Home » Latest » कोरोना का रोना : कांग्रेस ने पीएम से कहा “न्याय” लागू करो
congress

कोरोना का रोना : कांग्रेस ने पीएम से कहा “न्याय” लागू करो

Corona’s cry: Congress asked PM to implement “NYAY”

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी से अपनी न्यूनतम आय गारंटी योजना (Minimum income guarantee scheme, nyay) ‘न्याय’ को लागू करने की मांग की है, जिसका पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान अपने चुनाव घोषणापत्र में वादा किया था।

कांग्रेस ने आज कहा कि देश में कोरोना वायरस के संकट के कारण किसानों, मजदूरों और गरीबों के सामने पैदा हुई मुश्किल को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘न्यूनतम आय गारंटी योजना’ (न्याय) लागू करना चाहिए।

कांग्रेस ने अपनी घोषणापत्र में कहा था कि देश में 20 प्रतिशत गरीब परिवारों को न्यूनतम आय योजना (न्याय) के हिस्से के रूप में 72,000 रुपये सालाना मिलेंगे।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया,

“आदरणीय प्रधानमंत्री.. राहुलजी और कांग्रेस द्वारा प्रस्तुत न्यूनतम आय गारंटी योजना (न्याय) को लागू करना समय की जरूरत है।”

श्री सुरजेवाला ने कहा,

“21 दिनों के पोषण की जरूरतों को पूरा करने और मुफ्त पीडीएस राशन देने के लिए हर जन धन खाते, पीएम किसान खाते और हर पेंशन खाते में कृपया 7,500 रुपये ट्रांसफर करें।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार आधी रात से 21 दिनों के लिए देशव्यापी तालाबंदी की घोषणा की थी।

सुरजेवाला ने सवालिया लहजे में कहा कि छोटे व्यवसाय में लगे कामगार, दिहाड़ी मजदूर 21 दिनों तक कैसे रहेंगे?

स्वास्थ्यकर्मियों को दी जाने वाली सुविधाओं पर भी कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं।

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …