Home » Latest » जानिए ड्रग मामले में पकड़ी गईं भाजपा नेत्री पामेला गोस्वामी आखिर कौन हैं
pamela goswami

जानिए ड्रग मामले में पकड़ी गईं भाजपा नेत्री पामेला गोस्वामी आखिर कौन हैं

Know who is the BJP leader Pamela Goswami caught in the drug case

नई दिल्ली, 20 फरवरी 2021. पश्चिम बंगाल भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) की सचिव पामेला गोस्वामी (Pamela Goswami), जिन्हें एक अन्य के साथ कोलकाता में कोकीन रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, एक पूर्व मॉडल हैं, जो जुलाई 2019 में भगवा ब्रिगेड में शामिल हुई थी।

पामेला गोस्वामी भाजपा में दिलीप घोष की उपस्थिति में शामिल हुई थीं

पामेला गोस्वामी पश्चिम बंगाल इकाई के प्रमुख दिलीप घोष की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुई थीं। बंगाली फिल्म और टेलीविजन अभिनेत्री रिमझिम मित्रा और अभिनेता सुरोजीत चौधरी भी उनके साथ भाजपा में शामिल हुए थे।

आगे चलकर, पामेला को बीजेवाईएम की पश्चिम बंगाल इकाई का सचिव नियुक्त किया और माना जाता है कि यह पार्टी गतिविधियों में बहुत सक्रिय थीं।

1 फरवरी को, उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट किया,

“एक दोपहर एक आदिवासी परिवार के साथ बिताया। उनके साथ बातचीत की, उन्होंने अपनी समस्याओं को साझा किया, हमने इसमें से एक संभावित समाधान प्रदान किया।”

उनके सोशल मीडिया पोस्ट सभी महत्वपूर्ण घटनाओं या कार्यक्रमों में उनकी उपस्थिति को दर्शाते हैं। उनके पोस्ट से यह भी पता चलता है कि वह कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के अवसर पर आयोजित ‘पराक्रम दिवस समारोह’ में शामिल हुई थीं।

पामेला गोस्वामी ने सोशल मीडिया पर अपनी राजनीतिक राय व्यक्त करने में संकोच नहीं किया।

उन्होंने दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन पर अंतर्राष्ट्रीय पॉप स्टार रिहाना के ट्वीट पर टिप्पणी की थी। फेसबुक पोस्ट में उन्होंने कहा था,

“पर्याप्त जानकारी और ज्ञान के बिना भारत के आंतरिक मुद्दों के बारे में बोलने से बचें। असली किसान ऐसे आतंकवादी से शर्मिदा हैं, बिचौलिए जो किसानों को इन सब से वंचित करते हैं।”

उन्होंने मिया खलीफा को वैश्विक नेता नरेन्द्र मोदी की छवि बिगाड़ने के लिए आईएसआई द्वारा हायर की गई एजेंट कहा था।

पामेला ने कहा था कि,

“वे किसान नहीं बल्कि आतंकवादी हैं जो भारत को विभाजित करने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि चीन हमारे कमजोर टूटे हुए राष्ट्र पर कब्जा कर सके और इसे चीनी कॉलोनी बना सके।”

Restrain speaking from the internal issues within the territory of India without sufficient informations and knowledge!…

Posted by Pamela Goswami on Wednesday, February 3, 2021

An afternoon spent with a tribal family! Interacted with them, they shared their problems, we provided a possible…

Posted by Pamela Goswami on Monday, February 1, 2021
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Science news

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस : भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

National Science Day: a celebration of the progress of Indian science इतिहास में आज का …

Leave a Reply