Home » Latest » क्या सपा ने सलीम शेरवानी को निपटा दिया है ?
Saleem Shervani

क्या सपा ने सलीम शेरवानी को निपटा दिया है ?

बदायूँ, 07 फरवरी 2021. क्या समाजवादी पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री सलीम इकबाल शेरवानी को निपटा दिया है ?

यह चर्चा राजनीति के गलियारों में आम है। दरअसल सलीम शेरवानी हाल ही में देश बचाने के लिए समाजवादी पार्टी में शामिल हुए हैं। वह पहले भी सपा में रहे हैं और केंद्र में मंत्री भी सपा से रहे हैं, लेकिन इसे उनकी सपा में घर वापसी नहीं कहा जा सकता है।

फिलहाल मसला यह है कि श्री शेरवानी के अधिक नजदीकी समझे जाने वाले और गुन्नौर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके पीयूष रंजन यादव की एक फेसबुक पोस्ट से इन कयासों को बल मिला है कि शेरवानी साहब का काम लग गया है।

दरअसल पीयूष रंजन यादव ने बदायूँ में समाजवादी पार्टी की मासिक बैठक का एक चित्र पोस्ट करते हुए टिप्पणी की कि,

“लगता है समाजवादी पार्टी ने अभी भी श्री सलीम इकबाल शेरवानी साहब को सदस्यता नहीं दी है….

मासिक बैठक समाजवादी पार्टी बदायूं।“

दरअसल चित्र में कहीं भी शेरवानी ढूंढने पर भी नहीं पाए जा रहे हैं।

अब यह आम चर्चा है कि शेरवानी पहले भी कभी सपा की मासिक बैठकों में शामिल नहीं हुए और न किसी आंदोलन में शामिल हुए जब वे केंद्र में मंत्री और सांसद हुआ करते थे। हाल ही में किसानों के समर्थन में हुए सपा के कार्यक्रमों में भी शेरवानी कहीं दिखाई नहीं पड़े, पता नहीं कहां देश बचा रहे हैं ?

90 के दशक के उत्तरार्द्ध में बबराला में टाटा फर्टिलाइजर्स के विरोध में हुए आंदोलन में शेरवानी की अनुपस्थिति पर तो आंवला से सपा सांसद रहे कुंवर सर्वराज सिंह ने उस समय पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में सीधे सवाल कर दिया था कि शेरवानी पार्टी के आंदोलनों में दिखाई क्यों नहीं देते हैं।

लगता है समाजवादी पार्टी ने अभी भी श्री सलीम इकबाल शेरवानी साहब को सदस्यता नहीं दी है….
मासिक बैठक समाजवादी पार्टी बदायूं।

Posted by Piyush Ranjan Yadav on Saturday, February 6, 2021

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

shahnawaz alam

अदालतों का राजनीतिक दुरुपयोग लोकतंत्र को कमज़ोर कर रहा है

Political abuse of courts is undermining democracy असलम भूरा केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.