पत्रकार योगेश गोयल को मिलेगा हिन्दी अकादमी का अनुदान

योगेश कुमार गोयल

Journalist Yogesh Goyal to get Hindi Academy grant

नई दिल्ली, 20 फरवरी। हिन्दी अकादमी, दिल्ली द्वारा वरिष्ठ पत्रकार योगेश कुमार गोयल की पुस्तक ‘प्रदूषण मुक्त सांसें’ के प्रकाशन के लिए अनुदान दिए जाने की घोषणा की गई है।

अकादमी के सचिव डा. जीतराम भट्ट के अनुसार श्री गोयल की पुस्तक के प्रकाशन हेतु उन्हें 25 हजार रुपये की सहयोग राशि अकादमी द्वारा प्रदान की जाएगी।

करीब 190 पृष्ठों की यह पुस्तक पूर्ण रूप से पर्यावरण संरक्षण पर केन्द्रित है, जिसमें प्रदूषण के विभिन्न कारणों और उनके निवारण के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई है।

उल्लेखनीय है कि श्री गोयल की यह छठी पुस्तक है। इससे पूर्व वे नशे के दुष्प्रभावों, जीव-जंतुओं तथा समसामयिक विषयों पर पांच पुस्तकें लिख चुके हैं, जिनमें से उनकी दो पुस्तकों को प्रकाशन हेतु हरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा अनुदान प्रदान किया गया था।

योगेश गोयल विगत तीस वर्षों से साहित्य एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना उल्लेखनीय योगदान दे रहे हैं और इस दौरान देशभर के लगभग सभी प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में उनके 13 हजार से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं।

करीब 16 वर्षों तक तीन फीचर एजेंसियों का सम्पादन कर चुके श्री गोयल को अभी तक कई प्रतिष्ठित सम्मान भी प्रदान किए जा चुके हैं।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations