Home » Latest » साइबर क्राइम्स से कैसे करें खुद का बचाव?
Cyber security tutorial

साइबर क्राइम्स से कैसे करें खुद का बचाव?

साइबर का अर्थ कंप्यूटर होता है और यही कारण है कि साइबर क्राइम को कंप्यूटर क्राइम के नाम से भी जाना जाता है | Cyber means computer and this is why cybercrime is also known as computer crime.

Cyber security in hindi notes | Cyber security tutorial in hindi | Cyber security in hindi – youtube | Cyber Security Important Points (Hindi).

किसी प्रयोक्ता (user) के कंप्यूटर से इन्टरनेट की मदद से उनके व्यक्तिगत डाटा की चोरी (Theft of personal data) से लेकर बौद्धिक संपदा के कॉपीराइट का गैरकानूनी उपयोग (Unlawful use of copyright of intellectual property), चाइल्ड पोर्नोग्राफी (Child pornography), बुल्ल्यिंग (डराना और ब्लैकमेलिंग), वित्तीय धोखाधड़ी से लेकर कई अन्य अपराध भी साइबर क्राइम (cybercrime) के अंतर्गत आते हैं। इसके अतिरिक्त स्पैम मेल के द्वारा अपने वस्तु और सेवा का प्रमोशन करना, फिशिंग के माध्यम से किसी प्रयोक्ता (user) के प्राइवेट डाटा में सेंध लगा कर बैंकों से धन की निकासी करना, ड्रग ट्रैफिकिंग करने के अतिरिक्त कई अन्य गैरकानूनी कार्य भी साइबर अपराध की केटेगरी में सम्मिलित की जाती हैं।

साइबर क्राइम से बचने के लिए सावधानियां | Precautions to avoid cybercrime

आज हम तकनीकी उन्नति (Technological advancement) के उस चरण पर पहुँच चुके हैं जहाँ पर हम इन्टरनेट और कंप्यूटर के बिना अपना काम बिलकुल नहीं चला सकते हैं। लिहाजा यह अनिवार्य है कि जब हम कंप्यूटर और इन्टरनेट का प्रयोग कर रहे हों तो हमें कुछ ऐसी सावधानियों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए जिससे हम साइबर क्राइम की घटनाओं से खुद की रक्षा कर पायें।

अपने कंप्यूटर के लिए एक मजबूत पासवर्ड सबसे अनिवार्य | A strong password for your computer is the most essential

वैसे तो यह सामान्य – सी बात है कि जब आप अपने कंप्यूटर पर इन्टरनेट चला रहे हों तो आप अपने पीसी को एक मजबूत पासवर्ड से सुरक्षित कर लें। जब कंप्यूटर पासवर्ड से सुरक्षित हो जाता है तो इसका इस्तेमाल कोई अन्य व्यक्ति गलत कार्य के लिए नहीं कर सकता है और न ही कोई अन्य व्यक्ति आपके कंप्यूटर से कोई निजी जानकारी चुरा सकता है।

इस बात का ध्यान रखें कि जब भी आप अपने कंप्यूटर को किसी पासवर्ड से सिक्योर करें तो पासवर्ड हमेशा ही मजबूत होना चाहिए। पासवर्ड का क्रिएशन अक्षर, चिन्ह और अंक का मेल (Combining letters, symbols and numbers) हो तो यह बहुत प्रभावशाली माना जाता है।

इसके साथ-साथ आप पासवर्ड के लिए लोअर केस लेटर्स और अपर केस लेटर्स का भी प्रयोग कर सकते हैं।

यदि आप एक से अधिक एकाउंट्स का इस्तेमाल कर रहे होते हैं तो आपको उन सब एकाउंट्स के लिए एक कॉमन पासवर्ड का इस्तेमाल कभी नहीं करना चाहिए, क्योंकि ऐसी स्थिति में साइबर क्राइम का खतरा बढ़ जाता है।

आप अपने मोबाइल नंबर, वाहन नंबर, हाउस नंबर, जन्मतिथि जैसे अंकों का भी प्रयोग अपने पासवर्ड के लिए नहीं करें क्योंकि इस प्रकार के पासवर्ड का अनुमान करना कठिन कार्य नहीं होता है।

सोशल मीडिया के प्रयोग के बारे में आपकी सतर्कता जरूरी | Your alertness about the use of social media is necessary

सोशल मीडिया के रूप में फेसबुक, ट्विटर, ब्लॉग इत्यादि का प्रयोग करते समय हमें सावधान रहने की जरूरत है। सोशल मीडिया की इन साइट्स पर कुछ भी अपलोड करने पर वे सभी दुनिया भर के यूजर्स के लिए हमेशा के लिए पोस्ट हो जाते हैं। इसीलिए हमेशा इस बात की सावधानी रखनी चाहिए कि हम ऐसा कुछ भी पोस्ट नहीं करें जो हमारे लिए बेहद निजी और संवेदनशील जानकारी (Sensitive information) वाला हो और जिनके लीक हो जाने पर हमें किसी खतरे का सामना करना पड़े।

संवेदनशील और व्यक्तिगत जानकारी का संरक्षण आवश्यक है | Protection of sensitive and personal information is necessary 

कई बार हमें ऑनलाइन शॉपिंग (shopping online) के अतिरिक्त इन्टरनेट बैंकिंग के इस्तेमाल के लिए कई व्यक्तिगत जानकारियां (Many personal information for the use of internet banking) शेयर करनी होती हैं, खासकर प्रयोक्ता (user) के एड्रेस, ईमेल और मोबाइल नंबर, बैंक्स अकाउंट नंबर इत्यादि की प्राइवेसी के बारे में ध्यान रखने की जरूरत है।

यदि आपके ईमेल इनबॉक्स में ऐसे मेल्स आते हैं जिसकी स्पेलिंग और ग्रामर शुद्ध नहीं है तो यह मान लेना चाहिए कि ऐसे ईमेल फेक हैं और इसीलिए इन सभी मेल्स को एंटरटेन नहीं करना चाहिए। बेहतर हो कि इस प्रकार के मेल्स को कभी भी खोलें ही नहीं।

ईमेल आईडी को भी हैक होने से बचाएं | Prevent email id from being hacked

फ़ास्ट तकनीक और इन्टरनेट के तेजी से बढ़ते प्रयोग के वर्तमान युग में ईमेल आइडी का प्रचलन अब एक सामान्य-सी बात हो गयी है। लेकिन प्रयोक्ता (user) के द्वारा अपने ईमेल आइडी को सिक्योर और सेफ रखने के बारे में लापरवाही बड़ी चिंता का विषय है, क्योंकि ईमेल आइडी केवल कम्युनिकेशन और कॉरेस्पोंडेंस के एक आधुनिक माध्यम के रूप में ही कार्य नहीं करता है बल्कि यह कई सेंसिटिव डाटा और प्राइवेट इनफार्मेशन को भी सुरक्षित रखता है। ऐसी स्थिति में ईमेल के हैक हो जाने पर प्रयोक्ता (user) के डाटा और इम्पोर्टेन्ट इनफार्मेशन की प्राइवेसी और सिक्यूरिटी खतरे में पड़ सकती है। इसीलिए अपने ईमेल आइडी को हैक होने से बचाने के लिए सबसे पहले एक मजबूत पासवर्ड की बड़ी आवश्यकता होती है।

आइये देखें कि अपने ईमेल आइडी को सुरक्षित खने के लिए और इसे किसी हैकर से बचाने के लिए क्या जरूरी कदम उठा सकते हैं- Let us see what important steps can be taken to keep your email id secure and safe and to protect it from a hacker –

रिकवरी डिटेल

जिस ईमेल आइडी का आप यूज कर रहे हैं उसे अपने मोबाइल नंबर और अन्य ईमेल आइडी के द्वारा सपोर्ट कर देने से ईमेल आइडी को रिकवर करने में काफी मदद मिलती है। सिक्यूरिटी के लिए कुछ ऐसे प्रश्न भी सेट करना चाहिए जिनके आंसर आसानी से कोई हैकर अनुमान नहीं लगा पाए।

 पाठकों सेअपील - “हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

रेगुलर यूज करते रहें अपने ईमेल आईडी को | Keep using your email ID regularly

कई बार ऐसा देखा गया है कि कोई प्रयोक्ता (user) अपने ईमेल आइडी को रेगुलरली यूज नहीं करते हैं। ऐसी स्थिति में ईमेल आइडी के हैक हो जाने पर प्रयोक्ता (user) को इसकी जानकारी नहीं मिल पाती है और यूजर की डाटा की प्राइवेसी और सिक्यूरिटी खतरे में पड़ जाती है। इसीलिए यह जरूरी है कि अपने ईमेल आइडी को नियमित रूप से लॉग – इन करते रहें।

पब्लिक वाई-फाई के प्रयोग से सावधान रहें | Beware of using public Wi-Fi

अपने ईमेल आइडी को लॉग – इन करने के लिए पब्लिक वाई-फाई का यूज करना भी खतरे से खाली नहीं है, क्योंकि ये फ्री या पब्लिक वाई-फाई ट्रिक्स से भरे होते हैं। पब्लिक वाई-फाई के यूज से कोई भी हैकर यूजर के ईमेल आइडी के कई इम्पोर्टेन्ट इनफार्मेशन में सेंध मार सकता है और उसे हैक कर सकता है। लिहाजा पब्लिक वाई-फाई को यूज करने से बचने की जरुरत है।

कई सुरक्षा लेयर का उपयोग करें | Use multiple security

मल्टीप्ल सिक्यूरिटी का अर्थ यह है कि अपने ईमेल आइडी को डबल ऑथेंटिकेशन से सिक्योर करें। प्राय: सभी ईमेल सर्विस प्रोवाइड करने वाली कंपनियां मल्टीप्ल सिक्यूरिटी का ऑप्शन उपलब्ध कराती हैं। इसके अंतर्गत सिक्यूरिटी सेटिंग्स में मोबाइल नंबर को रजिस्टर करना होता है जिसके परिणामस्वरूप प्रत्येक लॉग – इन पर यूजर के मोबाइल पर वेरिफिकेशन कोड भेजा जाता है जिसको फीड करने के बाद ही ईमेल आइडी लॉग – इन हो पाता है।

अपरिचित ईमेल और अटैचमेंट को ओपन नहीं करें | Do not open unfamiliar emails and attachments

प्राय: हर एक ईमेल आइडी यूजर के ईमेल इनबॉक्स में कई ईमेल्स आते हैं जिनके बारे में प्रयोक्ता (user) को कोई जानकारी नहीं होती है और जो प्रयोक्ता (user) से बिलकुल संबंधित नहीं होती हैं। इस प्रकार के ईमेल अटैचमेंट या इनबॉक्स को बिलकुल ओपन नहीं करें क्योंकि ऐसा करने पर आपके कंप्यूटर में कुछ मैलवेयर इंस्टाल हो सकते हैं जो हैकर को आपके ईमेल आइडी के बारे में सीक्रेट इनफार्मेशन भेज सकता है और आपका ईमेल आइडी हैक हो सकता है।

लॉगआउट करना न भूलें | Don’t forget to logout

जब भी आप अपने ईमेल आइडी को लॉग – इन करें तो इसे लॉग-आउट करना बहुत जरूरी है। ऐसा नहीं करने पर जब कोई दूसरा प्रयोक्ता (user) आपके कंप्यूटर को प्रयोग करेगा तो आपका ईमेल आइडी बिना पासवर्ड के खुल जायेगा और आपकी महत्वपूर्ण इनफार्मेशन हैक कर लिए जायेंगे। इसके अतिरिक्त ईमेल के लॉगआउट करने के बाद इसकी हिस्ट्री भी क्लियर कर दें।

पासवर्ड काफी मजबूत रखें | Keep password strong

सच पूछें तो अपने ईमेल आइडी को सिक्योर और सेफ रखने के लिए एक मजबूत पासवर्ड सबसे बड़ी और पहली शर्त है। मजबूत पासवर्ड बनाने के लिए आपको कई बातों को ध्यान में रखना चाहिए। सबसे पहली बात तो यह है कि यह कम से कम आठ डिजिट या लेटर्स से कम का नहीं होना चाहिए। अपने पासवर्ड में अल्फाबेट लेटर्स के साथ नुमेरल्स और सिम्बल्स का भी यूज करना चाहिए।

श्रीप्रकाश शर्मा

स्रोत – देशबन्धु

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

उनके राम और अपने राम : राम के सच्चे भक्त, संघ के राम, राम की सनातन मूरत, श्रीराम का भव्य मंदिर, श्रीराम का भव्य मंदिर, अयोध्या, राम-मंदिर के लिए भूमि-पूजन, राममंदिर आंदोलन, राम की अनंत महिमा,

मर्यादा पुरुषोत्तम राम को तीसरा वनवास

Third exile to Maryada Purushottam Ram राम मंदिर का भूमि पूजन या हिंदू राष्ट्र का …