CUET Registration 2022: केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए अब 6 अप्रैल से होगा रजिस्ट्रेशन, इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

CUET Registration 2022: केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए अब 6 अप्रैल से होगा रजिस्ट्रेशन, इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए अब 6 अप्रैल से होगा सीयूईटी का रजिस्ट्रेशन (CUET will now be registered for admission in central universities from April 6)

क्या सीयूईटी भारत में शिक्षा को बदल देगा? सीयूईटी छात्रों के जीवन को कैसे आसान या कठिन बना सकता है?

नई दिल्ली, 4 अप्रैल 2022| केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (Central University Entrance Test for Admission in Central Universities सीयूईटी) की प्रक्रिया अब आगामी 6 अप्रैल से शुरू होगी। पहले यह प्रक्रिया बीती 2 अप्रैल से शुरू की जानी थी। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) के मुताबिक, सीयूईटी के लिए आवेदन 6 अप्रैल से शुरू होकर 6 मई तक जारी रहेंगे। पहले आवेदन की आखिरी तारीख 30 अप्रैल निश्चित की गई थी, हालांकि अब इसमें भी विस्तार किया गया है।

कॉमन एंट्रेंस टेस्ट के जरिए ही अब सेंट्रल यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों में प्रवेश मिल सकेगा।

कॉमन एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से ही अब केंद्रीय विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेजों एवं विभागों के अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिला मिल सकेगा। दाखिला लेने इच्छुक छात्र ऑनलाइन यह फॉर्म भर सकते हैं। फॉर्म भरते समय छात्रों को कुछ खास नियमों का ध्यान रखना होगा।

सीयूईटी परीक्षा के लिए आवेदन की आयु सीमा क्या है? | What is the age limit to apply for CUET exam?

सीयूईटी परीक्षा के लिए आवेदन की कोई आयु सीमा नहीं रखी गई है। हालांकि, इसके लिए शैक्षणिक योग्यता निर्धारित की गई है। सीयूईटी के लिए पंजीकरण करने के इच्छुक उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना चाहिए। यहां भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने कुछ छात्रों को छूट प्रदान की है। इस छूट के तहत वह छात्र भी सीयूईटी के लिए आवेदन कर सकते हैं, जिन्हें इस वर्ष 12वीं की परीक्षा देनी है। हालांकि जो छात्र 12वीं की परीक्षा दे चुके हैं, उन्हें 12वीं की मार्कशीट संलग्न करनी होगी। वहीं सभी फॉर्म भरने वाले सभी छात्रों को अपनी पासपोर्ट साइज फोटो एक आईडी प्रूफ और स्केन किए हुए हस्ताक्षर, फॉर्म के साथ अपलोड करने होंगे।

कब होगी सीयूईटी परीक्षा? | When will be the CUET exam?

यूजीसी के अनुसार अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए यह परीक्षा जुलाई 2022 के पहले सप्ताह में आयोजित की जाएगी।

इन परीक्षाओं के लिए एग्जाम का पैटर्न इस प्रकार का रखा गया है, जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न एमसीक्यू होंगे। यह परीक्षा दो शिफ्ट में आयोजित की जाएगी।

सीयूईटी परीक्षा के फॉर्म कहां मिलेंगे? (Where to get CUET exam form?)

6 अप्रैल से विभिन्न केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट का फॉर्म उपलब्ध होगा। केंद्रीय विश्वविद्यालयों में पूर्वस्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश प्रक्रिया (Admission Procedure for Undergraduate Courses in Central Universities) भी बदल गई है।

केंद्रीय विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए अब 12वीं के अंक कोई विशेष महत्व नहीं रखेंगे। अब तक 12वीं की मेरिट के आधार पर कॉलेजों में दाखिले होते रहे हैं, लेकिन अब छात्र एंट्रेंस टेस्ट की प्रक्रिया से गुजरेंगे, जिसके लिए यह फॉर्म भरना अनिवार्य होगा।

कॉमन एंट्रेंस टेस्ट का लाभ क्या है? (What is the advantage of Common Entrance Test?)

यूजीसी के मुताबिक, कॉमन एंट्रेंस टेस्ट का सबसे बड़ा लाभ यह है कि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट में प्रदर्शन के आधार पर केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा। ये परीक्षाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित की जाएंगी और 13 भाषाओं- हिंदी, गुजराती, मराठी, तमिल, तेलुगू, मलयालम, कन्नड़, बांग्ला, उड़िया, असमिया, पंजाबी, उर्दू और अंग्रेजी में होंगी। इससे सभी क्षेत्र और वर्गों के छात्रों को समान अवसर उपलब्ध हो सकेंगे।

सीयूईटी फॉर्म भरने के कायदे और नियम

केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी)  माध्यम से ही अब केंद्रीय विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेजों एवं विभागों के अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिला मिल सकेगा। दाखिला लेने इच्छुक छात्र ऑनलाइन यह फॉर्म भर सकते हैं।

सीयूईटी फॉर्म भरते समय किन नियमों का ध्यान रखना होगा?

सीयूईटी परीक्षा के लिए आवेदन की कोई आयु-सीमा तो नहीं रखी गई है, हालांकि इसके लिए शैक्षणिक योग्यता निर्धारित की गई है।

सीयूईटी के लिए पंजीकरण करने के इच्छुक उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना चाहिए। यहां भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने कुछ छात्रों को छूट प्रदान की है। इस छूट के तहत वह छात्र भी सीयूईटी के लिए आवेदन कर सकते हैं, जिन्हें इस वर्ष 12वीं की परीक्षा देनी है। हालांकि जो छात्र 12वीं की परीक्षा दे चुके हैं, उन्हें 12वीं की अंकतालिका (12th mark sheet) संलग्न करनी होगी। वहीं सभी फॉर्म भरने वाले सभी छात्रों को अपनी पासपोर्ट साइज फोटो एक आईडी प्रूफ और स्कैन किए हुए हस्ताक्षर, फॉर्म के साथ अपलोड करने होंगे।

यूजीसी के अनुसार, कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए सीयूईटी का फॉर्म 30 अप्रैल तक भरा जा सकेगा। जुलाई 2022 के पहले सप्ताह में प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी।

इन परीक्षाओं के लिए एग्जाम का पैटर्न इस प्रकार का रखा गया है, जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न एमसीक्यू होंगे। यह परीक्षा दो शिफ्ट में आयोजित की जाएगी।

यूजीसी के मुताबिक, कॉमन एंट्रेंस टेस्ट का सबसे बड़ा लाभ यह है कि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट में प्रदर्शन के आधार पर केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा। यह परीक्षाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित की जाएगी और परीक्षाएं 13 भाषाओं हिंदी, गुजराती, मराठी, तमिल, तेलुगू, मलयालम, कन्नड़, बांग्ला, उड़िया, असमिया, पंजाबी, उर्दू और अंग्रेजी में होंगी। इससे सभी क्षेत्र और वर्गो के छात्रों को समान अवसर उपलब्ध हो सकेंगे।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner