जस्टिस काटजू ने जस्टिस अरुण मिश्रा की मोदीभक्ति पर ली फिरकी, बोले देश का हाकिम कैसा हो? अरुण मिश्रा जैसा हो

Justice Katju took a dig at Justice Arun Mishra’s Modi devotion, said how should the regents of the country? Be like Arun Mishra

नई दिल्ली 23 फरवरी 2020. सर्वोच्च न्यायालय के अवकाशप्राप्त न्यायाधीश जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने सर्वोच्च न्यायालय के मौजूदा न्यायाधीश जस्टिस अरुण मिश्रा की मोदी-भक्ति पर फिरकी लेते हुए फिकरा कसा है – “देश का हाकिम कैसा हो? अरुण मिश्रा जैसा हो”।

बता दें कि कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि जस्टिस अरुण मिश्रा (Justice Arun Kumar Mishra) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूरदर्शी और जीनियस बताया था। जस्टिस मिश्रा ने 1,500 पुराने क़ानून ख़त्म करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और कानूनमंत्री रविशंकर प्रसाद की तारीफ़ की थी। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी विश्व स्तर पर सोचते और जमीनी स्तर पर काम करते हैं।

जस्टिस अरुण मिश्रा की मोदीभक्ति की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना हो रही है। इसी संदर्भ में जस्टिस काटजू ने उस खबर का लिंक ट्वीट किया जिसमें अरुण मिश्रा ने मोदी का स्तुतिगान किया था। फिर उन्होंने वनलाइनर मारा,

“सुप्रीम कोर्ट का जज कैसा हो,

अरुण मिश्रा जैसा हो”

एक अन्य ट्वीट में काटजू ने कहा

“देश का हाकिम कैसा हो? अरुण मिश्रा जैसा हो”

आप हस्तक्षेप के पुराने पाठक हैं। हम जानते हैं आप जैसे लोगों की वजह से दूसरी दुनिया संभव है। बहुत सी लड़ाइयाँ जीती जानी हैं, लेकिन हम उन्हें एक साथ लड़ेंगे — हम सब। Hastakshep.com आपका सामान्य समाचार आउटलेट नहीं है। हम क्लिक पर जीवित नहीं रहते हैं। हम विज्ञापन में डॉलर नहीं चाहते हैं। हम चाहते हैं कि दुनिया एक बेहतर जगह बने। लेकिन हम इसे अकेले नहीं कर सकते। हमें आपकी आवश्यकता है। यदि आप आज मदद कर सकते हैंक्योंकि हर आकार का हर उपहार मायने रखता है – कृपया। आपके समर्थन के बिना हम अस्तित्व में नहीं होंगे।

मदद करें Paytm – 9312873760

Donate online –

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations