हाथरस कांड पर सीबीआई चार्जशीट : प्रियंका गांधी ने कहा कि सत्य की जीत हुई

हाथरस कांड पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का व्यक्त-आला अधिकारियों व नौकरशाहों ने खुलेआम बलात्कार न होने को प्रचारित किया, पीड़ित परिवार को धमकी दी गई एवं पीड़िता को बदनाम करने की कोशिश की गई।

CBI charge sheet on Hathras scandal: Priyanka Gandhi said that truth won

हाथरस कांड पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का व्यक्त

सीबीआई ने आरोपियों पर दाखिल किया चार्जशीट

कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी द्वारा जारी वक्तव्य का हिंदी अनुवाद- Hindi translation of the statement issued by Congress General Secretary, Mrs Priyanka Gandhi

एक बार आज पुनः सत्य की जीत हुई। हाथरस केस में सीबीआई द्वारा चार आरोपियों के खिलाफ दाखिल की गई चार्जशीट में साफ हुआ कि पीड़िता का भयावह गैंगरेप कर उसकी हत्या की गई थी।

चार्जशीट में सामने आए तथ्य योगी आदित्यनाथ सरकार, यूपी पुलिस, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, जिला अधिकारी हाथरस एवं सरकार के आला अफसरों के ऊपर गंभीर सवाल खड़ा करते हैं।

सत्ता पक्ष ने जीते जी एवं मरने के बाद भी पीड़िता के सम्मान पर चोट पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पीड़िता के शव को आधी रात में बिना परिवार की सहमति के जला दिया गया। आला अधिकारियों व नौकरशाहों ने खुलेआम बलात्कार न होने को प्रचारित किया, पीड़ित परिवार को धमकी दी गई एवं पीड़िता को बदनाम करने की कोशिश की गई। सच्चाई दिखाने वाले मीडिया को धमकाया गया। हालांकि, यूपी सरकार की सत्ता की पूरी ताकत व धमक सत्य को नहीं दबा सकी।

मैं 19 साल की उस लड़की की मां की पीड़ा को आज तक नहीं भूल पाई हूं। उसकी मां को अपनी बेटी को अंतिम विदाई देने से भी वंचित कर दिया गया। उसका पूरा परिवार अपनी बेटी के लिए बस न्याय मांग रहा था।

मुझे ये देखकर अच्छा लगा कि इस केस में न्याय दिलाने की दिशा में सीबीआई द्वारा एक कदम उठाया गया। मुझे आशा है कि इस मामले में पूरे साहस के साथ न्याय की आस लगाए बैठे एवं न्याय की लड़ाई लड़ रहे परिवार को कुछ राहत मिलेगी।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations