Home » Latest » ईद आई अजब एक उदासी लिये !
Eid Aayee Ajab .........

ईद आई अजब एक उदासी लिये !

मोहम्मद ख़ुर्शीद अकरम सोज़

 

—————-

ईद आई अजब एक उदासी लिये

कोई कैसे किसी को मुबारक कहे

————

ऐ ख़ुदा शुक्र है तेरी तौफ़ीक़ से

रोज़े रमज़ान के सारे पूरे हुए

ईद का चाँद भी आ गया है नज़र

इस पे कोविड का लेकिन पड़ा है असर

अब के आई है ईद ऐसे माहौल में

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya

ख़ौफ़ छाया कोरोना का है हर तरफ़

लाखों इंसान हैं बे-बसी में पड़े

अल-मदद ऐ ख़ुदा की सदा हर तरफ़

नाम :- मोहम्मद खुर्शीद अकरम तख़ल्लुस : सोज़ / सोज़ मुशीरी वल्दियत :- मौलाना अब्दुस्समद ( मरहूम ) जन्म तिथि :- 01/03/1965 जन्म स्थान : - बिहार शरीफ़, ज़िला :- नालंदा (बिहार) शिक्षा :- 1) बी.ए.             2) डिप. इन माइनिंग इंजीनियरिंग     उस्ताद-ए-सुख़न :-( स्व) हज़रत मुशीर झिन्झानवी देहलवी काव्य संकलन : - सोज़-ए-दिल सम्मान :- 1. आदर्श कवि सम्मान, और साहित्य श्री सम्मान संप्रति :- कोल इंडिया की वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में कार्यरत संपर्क :- बी-22, कैलाश नगर, पोस्ट :- साखरा(कोलगाँव), तहसील :- वणी ज़िला :- यवतमाल , पिन:- 445307 (महाराष्ट्र)
Mohammad Khursheed Akram Soz

हर तरफ़ दुख के बादल हैं छाये हुए

जिस तरफ़ भी किसी की नज़र जाती है

न उमंग है कोई, न कोई जोश है

हर एक रूह प्यासी नज़र आती है

————-

ईद आई अजब एक उदासी लिये !!!

कोई कैसे किसी को मुबारक कहे

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Com. Badal Saroj Chhattisgarh Kisan Sabha

मुफ्त अनाज का उठाव नहीं, जरूरतमंदों को खाद्यान्न सुरक्षा से वंचित कर रही है सरकार : किसान सभा

No lifting of free grain, the government is denying food security to the needy: Kisan …