मास्क वितरण के बाद अब सफाई अभियान में उतरी माकपा

CPI(M) now enters cleanliness campaign after mask delivery

कोरबा (छत्तीसगढ़), 07 अप्रैल 2020। कोरोना संकट के मद्देनजर कोरबा में माकपा कार्यकर्ताओं द्वारा  नियमित रूप से राहत अभियान संचालित किया जा रहा है और इसे आम जनता और प्रशासन का व्यापक रूप से सहयोग-समर्थन भी मिल रहा है।

एम्स के अनुसार, आज जब कोरोना महामारी सामुदायिक संक्रमण के चरण में पहुंच गई है, स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए मास्क आम जनता की सबसे बड़ी जरूरत बन गई है। जनवादी महिला समिति ने इस जरूरत को पूरा करने का बीड़ा उठाया और उनके द्वारा बनाये गए वॉशेबल मास्कों को 2000 से ज्यादा घरों में वितरित किया गया है। मास्क बनाने और वितरण का काम अभी भी चल रहा है। कोरबा नगर निगम क्षेत्र में सबसे ज्यादा मास्क वितरण का काम भैरोताल और मोंगरा वार्ड में ही हुआ है, जहां से माकपा की दो महिला पार्षद सुरती कुलदीप और राजकुमारी कंवर निर्वाचित हुई हैं।

मास्क वितरण के बाद अब वे अपने वार्डों में सफाई अभियान के काम का नेतृत्व कर रही हैं, ताकि उनके क्षेत्र में संक्रमण के प्रभाव को कमतर किया जा सके। उनके निर्देशन में निगम के सफाई कर्मी नालियों को साफ कर रहे हैं और मैनाथिन नामक दवाई का छिड़काव कर रहे हैं। गलियों में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है और कचरे के ढेरों को ठिकाने लगाया जा रहा है। दोनों माकपा पार्षदों ने संबंधित अधिकारियों को उनके वार्डों में नियमित रूप से सफाई करने का निर्देश दिया है। दिलहरण बिंझवार, जवाहर कंवर, हुसैन अली, अभिजीत गुप्ता, नरेंद्र साहू, जनकदास कुलदीप और छोटू के नेतृत्व में अन्य माकपा, जनवादी नौजवान सभा तथा छत्तीसगढ़ किसान सभा के कार्यकर्ता भी प्रत्यक्ष रूप से इन सफाई कर्मियों के काम में हाथ बंटा रहे हैं।

इन दोनों वार्डों में लगभग 100 घर ऐसे हैं, जहां लॉक डाऊन के कारण होने वाली आजीविका के नुकसान के चलते दैनंदिन की जरूरतों और खाने-पीने की सामग्री का अभाव है।

माकपा जिला सचिव प्रशांत झा की देखरेख में निगम प्रशासन की मदद से इन परिवारों की दैनिक जरूरतों को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है और उन्हें नियमित रूप से खाद्यान्न सामग्री पहुंचाई जा रही है। ऐसे लोगों की मदद के लिए खाद्यान्न संग्रहण अभियान भी चलाया जा रहा है, ताकि सरकारी सहायता से वंचित जरूरतमंद अन्य गरीबों तक भी मदद पहुंचाई जा सके।

माकपा का राहत अभियान CPI(M) Relief Campaign केवल उन वार्डों तक ही सीमित नहीं है, जहां से माकपा पार्षद निर्वाचित हुए हैं; बल्कि वे अन्य वार्डों के लोगों को भी मदद पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं, जिसे आम जनता की काफी सराहना मिल रही है। वे दूसरे राज्यों और हमारे प्रदेश के दूसरे जिलों के फंसे लोगों के रहवास और भोजन प्रबंधन के काम में भी लगे हुए हैं।

कोरोना से बचाव के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग व अन्य सुरक्षा उपायों को अपनाने के लिए माकपा आम जनता के बीच जागरूकता अभियान भी चला रही है और आगाह कर रही है कि इस महामारी का मुकाबला केवल चिकित्सा विज्ञान और जन स्वास्थ्य को बेहतर बनाकर ही किया जा सकता है, न कि अंधविश्वास, झाड़-फूंक या देवी-देवताओं को प्रसन्न करके। अपने प्रचार अभियान में वे इस बात पर जोर दे रहे हैं कि इस महामारी के निशाने पर सभी वर्गों और तबकों के लोग हैं और इसलिए वैज्ञानिक जागरूकता के साथ सबको मिल-जुलकर ही इस संकट से निपटना होगा।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations