Home » Latest » राजेश सचान के खिलाफ अमर्यादित भाषा प्रयोग करने पर चैनलों को आइपीएफ ने भेजा पत्र
Rajesh Sachan राजेश सचान, युवा मंच

राजेश सचान के खिलाफ अमर्यादित भाषा प्रयोग करने पर चैनलों को आइपीएफ ने भेजा पत्र

IPF sent letter to News 24 and ABP News for using inappropriate language against Rajesh Sachan

लखनऊ, 29 जनवरी 2022: युवा मंच संयोजक राजेश सचान के बारे में पुलिस प्रशासन के हवाले से न्यूज 24 और एबीपी न्यूज में दिया गया बयान पूरी तौर अमर्यादित और आपत्तिजनक बताते हुए इसके खिलाफ आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस. आर. दारापुरी ने दोनों चैनलों के सम्पादकों को पत्र भेजकर अपनी आपत्ति दर्ज की है और उनसे मांग की है कि एकतरफा पुलिस प्रशासन के वक्तव्य को दिखाने की जगह हमारे पक्ष को भी दिखाए और राजेश सचान के लिए प्रयोग की गई अमर्यादित भाषा पर माफी मांगें।

दारापुरी ने पत्र में कहा कि यदि यह नहीं करते तो हमें इसके विरूद्ध नेशनल ब्राडकास्टिंग एसोसिएशन में कार्यवाही करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

पत्र में कहा गया है कि युवा मंच प्रयागराज में युवाओं का लोकप्रिय संगठन है। विगत 4 माह तक प्रदेश में रिक्त 5 लाख पदों को भरने और गरिमामयी रोजगार के लिए प्रयागराज में युवा मंच के बैनर तले शांतिपूर्ण धरना चलाया गया था। लखनऊ में भी विभिन्न युवा संगठनों के साथ मिलकर ईको गार्डन में रोजगार के सवाल पर धरना दिया गया था। आपको अवगत करा दें कि राजेश सचान मोतीलाल नेहरू इंजीनियरिंग के छात्र रहे हैं और इलाहाबाद विश्वविद्यालय से उन्होंने एमए किया है, वह आइसा के छात्रनेता थे। इस समय वह युवा मंच के संयोजक हैं।

युवा मंच ने किसान आंदोलन को सक्रिय समर्थन किया। न यह संगठन किसी एनजीओ से सम्बद्ध है और न ही कही से फंडेड है। राजेश सचान का विगत 25 वर्षों का सामाजिक प्रतिबद्ध जीवन रहा है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

headlines breaking news

एक क्लिक में आज की बड़ी खबरें । 25 मई 2022 की खास खबर

ब्रेकिंग : आज भारत की टॉप हेडलाइंस Top headlines of India today. Today’s big news …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.