रेलें रोकने से पहले गाजीपुर व चंदौली में माले नेता गिरफ्तार, पार्टी ने गिरफ्तारी की निंदा की

रेलें रोकने से पहले गाजीपुर व चंदौली में माले नेता गिरफ्तार, पार्टी ने गिरफ्तारी की निंदा की

किसान आंदोलन के समर्थन में कई जिलों में माले ने प्रदर्शन किया

CPI (ML) protests in several districts in support of farmer movement

लखनऊ, 18 फरवरी। भाकपा (माले) की राज्य इकाई ने किसान संगठनों के आह्वान पर गुरुवार को देशव्यापी रेल रोको आंदोलन की तैयारी कर रहे माले नेताओं की गाजीपुर और चंदौली में गिरफ्तारी की कड़ी निंदा की है।

राज्य सचिव सुधाकर यादव ने बताया कि गाजीपुर के माले जिला सचिव रामप्यारे को जखनियां क्षेत्र में भुड़कुड़ा थाने की पुलिस ने सुबह ही गिरफ्तार कर लिया, क्योंकि वे रेल चक्का जाम आंदोलन का नेतृत्व करने वाले थे। इसके पहले, चंदौली जिले में चकिया पुलिस ने पार्टी के जिला सचिव अनिल पासवान को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया और थाने लाकर हिरासत में बैठा दिया। राज्य सचिव ने इन गिरफ्तारियों को लोकतंत्र-विरोधी बताते हुए उनकी बिना शर्त रिहाई की मांग की।

राज्य सचिव ने बताया कि इसके अलावा आजमगढ़, मऊ समेत कई जिलों में माले कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन और मार्च निकालकर तीन काले कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की और इस संबंध में अधिकारियों को ज्ञापन सौंपे।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.