Home » Latest » अमेरिका में पुलिस द्वारा एक किशोर की हत्या के बाद ताज़ा विरोध प्रदर्शन
End Police Brutality

अमेरिका में पुलिस द्वारा एक किशोर की हत्या के बाद ताज़ा विरोध प्रदर्शन

वाशिंगटन डीसी के एक दक्षिण-पूर्वी इलाक़े में पुलिस द्वारा पीछा करने के दौरान एक किशोर को गोली मार दी गई।

Fresh protests in America after police kill a teenager

A teenager was shot during a police chase in a southeastern area of Washington DC.

पुलिस की गोलीबारी की एक अन्य घटना के बाद अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डीसी में एक पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया। रिपोर्ट्स के अनुसार डीसी के दक्षिण-पूर्व के एक इलाके में अधिकारियों ने बुधवार 2 सितंबर को एक किशोर की गोली मारकर हत्या कर दी। मेट्रोपॉलिटन पुलिस डिपार्टमेंट (एमपीडी) के प्रमुख पीटर न्यूशैम ने इस गोलीबारी की पुष्टि की और कहा कि पीड़ित किशोर था।

पुलिस के अनुसार गोलीबारी में शामिल अधिकारी उस क्षेत्र में थे जब किसी ने उन्हें एक कार के अंदर बंदूकों के होने के बारे में बताया। आधिकारिक में कहा गया कि जब अधिकारी उक्त वाहन के पास पहुंचे तो अंदर में मौजूद लोग भाग खड़े हुए। इस बयान के अनुसार पुलिस ने पीछा करने के दौरान उन पर गोली चलाई जो पीड़ित को लगी । न्यूशैम ने यह भी कहा कि अधिकारियों को संदेह था कि जिन लोगों का पीछा किया जा रहा था उनके पास हथियार थे।

यह पुष्टि नहीं की गई है कि पीड़ित के पास कोई बंदूक थी या वह पीछा करने वालों में से था।

एक स्थानीय नगर परिषद सदस्य ट्रायोन व्हाइट जो गोलीबारी की घटना के दौरान मौजूद थे उन्होंने पुलिस की इस बात पर सवाल खड़ा किया है। “उन्होंने कहा कि दो हथियार बरामद किए गए थे, लेकिन जब सवाल पूछा गया कि ‘क्या उसके पास हथियार था?’ तो कोई सीधा जवाब नहीं था इसलिए हम इस युवा के साथ जो हुआ उस सच्चाई को हासिल करना चाहते हैं।”

पीड़ित के नाम और उम्र का अभी खुलासा नहीं किया गया है लेकिन व्हाइट के अनुसार, पीड़ित की मां ने उन्हें बताया कि वह “बच्चा” था।

न्यूशैम की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी एक महिला प्रदर्शनकारी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि पीड़ित 17 साल का था। गोलीबारी के तुरंत बाद बनाए गए घटनाक्रम के दृश्य के एक वीडियो में पड़ोस के लोगों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि “पुलिस ने एक बच्चे को गोली मार दी।” ये बात गन्स डाउन फ्राइडे द्वारा WUSA9 को दिए गए वीडियो में सामने आई है।

गोलीबारी की निंदा करने के कुछ ही घंटों के भीतर प्रदर्शनकारी एमपीडी के 7 वें ज़िला पुलिस स्टेशन के बाहर जमा हो गए। डीसी नगर परिषद ने हाल ही में आपातकालीन पुलिस सुधारों को पारित किया था जिसमें पुलिस को ड्यूटी करते समय बॉडी कैम पहनने की आवश्यकता थी और गोलीबारी के बाद परिवार के सदस्यों और पीड़ितों को एक दिन के भीतर और पांच दिनों के भीतर जनता को फुटेज साझा करने के लिए एमपीडी की आवश्यकता है।

Black lives matter | George Floyd Death

मई महीने में जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद डीसी में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन और पुलिस हिंसा और गोलीबारी के ख़िलाफ़ प्रदर्शन के बाद इस नियम को लागू किया गया था।

साभार- न्यूज़क्लिक

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में News Click

यह आलेख मूलतः न्यूज़क्लिक पर प्रकाशित हुआ था। न्यूज़क्लिक पर प्रकाशित लेख का किंचित् संपादित रूप साभार।

Check Also

shahnawaz alam

ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर सर्वे : मीडिया और न्यायपालिका के सांप्रदायिक हिस्से के गठजोड़ से देश का माहौल बिगाड़ने की हो रही है कोशिश

फव्वारे के टूटे हुए पत्थर को शिवलिंग बता कर अफवाह फैलायी जा रही है- शाहनवाज़ …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.