ठंड बढ़ी तो दिल्ली की वायु गुणवत्ता फिर हुई ‘गंभीर’, एक्यूआई 400 के पार

Delhi’s air quality again ‘severe’ as cold rises, AQI crosses 400

नई दिल्ली, 12 दिसम्बर 2019. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की वायु गुणवत्ता (National Capital Delhi’s air quality) गुरुवार को ‘गंभीर’ स्तर पर पहुंच गई है। वहीं क्षेत्र की वायु गुणवत्ता सूचकांक– Air quality index (एक्यूआई) 407 दर्ज किया गया। केंद्रीय एजेंसी, सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग – System of Air Quality and Weather Forecasting (सफर) के अनुसार, दिल्ली का एक्यूआई (AQI of Delhi) सुबह 9 बजे 407 रिकॉर्ड किया गया, जिसे ‘गंभीर’ माना जाता है।

कितना होता है सुरक्षित एक्यूआई How much is safe AQI

सफर के अनुसार, 0-50 एक्यूआई को ‘सुरक्षित’ माना जाता है। 51-100 को ‘संतोषजनक’, 101-200 को ‘मध्यम’ और 201-300 को ‘खराब’, जबकि 301-400 को ‘बहुत खराब’ और 401-500 को ‘गंभीर’ श्रेणी में रखा जाता है।

सफर ने लोगों से घरों के बाहर कसरत व किसी भी तरह के शारीरिक व्यायाम करने से मना किया है।

सफर ने कहा,

“आज सुबह की सैर के लिए घर से न निकलें। कमरे में खिड़की है, तो उसे बंद कर दें। यदि एयर कंडीशनर आपको स्वच्छ वायु प्रदान करने का विकल्प देता है, तो उसे बंद कर दें। कमरे को साफ रखें, वैक्यूम न करें, बीच-बीच में गीले कपड़े से पोंछा लगाते रहें।”

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations