रिलायंस जियो ने लॉन्च की वाई-फाई पर वॉयस और वीडियो कॉलिंग की सुविधा

JIO FURTHER REINFORCES ITS CUSTOMER-OBSESSION BY INTRODUCING VOICE & VIDEO WI-FI CALLING

बिना किसी अतिरिक्त लागत के वाई-फाई के माध्यम से क्रिस्टल क्लियर वॉयस और वीडियो कॉल करें Make crystal-clear voice and video calls through Wi-Fi at no additional cost

यह भारत में कहीं भी और किसी भी वाई-फाई पर काम करता है Works on any Wi-Fi, anywhere in India

150 से अधिक हैंडसेट मॉडल पर काम करता है

नई दिल्ली, 9 जनवरी 2020: अपने उपभोक्ताओं को बेहतरीन उत्पाद और अनुभव प्रदान करने के लिए, Jio ने आज वाई-फाई पर चलने वाली राष्ट्रव्यापी वॉयस और वीडियो कॉलिंग लॉन्च की। Jio पिछले कुछ महीनों से इस सेवा का परीक्षण कर रहा था, ताकि लॉन्च के समय हर ग्राहक को एक बेहतरीन अनुभव दिया जा सके।

कंपनी की विज्ञप्ति के अनुसार Jio Wi-Fi कॉलिंग के मुख्य बिंदु:
  1. ग्राहक Jio Wi-Fi कॉलिंग के लिए किसी भी वाई-फाई नेटवर्क का उपयोग कर सकते हैं
  2. वॉयस और वीडियो कॉल निर्बाध रूप से VoLTE और वाई-फाई के बीच स्विच-ओवर कर सकेंगी। इससे कॉलिंग के अनुभवों में सुधार होगा।
  3. Jio वाई-फाई कॉलिंग, हैंडसेट के ज्यादा बड़े इकोसिस्टम पर काम करेगा।
  4. Jio ग्राहक वाई-फाई कॉल पर भी वीडियो कॉलिंग भी कर सकेंगे।
  5. और यह सब बिना किसी अतिरिक्त लागत के।

इस सेवा के शुभारंभ पर टिप्पणी करते हुए, आकाश अंबानी, निदेशक, Jio ने कहा,

“Jio में, हम ग्राहक अनुभव को बढ़ाने या उनकी समस्याओं को हल करने के लिए लगातार नए प्रयोग कर रहे हैं। ऐसे समय में जब औसत Jio उपभोक्ता हर महीने 900 मिनट से अधिक वॉयस कॉल करता है, और उपभोक्ताओं का आधार लगातार बढ़ रहा है, Jio वाई-फाई कॉलिंग की शुरूआत हर Jio उपभोक्ता की वॉयस-कॉलिंग अनुभव को और अधिक बढ़ाएगी। जोकि भारत में पहले VoLTE नेटवर्क के साथ पहले ही उद्योग जगत के लिए एक बेंचमार्क है।”

महत्वपूर्ण जानकारी : How to activate Jio Wi-Fi calling in your handset

  • Jio Wi-Fi कॉलिंग को अपने हैंडसेट में एक्टिवेट करने के लिए Jio.com/wificalling पर विजिट करें। जहां पर एक्टिवेशन गाइड उपलब्ध है।
  • Jio Wi-Fi कॉलिंग को 7 और 16 जनवरी, 2020 के बीच पूरे भारत में एक्टिवेट कर दिया जाएगा।
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations