Home » समाचार » तकनीक व विज्ञान » पत्रकार योगेश गोयल को मिलेगा हिन्दी अकादमी का अनुदान
Yogesh Kumar Goyal योगेश कुमार गोयल वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार हैं

पत्रकार योगेश गोयल को मिलेगा हिन्दी अकादमी का अनुदान

Journalist Yogesh Goyal to get Hindi Academy grant

नई दिल्ली, 20 फरवरी। हिन्दी अकादमी, दिल्ली द्वारा वरिष्ठ पत्रकार योगेश कुमार गोयल की पुस्तक ‘प्रदूषण मुक्त सांसें’ के प्रकाशन के लिए अनुदान दिए जाने की घोषणा की गई है।

अकादमी के सचिव डा. जीतराम भट्ट के अनुसार श्री गोयल की पुस्तक के प्रकाशन हेतु उन्हें 25 हजार रुपये की सहयोग राशि अकादमी द्वारा प्रदान की जाएगी।

करीब 190 पृष्ठों की यह पुस्तक पूर्ण रूप से पर्यावरण संरक्षण पर केन्द्रित है, जिसमें प्रदूषण के विभिन्न कारणों और उनके निवारण के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई है।

उल्लेखनीय है कि श्री गोयल की यह छठी पुस्तक है। इससे पूर्व वे नशे के दुष्प्रभावों, जीव-जंतुओं तथा समसामयिक विषयों पर पांच पुस्तकें लिख चुके हैं, जिनमें से उनकी दो पुस्तकों को प्रकाशन हेतु हरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा अनुदान प्रदान किया गया था।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya

योगेश गोयल विगत तीस वर्षों से साहित्य एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना उल्लेखनीय योगदान दे रहे हैं और इस दौरान देशभर के लगभग सभी प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में उनके 13 हजार से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं।

करीब 16 वर्षों तक तीन फीचर एजेंसियों का सम्पादन कर चुके श्री गोयल को अभी तक कई प्रतिष्ठित सम्मान भी प्रदान किए जा चुके हैं।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

air pollution

ठोस ईंधन जलने से दिल्ली की हवा में 80% वोलाटाइल आर्गेनिक कंपाउंड की हिस्सेदारी

80% of volatile organic compound in Delhi air due to burning of solid fuel नई …

Leave a Reply