भाकपा (माले) ने लविवि प्रोफेसर रविकांत पर ताजा हमले की कड़ी निंदा की

भाकपा (माले) ने लविवि प्रोफेसर रविकांत पर ताजा हमले की कड़ी निंदा की

कहा, प्रशासन द्वारा पहले मामले में हमलावरों पर कार्रवाई न करने से मनोबल बढ़ा

CPI(ML) strongly condemns the latest attack on Lucknow University Professor Ravi Kant

लखनऊ, 18 मई। भाकपा (माले) की राज्य इकाई ने लखनऊ विवि के दलित प्रोफेसर रविकांत पर ताजा हमले की कड़ी निंदा की है और हमलावर की गिरफ्तारी की मांग की है।

पार्टी की राज्य स्थायी समिति (स्टैंडिंग कमेटी) की राजधानी में हो रही एक दिवसीय बैठक में प्रोफेसर पर बुधवार को हुए हमले (थप्पड़ मारने की घटना) के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया गया।

बैठक में कहा गया कि कुछ दिनों पूर्व भगवा संगठन द्वारा परिसर में उनपर हुए हमले की कोशिश मामले में हमलावरों के विरुद्ध कार्रवाई की गई होती, तो दोबारा यह घटना न होती। प्रशासन ने एकपक्षीय कार्रवाई की थी और हमले के शिकार प्रोफेसर की रिपोर्ट तक थाने में दर्ज नहीं की गई थी, जिससे हमलावरों का मनोबल बढ़ा। विवि प्रशासन की चुप्पी भी बहुत कुछ कहती है। पूरे मामले पर गौर करने से लगता है कि भाजपा सरकार का हमलावरों को संरक्षण प्राप्त है अन्यथा वे दोबारा हिम्मत नहीं करते।

पार्टी ने हमले की ताजा घटना में हमलावर को गिरफ्तार करने, पहले वाली घटना में प्रोफेसर की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करने, उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर वापस लेने, उन्हें व उनके परिवार को सुरक्षा देने और परिसर में लोकतांत्रिक माहौल बनाने की मांग की है। पार्टी ने शांतिप्रिय, प्रगतिशील व लोकतांत्रिक समुदाय से भगवा गुंडागर्दी के खिलाफ आगे आने की अपील की।

बैठक की अध्यक्षता राज्य सचिव सुधाकर यादव कर रहे हैं।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.