नहीं है (There is no shortage of food grains in the country) इसलिए गरीबों को पर्याप्त राशन मिलना चाहिए (Poor should get adequate ration) और इसके लिए गोदामों को खोल देना चाहिए।

गांधी ने कहा कि कोरोना किसी जाति या धर्म को देखकर नहीं आता है। कोरोना एक महामारी है (Corona is an epidemic) और इसके खिलाफ सबको मिलकर लड़ना है।

उन्होंने कहा कि पूरा देश कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुट होकर लड़ेगा तो इस महामारी को आसानी से हराया जा सकेगा।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना को हराना सबकी जिम्मेदारी है और सबको मिलकर यह काम करना है। इस लड़ाई में अगर देश बंट गया तो लक्ष्य हासिल करना कठिन हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना से मुक्ति (Freedom from corona) हमारी प्राथमिकता है इसको हराने का श्रेय किसको मिले इससे उनको कोई मतलब नहीं है।

Special Congress Party Briefing by Rahul Gandhi via video conferencing
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations