Home » समाचार » देश » Corona virus In India » उत्तर प्रदेश में कोरोना की स्थिति भयावह, स्थिति कंट्रोल करने में सरकार फेल
yogi adityanath

उत्तर प्रदेश में कोरोना की स्थिति भयावह, स्थिति कंट्रोल करने में सरकार फेल

सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी ने दुर्व्यवस्था पर उठाए सवाल

सरकार कोरोना महामारी की भयावहता को छुपा रही है

सर्वदलीय बैठक में सरकार को कांग्रेस ने घेरा, सराहना करने की अफवाह न फैलाये सरकार

अपने मिया मुंह मिठ्ठु बन रही है योगी सरकार, झूठे प्रचार बर्दाश्त नहीं

लखनऊ, 12 अप्रैल 2021। यूपी सरकार द्वारा आयोजित सर्वदलीय बैठक में प्रदेश में कोरोना महामारी में फैली दुर्व्यवस्था (Corona virus In India) पर कांग्रेस पार्टी ने कड़े सवाल उठाए हैं। बैठक में कांग्रेस की तरफ से प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी शामिल हुए।

बैठक के बाद जारी बयान में प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी ने कहा कि पूरे प्रदेश में भयानक रूप से कोरोना महामारी फैली हुई है। मरीजों को इलाज नहीं मिल रहा है। कोरोना की जांच में भयानक अनियमितताओं को देखा जा रहा है। सरकार कोरोना के चलते हो रही मौतों को छिपा रही है।

जारी प्रेस विज्ञप्ति में विधायक व प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी ने कहा कि लखनऊ जैसे महानगर में जो हो रहा वह सबके सामने है। शवदाह स्थल पर लम्बी-लम्बी कतारें लग रही हैं। टोकन लेकर लोग सुबह से शवदाह के लिए इंतज़ार करते हैं। इस महामारी में सरकार जनता से मजाक न करे।

उपाध्यक्ष सुहेल अंसारी ने कहा कि सरकार सिर्फ प्रचार में लगी हुई है। कोरोना में स्वास्थ्य विभाग का प्रबंधन कैसे करना है इस पर गम्भीर नहीं है।

उन्होंने कहा कि सरकार अपने मिया मुंह मिठ्ठु न बने। हमने बैठक में सरकार को घेरा है और कड़े सवाल उठाए हैं। सरकार की तरफ से विपक्ष द्वारा कथित सराहना की अफवाह फैलाई जा रही है।

प्रदेश उपाध्यक्ष सुहेल अख्तर अंसारी ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक है कि सरकार अपनी आलोचनाओं को भी सराहना करार दे रही है।

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ को नाम बदल देने का प्रिय शगल है। इस बात की संभावना है कि सरकार की आलोचनाओं और कमजोरियों को योगी आदित्यनाथ की सरकार सराहना समझती हो।

उन्होंने कहा कि हम इस महामारी में हर सहयोग के लिए तैयार हैं, प्रतिबद्ध हैं। लेकिन सरकार इस महामारी को गंभीरता से ले, कोरोना का टीकाकरण सुनिश्चित करे, सूचनाओं को छिपाये नहीं। सरकार अपनी जिम्मेदारी और जबाबदेही से भाग नहीं सकती है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Women's Health

गर्भावस्था में क्या खाएं, न्यूट्रिशनिस्ट से जानिए

Know from nutritionist what to eat during pregnancy गर्भवती महिलाओं को खानपान का विशेष ध्यान …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.