Home » समाचार » दुनिया » आयरलैंड चुनाव : राजनीतिक दलों ने इजरायली व्यापार पर प्रतिबंध लगाने का वादा किया
World news

आयरलैंड चुनाव : राजनीतिक दलों ने इजरायली व्यापार पर प्रतिबंध लगाने का वादा किया

Ireland Election: Political Parties Promise to Ban Israeli Trade

If the proposed legislation is passed in the Irish Parliament, it will give a big boost to the BDS movement.

यदि प्रस्तावित कानून आयरिश संसद में पारित हो जाता है तो इससे बीडीएस आंदोलन को बड़ा प्रोत्साहन मिलेगा।

आयरलैंड में दो प्रमुख दलों ने फिलिस्तीनी अधिकृत क्षेत्रों से आने वाली सभी इजरायली उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने को कहा है। आगामी चुनावों में प्रमुख पार्टियां सिन फिन और फियाना फेल ने इस अधिकृत क्षेत्र विधेयक को लागू करने का वादा किया है जो 2018 में पहली बार पेश किया गया था जिसने इजरायल की बस्तियों को अवैध बताया और सभी वाणिज्यिक गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने की मांग करता है।

इस चुनाव के लिए सिन फ़िन का घोषणापत्र भी फिलिस्तीन राज्य को मान्यता देने का वादा करता है और “अंतर्राष्ट्रीय तथा मानवाधिकार क़ानूनों के उल्लंघन के लिए इजरायल को कड़ी चुनौती देता है और इजरायल द्वारा किए गए कार्यों खुलासा करेगा।”

अगर ये विधेयक क़ानून बन जाता है तो आयरलैंड इस बस्ती में वाणिज्यिक गतिविधियों को ग़ैर क़ानूनी घोषित करने वाल पहला यूरोपीय देश बन जाएगा। यूके में कई श्रम नियंत्रित देशों ने इसी तरह के कानूनों को लागू किया है, जिसके ख़िलाफ़ बोरीश जॉनसन के अगुवाई वाली कंजरवेटिव पार्टी ने एक क़ानून पारित करने की बात कही है।

हालांकि फियाना फेल ने इस प्रस्ताव को अपने घोषणापत्र में नहीं रखा है, लेकिन इलेक्ट्रॉनिक इंटिफ़ैडा से बातचीत में इसके नेता नेल कॉलिंस ने कहा कि “हमने ऐसा करने पर ज़ोर दिया”।

सीन फ़िन (Sinn Féin) एक वामपंथी पार्टी है जो आयरलैंड गणराज्य (Republic of Ireland) और उत्तरी आयरलैंड के ब्रिटिश क्षेत्र दोनों में सक्रिय है। फियाना फेल (Fianna Fáil) एक मध्यमार्गी पार्टी है। मिडिल ईस्ट आई ने रिपोर्ट किया कि ये दोनों दल वर्तमान में क्रमशः 24% और 21% के साथ ओपिनियन पोल में आगे हैं।

आयरिश संसद डेल के लिए आम चुनावों (General election for the irish houses of parliament Dáil Éireann) के बारे में तब कहा गया जब रूढ़िवादी फाइन गेल पार्टी (Fine Gael) के नेतृत्व वाली अल्पसंख्यक सरकार ने राष्ट्रपति से इस चुनाव के लिए कहा था। 8 फरवरी को ये चुनाव होना निर्धारित है।

बायकॉट, डाइवेस्टमेंट एंड सैंक्शन (बीडीएस) मूवमेंट वेस्ट बैंक, गाजा और पूर्वी यरूशलेम के फिलिस्तीनी क्षेत्रों को मुक्त करने के लिए इस्राइल के सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक बहिष्कार के लिए अभियान चला रहा है जिस पर इसने साल 1967 से कब्जा कर रखा है।

साभार : पीपल्स डिस्पैच via न्यूज़ क्लिक

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

covid 19

दक्षिण अफ़्रीका से रिपोर्ट हुए ‘ओमिक्रोन’ कोरोना वायरस के ज़िम्मेदार हैं अमीर देश

Rich countries are responsible for ‘Omicron’ corona virus reported from South Africa जब तक दुनिया …

Leave a Reply