Home » Latest » सिब्बल बोले मोदी चुनाव जीतने के लिए अपनी सारी ताकत झोंक रहे, लेकिन कोविड के लिए नहीं
Kapil Sibal

सिब्बल बोले मोदी चुनाव जीतने के लिए अपनी सारी ताकत झोंक रहे, लेकिन कोविड के लिए नहीं

मोदी चुनाव जीतने के लिए अपनी सारी ताकत झोंक रहे, लेकिन कोविड के लिए नहीं : सिब्बल

नई दिल्ली, 20 अप्रैल. कोरोना की दूसरी लहर के बीच देश में कोविड के बढ़ते मामलों पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।

कपिल सिब्बल ने कहा है कि प्रधानमंत्री चुनाव जीतने के लिए अपनी सभी शक्तियों का प्रयोग कर रहे हैं, लेकिन महामारी पर नियंत्रण करने के लिए वे ऐसा नहीं कर रहे हैं।

सिब्बल ने ट्वीट किया,

“मोदीजी, आप चुनाव जीतने के लिए अपनी सभी ताकत, मसल पॉवर, लंग पॉवर आदि संसाधनों का उपयोग करते हैं। हमारे लोगों के लिए कोरोनोवायरस के खिलाफ युद्ध जीतने का ऐसा ही जुनून आपमें क्यों नहीं है।”

देश में महामारी को नजरअंदाज करने और पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कांग्रेस प्रधानमंत्री की आलोचना कर रही है।

यहां तक कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा था और सुझाव दिया था कि टीकाकरण को बढ़ाना चाहिए। इस बीच सरकार ने सोमवार को 1 मई से 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों के लिए टीका को मंजूरी दे दी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में सोमवार को 2,73,810 नये मामले सामने आये हैं। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसी के साथ देश में कुल कोरोना मामलों की संख्या 1.5 करोड़ पहुंच गई है।

यह लगातार पांचवां दिन है जब देश में दो लाख से ज्यादा कोविड के मामले दर्ज किये गये हैं, जिसके बाद देश में कुल मामले 1,50,61,919 हो गये हैं। भारत में रविवार को 2,61,500 नए मामले दर्ज किए, शनिवार को 2,34,692 मामले, गुरुवार और शुक्रवार को क्रमश: 2,00,739 और 2,17,353 मामले दर्ज किए गए।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

political prisoner

“जय भीम” : जनसंघर्षों से ध्यान भटकाने का एक प्रयास

“जय भीम” फ़िल्म देख कर कम्युनिस्ट लोट-पोट क्यों हो रहे हैं? “जय भीम” फ़िल्म आजकल …

Leave a Reply