कोरोना : शौचालय की सीट से अधिक गंदे हो सकते हैं आपके मोबाइल फोन, उनको भी करें सैनिटाइज

Coronavirus Outbreak : Disinfect Your Smartphone

नई दिल्ली 15 मार्च 2020. दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा (Risk of corona virus infection) बढ़ता जा रहा है और ऐसे में हमारे हाथों में रहने वाले स्मार्ट फोन संक्रमण का एक बड़ा कारण बन सकते हैं।

भारतीय चिकित्सा अनुसन्धान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने एक चैनल पर बताया कि हम अपने हाथों को बार-बार धोते हैं लेकिन हमारे हाथों में स्मार्ट फोन इस संक्रमण का बड़ा खतरा बन सकते हैं। ये फोन शौचालय की सीट से अधिक गंदे हो सकते हैं लिहाजा उन्हें सैनिटाइज करने की जरूरत है।

उन्होंने बताया कि जिस व्यक्ति को कोरोना संक्रमण हुआ है, वह बात करने के लिए मोबाइल का इस्तेमाल करे और अगर खांसते या छींकते समय तरल पदार्थ मोबाइल की बाहरी सतह पर गिर जाये तो यह उसके परिजनों को संक्रमित कर सकता है।

Pour few drops of sanitizer on a tiny clean cotton pad and rub it safely on your entire phone.

उन्होंने बताया कि ऐसे मरीजों को मोबाइल का प्रयोग कम करना चाहिए क्योंकि कोरोना एक ड्रॉपलेट इन्फेक्शन है।

उन्होंने कहा कि सावधानी बहुत जरूरी है और कपड़े पर सैनिटाइजर लगाकर मोबाइल फ़ोन को साफ़ कर देना चाहिए।

 

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations