Home » Latest » अगस्त क्रांति पर लखनऊ में होगा रोजगार आंदोलन का आगाज-युवा मंच

अगस्त क्रांति पर लखनऊ में होगा रोजगार आंदोलन का आगाज-युवा मंच

Employment movement will start in Lucknow on August Revolution – Youth Forum

लखनऊ, 7, अगस्त 2021, प्रदेश में 5 लाख रिक्त पदों को भरने, हर युवा को गरिमापूर्ण रोजगार की गारंटी और रोजगार न मिलने तक बेरोजगारी भत्ता देने के मुद्दे पर अगस्त क्रांति के मौके पर लखनऊ में रोजगार आंदोलन का आगाज होगा।

इसकी जानकारी देते हुए युवा मंच संयोजक राजेश सचान ने बताया कि ईको गार्डेन में 9 अगस्त से शुरू हो रहे बेमियादी धरना प्रदर्शन में प्रदेश भर से छात्र-युवा शामिल होंगे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेकारी की भयावह स्थिति है लेकिन योगी सरकार फर्जी व झूठे आंकड़ों के प्रोपेगैंडा में सरकारी मशीनरी व संसाधनों का दुरुपयोग करने में लगी है। एमएसएमई सेक्टर में 2 करोड़ रोजगार सृजन से लेकर 4.5 लाख सरकारी नौकरी, आउटसोर्सिंग कंपनियों में 2.73 लाख नौकरी का दावा देने का प्रोपेगैंडा पूरी तरह से भ्रामक और झूठ पर आधारित है। प्रदेश के बिजली, शिक्षा, सिंचाई, जल निगम जैसे महत्वपूर्ण विभागों एवं तकनीकी शिक्षण संस्थानों में 30-70 फीसद तक पद रिक्त पड़े हुए हैं। कोरोना काल में 181 वूमेन हेल्पलाइन व महिला सामाख्या जैसे तमाम उपक्रमों को बंद कर महिलाओं व अन्य लोगों का रोजगार छीना गया। बीपीएड के 32 हजार शिक्षक पदों व बिजली विभाग के तकनीशियन के विज्ञापन को भी रद्द कर दिया गया। हालत यह है कि 5-10 साल पुरानी भर्तियां भी अभी तक अधर में हैं। प्रदेश में ऐसी कोई भर्ती नहीं है जिसमें पेपर लीक व धांधली के गंभीर आरोप न लगे हों। दरअसल रोजगार मिशन नंबर वन का प्रचार ठीक उसी तरह है जिस तरह की शिगूफेबाजी कोरोना की दूसरी लहर में स्वास्थ्य सेवाओं की तैयारी को लेकर योगी सरकार द्वारा की गई।

उन्होंने युवाओं व छात्रों से रोजगार आंदोलन में शामिल होने की अपील की।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

political prisoner

“जय भीम” : जनसंघर्षों से ध्यान भटकाने का एक प्रयास

“जय भीम” फ़िल्म देख कर कम्युनिस्ट लोट-पोट क्यों हो रहे हैं? “जय भीम” फ़िल्म आजकल …

Leave a Reply