Home » Latest » देश का दिल किसान हैं, टिकैत के आंसू निकले तो पीएम के होठों पर हंसी थी : प्रियंका गांधी
Priyanka Gandhi Vadra

देश का दिल किसान हैं, टिकैत के आंसू निकले तो पीएम के होठों पर हंसी थी : प्रियंका गांधी

मुज़फ्फरनगर के बघरा में जय जवान जय किसान महापंचायत में उमड़ा जन समूह

हमारे प्रधानमंत्री अहंकारी राजा की तरह बन गए हैं : प्रियंका गांधी

प्रधानमंत्री की राजनीति सिर्फ उनके खरबपति पूंजीपति मित्रों के लिए है : प्रियंका गांधी

किसान खुद्दार हैं, इस लड़ाई में साथ रहूंगी गद्दारी नहीं करूंगी : प्रियंका गांधी

मुजफ्फरनगर, 20 फरवरी 2021. एक किसान महापंचायत में कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा जैसे पुरानी कहानियों में राजा-महाराजा होते थे, ऐसे ही हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हो गए हैं। दो बार प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्हें अहंकार हो गया है।

केंद्र सरकार के कृषि क़ानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन पिछले 2 महीने से भी ज्यादा समय से जारी है। इसी बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा है। मुजफ्फरनगर की एक किसान महापंचायत में प्रियंका ने कहा आज देश में किसानों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। प्रियंका ने कहा जिस तरह से इन्होंने अपने दो- तीन मित्रों को पूरा देश बेच दिया है। उसी तरह ये आपके खेतों को भी बेचना चाहते हैं।

प्रियंका गांधी ने कहा कि आंदोलन के दौरान जब किसान नेता राकेश टिकैत की आंखों में आंसू थे, तब पीएम मोदी मुस्करा रहे थे। प्रधानमंत्री ने गन्ना के बकाये के भुगतान का वादा किया था। पीएम ने किसानों की आमदनी दोगुना करने का वादा किया था। आमदनी बढ़ी क्या?

श्रीमती  गांधी ने कहा कि हर नेता को अहसास होना चाहिए की जनता उस पर अहसान करती है। मुझे इसका पूरा अहसास है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन करने वाले किसानों का अपमान किया गया। जो किसान अपने बेटों को देश की सुरक्षा के लिए सीमा पर भेजता है उन्हें अपमानित किया गया। उन्हें देशद्रोही कहा गया, उन्हें आतंकी कहा गया। पीएम मोदी जी ने पूरे संसद में किसान आंदोलन का मजाक उड़ाया, किसानों को परजीवी कहा।

उन्होंने कहा जैसे पुरानी कहानियों में राजा-महाराजा होते थे, ऐसे ही हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हो गए हैं। दो बार प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्हें अहंकार हो गया है।

प्रियंका ने कहा सरकार को किसानों का सम्मान करना चाहिए। जिन किसानों ने मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाया है, वे उनसे बात क्यों नहीं कर रहे हैं। किसानों से बात करनी चाहिए और उनकी समस्या का समाधान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इन कृषि कानूनों से सरकारी मंडिया बंद हो जाएंगी और बड़े उद्योगपतियों को इसका फायदा होगा। इन नए कानूनों से एमएसपी खत्म होगी।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी : प्रियंका ने सरकार को घेरा।

कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया कि इस सरकार के राज में महंगाई का विकास हो रहा है। प्रियंका ने सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा,

‘‘भाजपा सरकार को सप्ताह के उस दिन का नाम अच्छा दिन कर देना चाहिए जिस दिन डीजल-पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी न हो, क्योंकि महंगाई की मार के चलते बाकी दिन तो आमजनों के लिए महंगे दिन हैं।’’

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को पेट्रोल की कीमत 90 रुपये प्रति लीटर के स्तर को पार कर गई, जबकि डीजल का दाम बढ़कर 80.60 रुपये प्रति लीटर हो गया। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार 11वें दिन बढ़ोतरी की।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

paulo freire

पाओलो फ्रेयरे ने उत्पीड़ियों की मुक्ति के लिए शिक्षा में बदलाव वकालत की थी

Paulo Freire advocated a change in education for the emancipation of the oppressed. “Paulo Freire: …

Leave a Reply