किसानों के “मन की बात” भी तो सुनिये, सरकार !

#किसान_अब_दिल्ली_फतह_करेगा यूं ही हमेशा उलझती रही है, ज़ुल्म से खल्क, न उनकी रस्म नयी है, न अपनी रीत नयी, यूं ही हमेशा, खिलाये हैं हमने … किसानों के “मन की बात” भी तो सुनिये, सरकार ! को पढ़ना जारी रखें